हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी वीडियो

छवि स्रोत,देसी देसी ना बोला कर छोरी रे

तस्वीर का शीर्षक ,

रंडी की वीडियो: हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी वीडियो, चंडीगढ़ तो भरा पड़ा है काल गर्ल्स से … एक से एक कॉलेज गर्ल्स, वर्किंग गर्ल्स मिल जाती हैं वहां तो इस काम के लिए!मुझे बहुत हैरानी हुई कि मौसी को इतना सब कुछ पता है … लेकिन इस बात पे बहुत गुस्सा आया.

ओल्ड सेक्सी फिल्म

हम दोनों मैडम की चूची पीने लगे एक साथ और मैडम हम दोनों का लंड हाथों से हिलाने लगी. असली शिलाजीतएक बार वो रवि के साथ मूवी हॉल में बहक भी गयी तो रवि ने उसकी चूत में उंगली कर दी थी और दीपा को अपना लंड पकड़वा दिया था.

अपनी चुत का सारा ज्वार उगलने के बाद प्रिया निढाल होकर बिस्तर पर धम्म से गिर गयी और लम्बी लम्बी सांसें लेने लगी. राजधानी नाईट का चार्ट दिखाएंमैं थकान के कारण नींद में ऊंघने लगी और इस वजह से मैं संतोष की गोद में सो गई.

ऑटो में बैठते समय उसने बार के सुरक्षा कर्मी को बोल दिया कि भैया बाइक इधर रहने दो, कल सुबह लेकर जाएंगे.हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी वीडियो: अपनी नाक चुत के अन्दर डाल कर उसकी सुगंध लेते हुए जीभ को मेरी चुत की दरारों पर फिराया.

उसने बोला- सेक्स दो जिस्मों का मिलन है, ये मिलन, मेल (नर) मेल के बीच हो, मेल फीमेल (मादा) के बीच, या फिर फीमेल फीमेल के बीच.मुझसे भाभी ने कहा- मैंने तुझसे कहा था ना कि तेल लगा कर धीरे धीरे घुसाना.

योनि कितने प्रकार के होते हैं - हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी वीडियो

कुछ बीस मिनट बाद मेरा लंड झड़ने को हुआ, तो मैंने उससे कहा कि मैं निकल रहा हूँ.बिल्कुल मलाई कोफ्ता या रसमलाई के जैसी नर्म गर्म रसीली चूत थी कम्मो रानी की.

फिर उसने एक झटके से मेरी ब्रा को मेरे चूचों से अलग कर दिया और मेरे एक दूध को मुँह में लेकर गपागप चूसने लगा. हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी वीडियो पहले तो आप लोगों का बहुत शुक्रिया, जिन्होंने मेरी पिछली सेक्स कहानीदोस्त की मम्मी को चोदापढ़ी और सराहना की.

मेरा काम खुद उसको संतुष्ट करना था और उसके लिए नई नई लौंडियां ढूँढ कर लाने का हो गया था.

हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी वीडियो?

जब मेरा चचेरा भाई मेरी चूत में उंगली कर रहा था तो मुझे बहुत मजा आ रहा था और मैं बिल्कुल पागल सी होने लगी थी. मैं- तेरी बड़ी बेटी आशना की चुत दिलवाएगी?परवीन- साले मादरचोद, मेरी बेटी के ऊपर भी नज़र डाल रखी है. थोड़ी देर बाद मौसी मेरे माथे पे किस करते हुए मुझे थैंक्स बोलने लगीं और उन्होंने कहा कि आज तक तुम्हारे मौसा ने मुझे ऐसा सुख नहीं दिया समीर … आज से तुम ही मेरे असली पति हो.

उसने मुझसे सीधे साफ़ साफ़ शब्दों में पूछा- तो आकाश … तुम तैयार हो अपनी बहन को चुदवाने के लिए?मुझे बहुत गुस्सा आया, लेकिन मैंने हां में सर हिला दिया. फिर रोज़ शाम को मेसेज और बातें होने लगी। अब बातें सेक्स चैटिंग में भी बदल चुकी थी और होते होते हम दोनों बहुत उत्तेजित हो जाते और रात भर एक दूसरे को साथ सोचते हुए खुद को शांत करने लगे थे।मेरा तो हाल बहुत बुरा था। सुहानी जैसी लड़की साथ होते हुए भी मुझे मुट्ठ मारकर खुद की आग बुझानी पड़ती थी।यह बात मैंने सुहानी को बताई तो सुहानी बोली- ठीक है, एक काम करो, कोचिंग के बाद कभी कभी शाम को हम मिलते हैं. उसकी वासना बढ़ चुकी थी … बोली- अशोक हये … अब नहीं रहा जा रहा डाल दो इस हब्शी लंड को मेरी चूत में.

तब मैंने सोचा कि क्यों ना मैं ही पहल करके अपने आप को और संजना को इस मुसीबत से निकाल दूं. पर फिर भी रवि कि जिद पर उसे रवि का लंड चूसना पड़ा और रवि ने उसके मम्मे चूसे. वे देखते रहे, बोले- कब तक करोगे?मैंने कहा- आप दोनों नहा लें, तब में नहाऊंगा.

जिस कमरे में वे गए हुए थे, उसकी खिड़की से मुझे अन्दर का नजारा साफ़ दिख रहा था. उसने धीरज के लंड को मुँह में ले लिया और चाट चाट कर उसे साफ़ कर दिया.

जैसे तैसे जोर लगा कर मामाजी ने मेरी गांड में डाला और मेरे ही ऊपर पसर गए.

रोहन- मुझे यक़ीन नहीं हो रहा कि मिसेज़ ब्यूटीफुल मेरा इंतज़ार कर थीं … मैं तो धन्य हो गया.

मैंने पहली उसकी चूत पर अपनी उंगलियां फिराईं और फिर उसकी चूत में दो उंगलियां डाल कर आगे पीछे करने लगा. मैं अब दिन रात बस हिना आंटी के बारे में सोच रहा था कि मैं उनकी चुत कैसे चोदूं. मैंने अपने सभी जगह के बाल साफ़ किये और बिल्कुल तैयार होकर घर में थी.

मैं उनकी इस बात से पूरी तरह से सहमत था कि चुदाई सिर्फ लंड चूत की नहीं होती हैं. पूजा- वैसे अगर मैं सच बोल रही होती तो भी कौन सा तुम किसी को बुला सकते थे?मैं- पूजा, मेरी नज़र में एक आदमी है जिसके साथ हम सुरक्षित हैं. फिर भाई ने अपने हाथ से मेरी चूत को दबोच लिया और दूसरी ओर दिव्या की चूत में अपना लंड घुसा दिया.

इस वक्त उसने टी-शर्ट और जीन्स पहनी थी, तो पहले तो मैंने उससे कहा कि अपनी टी-शर्ट उतार दो.

अब राहुल ने शबनम को कॉटेज की मुंडेर के पास हाथों का सहारा लेकर घोड़ी बनाया और उसका टॉवल सरका कर पीछे से अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया और पहले धीरे फिर तेजी से उसकी चूत चुदाई करने लगा. सोनिया- तुम्हारी डिस्प्ले पिक्चर में तो तुम काफी स्मार्ट दिख रहे हो. जब वो कॉफ़ी पीने के बाद वापस गई, उस वक्त तक वो मुझसे काफी प्राभावित हो गई थी.

ये सुनते ही मैं हंसने लगी और उससे बोली- मेरे भाई ने ही मेरे लिए मेरा उद्घाटनकर्ता भेज दिया. फिर हम अलग हुए और मैंने उसकी फ्रॉक और पेंटी उतार दी और हम 69 की पोजीशन में हो गए. एक रात वो बोली- गांडू तेरे और भी आशिक होंगे, इसका लंड लेकर बोर हो गई हूं … और ना मेरे को बच्चा ठहरा है.

वह सीधे उसकी आँखों में देख रहा था जब वह अपनी लंबी पतली उंगलियों से उसके बालों को सहला रही थी.

फिर वह भाभी के ऊपर चढ़ गया और धीरे धीरे उसने अपनी पत्नी की चुत में लंड पेल दिया. मैंने कहा- कोई टेंशन नहीं लो सासू माँ … अब अपने को एक हफ्ते तक कोई देखने वाला नहीं है.

हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी वीडियो तभी मसाज वाली ने मम्मी को बोला- आप बोलो तो मैं नक़ली लंड से आपकी प्यास मिटा सकती हूँ. फिर मैंने उसकी आंखें और हाथ बांध कर उसे दोबारा बेड पर पटक दिया और उसकी चूत में उंगली करने के साथ साथ उसकी चूचियों को काटने लगा। वो पागल हो रही थी.

हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी वीडियो और रहा सवाल बच्चे का तो मैं अपने स्पर्म से टेस्ट ट्यूब विधि से बाप भी बन जाऊंगा. अगर ऐसी बात है तो मैं तैयार हूँ मगर एक बार फिर से शान्त मन से दिमाग से सोचना तुम्हारे पास अगले 24 घंटे का समय है.

यह कहकर शबनम ने अंकित के सर को पकड़ और उसके होंठों को लगभग चबाते हुए चूसने लगी.

सेक्सी वीडियो अच्छा वाला हिंदी

और फिर कोई 15 मिनट के बाद स्टडी रूम का दरवाज़ा खुला …जैसे आसमान में कोई आफताब चमका हो बादलों की ओट से पूर्णिमा का चन्द्र निकल आया हो … गौरी अपनी मुंडी झुकाए हौले-हौले चलती हुई मेरी ओर आने लगी. अब रोनित बोला- अब तुम्हें एक बेडरूम सेक्स रोल का सेम्पल दिखाना होगा. मटके में से पानी भरते समय मैंने अपने लंड को आंटी की गांड पर स्पर्श किया, तो वो भी अपनी जगह से हिली नहीं और वैसे ही खड़ी रहीं.

मैंने लिखा है कि ये कहानी मेरी बुआ जी के छोटे लड़के की है, उनका एक बड़ा बेटा भी था … जो अब इस दुनिया में नहीं है. जब वो काले रंग की ब्रा पहनती है तो उसके चूचे बिल्कुल दूध जैसे सफेद दिखाई देने लगते हैं. इतनी हॉट एंड सेक्सी … कई बार उसे कहा कि बॉलीवुड में क्यूँ नहीं चली जाती … वो अगर किसी भी निर्देशक या अभिनेता को अपना हुस्न दिखाती तो वैसे ही अनगिनत फ़िल्में मिलती.

उसके भरे हुए मम्मे उसकी बाली उम्र में ही उसकी सेक्सी जवानी को बिखेरते थे.

प्रीति मेम का रंग दूध से भी गोरा था, इतना गोरा कि छूने से मैली हो जाए. सामने देखा तो एक 40-45 साल का लम्बा चौड़ा पंजाबी आदमी खड़ा था, उसने मेरे पति को पूछा तो मैं बोली- घर पर ही हैं, आप आइये।और उसको अन्दर बुला लिया. साथ ही मैंने अपनी एक उंगली उसकी चूत में भी डाल दी ताकि उसे दोनों छेदों का मजा आ सके.

वैसे ज्योति को अपने पिता के मोटे लंड को देख कर कुछ कुछ होने लगा था क्योंकि महेश का लंड समीर के लंड से बहुत बड़ा था. मम्मी बोली- मेरे विक्की, और चोद मुझे!फिर मम्मी और विक्की भैया की चुदाई पूरी रात चलती रही।पर मुझे तो नींद आने लगी थी तो मैं अपने कमरे में जाकर सो गया. उसके गालों पर चूमते हुए धीरे धीरे मैं उसके होंठों पर आ गया और उसके रसीले होंठों को मुँह में भर कर चूसना शुरू‌ कर दिया, जिसका नेहा अब कोई विरोध नहीं कर रही थी.

मैंने एक आँख मूंदकर उसे पूछा- बाकी यानि?मेरे ये सवाल पूछने पर वो बिदक गयी- ओ साहब … कुछ ऐसा वैसा न समझना … हां बता दिया. तुम खुद बात करना, ठीक लगे तो ही आगे सोचेंगे!उधर मैंने दूसरी तरफ राजवीर को बता दिया था कि पूजा राजी है लेकिन पहले वो तुमसे बात करना चाहती है!कुछ समय बातों का सिलसिला चला हेंग आउट्स पर … वॉइस कॉल हुई दोनों में … और फिर वो दिन भी आ गया जब राजवीर किसी काम से देहली आये हुए थे.

मेरी आदत है कि मैं स्तन को बहुत देर तक और मुँह के अन्दर तक लेकर चूसता हूँ. वहां जाकर उसके जिस्म से छेड़छाड़ करना, अगर वो कुछ नहीं कहे तो उसके कपड़ों के अन्दर भी हाथ मारना. ’प्रीति मेम शरमाते हुए बोलीं- अन्दर आने को नहीं बोलोगे?मैंने कहा- सॉरी मेम अन्दर आ जाइए.

फिर मैंने समीरा से कहा- तू मुझे ये सब मम्मी पापा को ना बताने के लिए क्या देगी?उसने बोला- मैं पैसे दे सकती हूँ, मेरी किसी सहेली से आपकी सैटिंग करा सकती हूं.

तभी उसने अपने हाथ कंप्यूटर टेबल से से हटाए और की-बोर्ड पर झुक कर कुछ टाइप करने लगी. कुछ दिनों के बाद पापा का भी स्वर्गवास हो गया, तो भैया ने मुझे अपने पास ही रहने के लिए पटना बुला लिया. प्रिया की मम्मी के उठने का भी समय हो गया था … इसलिये मैं अब उसके पीछे नहीं गया और बेडशीट को बिछाकर फिर से सो गया.

फिर शालिनी ने मुझे कड़े शब्दों में कहा कि जल्दी करो नहीं तो बच्चे आ जायेंगे।मैं उसकी बात को नजरअंदाज करता रहा और काफी देर उसे ऐसे ही चोदता रहा. फिर मेरी बीवी ने अपनी पेंटी को एक साइड से सरकाया और अपनी नंगी चुत को खोल कर मेरे मुँह पर रख दिया.

तीसरी बार वे दोनों नहीं माने और उन्होंने अपना माल मम्मी की चूत और गांड में ही छोड़ा. भाभी मस्ती से चूचों की रगड़ाई का मजा लेते हुए मस्ती में आवाजें निकाल रही थीं. मैंने देखा कि कुंवर साहब अपना लंड हिला हिला कर मेरे नाम से मुठ मार रहे थे.

सेक्सी वीडियो विद ऑडियो

एक बार अपने ससुर के लंड की सवारी करते हुए और दूसरी बार उल्टी कुतिया की तरह अपने ससुर से चुदवाते हुए।दोनों बुरी तरह से थक चुके थे और दोनों एक दूसरे से अलग होकर बेड पर लेटकर हांफ रहे थे।पिता जी, आपने दो बार मेरी चूत में अपना वीर्य गिराया है, मुझे तो डर लग रहा है कि कहीं मैं आपके बच्चे की माँ न बन जाऊं क्योंकि आपका वीर्य सीधा मेरी बच्चेदानी में गिरा है.

साईट-सीइंग के बाद हम सभी एक इटालियन रेस्तरां में बैठे थे कि वेरोनिका की बहन का फोन आ गया. सासू माँ ने कहा- इनकी उम्र 70 साल की हो गई है, पर लगते हैं क्या ये 70 के?मैं हमारे बड़े कुंवर साहब के बारे में आप सभी को बता देती हूँ. मैंने मौसी की टांगें उठाईं और लंड पे थूक लगा कर चूत पर सुपारा सैट किया.

तो सीक्रेट रहेगा ना हमको?”मैंने कहा- जी हां, बिल्कुल सिक्रेट होता है ये सब!क्या आप आ सकते हैं?”जी हां मैं आ सकता हूं. मैंने उससे पूछा- तेरा मरद क्या करता है?तो उसने हंस कर कहा- कुछ नहीं. ला से लड़कों के नामउससे नजर बचा कर मैंने चुपके से अपने अंडरवियर से पांच सौ रुपये के चार नोट निकाल लिये और उनको अपने अंडरवियर की इलास्टिक में दबा लिया.

मैंने बस अपने तरीके से उसके मुंह को चोद कर छोड़ा और फिर तैयार हो गया।मैंने सोच लिया था कि अबकी बार लम्बी पारी खेलनी है. थोड़ी देर बाद मैंने फिर से मेरा लंड अमायरा के मुँह में दिया, तो लंड सलामी देने लगा.

अगले दिन मैं जब वहां गई, तो वो पहले से ही नंगे ही पलंग पे पड़े अपना लंड हिला रहे थे. वो- तुम्हें पता है मैंने क्यों मना किया?मैं- मुझे कैसे पता होगा?वो- तो तुम रुके क्यों?मैं- क्योंकि तुमने कहा था … तुमको कुछ दिक्कत है क्या?वो- वो … वो … पार्थ सुनो न … मेरे अभी पीरियड्स चल रहे हैं. मतलब साफ शब्दों में वो मेरी नर्म गांड के अंदर अपना रस निकालना चाहता था।मैं आज अलग ही उत्साह में था, जल्दी से नहा धोकर तैयार हो गया। बॉथरूम में ही अपने बालों की बलि चढ़ा दी और गांड पर क्रीम लगाई जिससे वो सॉफ्ट बनी रहे। फिर हम दोनों सिटी के पयागीपुर चौराहे पर मिले, उसने मुझे पिक किया।मैंने उससे जगह के बारे में पूछा तो उसने कहा- अभी तय नहीं किया।मैं थोड़ा आश्चर्यचकित हुआ.

आलिया मुझे देखकर भागने लगी और मैं अपना फोन सोफे पर रखकर उसको पकड़ने के लिए पीछे भागने लगा. करीब एक घंटे बाद फिर हम दोनों एक दूसरे को चोदने की तैयारी करने लगे. तब मैंने पूजा की गांड को छोड़ दिया और उसकी चुत के मुहाने से अपने लंड का सुपारा लगा दिया.

अतः आनन-फानन में हम दोनों की शादी हुई।श्लोक- वाह यार नील, बिना देखे भी तुम्हारी किस्मत तो चमक गई.

मैं सोनी के ऊपर ही लेट गया और उसकी गर्दन होंठों और गालों को चूमने लगा. कुछ देर बाद उसे भी मेरे साथ साथ अपनी चुदाई का मजा आ रहा था और उस पूरे रूम में चुदाई की आवाजें और महक फैल रही थी.

उसकी गांड पर थूक लगाने के बाद मैंने अपने लंड को उसकी गांड के छेद पर लगा दिया. इतने में संजय पीछे से हंसते हुए बोला- बंदोबस्त ठीक है ना … या कुछ और चाहिए?मैं भी अब तक थोड़ा कम्फ़र्टेबल हो गया था और बोला- नहीं नहीं बहुत है … लेकिन दरवाज़ा बंद करना पड़ेगा. और एक बात आपसे और कहना चाहती हूं कि मेरी फ्रेंड को 2 लोगों के साथ चुदना है.

ये सुनकर वो हंस पड़ी- तुम्हारी गर्लफ्रेंड तो तुमसे भी ज्यादा सेक्सी बात करती है बाबू. तब मैंने कहा- अगर सब जानती समझती हो तो बताओ जब ये स्टोरी पढ़ती हो तो कैसा लगता है?वो हंस कर बोली- अच्छा लगता है. हमारे ऑफिस में कई लोग दूसरी कम्पनियों के भी आते थे, जिनका काम हम लोगों से रहता था.

हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी वीडियो मैंने बिना कुछ कहे प्रीति को उठा कर अपनी गोद में घसीटा और उसके लिपस्टिक से रंगे होंठ बिना लिपस्टिक के कर दिए. चुदाई हो जाने के बाद वो मुझसे बोली- जिस दिन तुम मुझे पहली बार दिखे थे, मेरा दिल तुम पर आ गया था.

अश्लील चुटकुले

तभी अचानक मैंने मेरी बहन में कुछ ऐसे बदलाव देखे, जिससे मुझे बहुत अजीब लगने लगा. वो उत्तेजना में कभी अपनी जांघें खोल देती, कभी मेरे हाथ को अपनी जांघों में दबा लेती. चूंकि मैं अपने ब्वॉयफ्रेंड के लंड को भी चूसती थी इसलिए चाचा के लंड को चूसने में मुझे कोई परेशानी नहीं हो रही थी.

शाम को उन्होंने मुझे रुकने का कह दिया क्योंकि एक कस्टमर के साथ मीटिंग थी. अगर वो जग जाती और मुझे अपने बड़े भाई के साथ सेक्स करते हुए देख लेती, तो हम दोनों की दोस्ती खत्म हो सकती थी. ट्रिपल सेक्सी ट्रिपल सेक्सीतब संतोष मैडम के पास गया और बोला- इतनी जल्दी कहां चलीं डियर डार्लिंग … मजे तो ले लेने दो … अभी तो आपकी गांड भी मारनी बाकी है.

कुछ देर बाद भाभी के बच्चे के रोने की आवाज आई तो भाभी नंगी ही नीचे जाने लगीं.

मैं हैरान हो गया, भाभीजी ने पूरा मेकअप कर रखा था और साथ में लहंगा चोली पहना हुआ था. जब औरतों को मरवाने के लिए भगवान ने चूत दी है तो गांड क्यों मरवाई जाए?तब मैंने पूजा से बोला- अच्छा छोड़ो और एक छोटी सी कहानी सुनो.

वे बोले- अमित, चल मैं तुझे घर पर छोड़ देता हूं।रास्ते में एक दुकान पर से मुझे चॉकलेट दिलाई. हर मिनट 1 घंटे की तरह महसूस हो रहा थासोनिया- मैं सोच रही थी कि तुम मुझे कॉल करोगे या कम से कम मैसेज तो करोगे, लेकिन तुमने कुछ भी नहीं किया. दादाजी बोले- तू मोबाईल कहाँ रखेगी … तेरे घर वाले पूछेंगे कि किसने दिलाया, तो क्या बोलेगी.

फिर मैं उसे आगे पीछे करने लगी। सच में मुझे ऐसा फील हो रहा था कि मैं दूसरी दुनिया में आ गयी हूँ।मेरी चूत पानी छोड़ने लगी थी तो चूत काफी चिकनी हो गयी थी और नकली लंड भी पूरा गीला हो गया था।और मेरा 15 मिनट बाद पानी निकल गया और आज काफी ज्यादा पानी निकला था.

अब आगे …रात होते ही महेश अपनी बहू के कमरे में घुसकर उसकी शानदार चुदाई करता। समीर भी इसी तरह रोज़ अपनी बहन को चोदता था।आज सुबह समीर के जाने के बाद नीलम घर का काम काज करने में व्यस्त हो गई। महेश ने आज अपनी बेटी को चोदने का पूरा मन बना लिया था क्योंकि पिछले 2 दिनों से उसका लंड उसकी बेटी की चूत की चुदाई करने का भूखा था. मैंने सोचा था कि संजना ने इस बार कुछ नया तरीका सोच रखा होगा चुदाई का!कहानी जारी रहेगी. कोई नहीं, तो अब तुम बता दो‌ कि प्यार कैसे करते हैं?” मैंने हंसते हुए कहा और प्रिया को फिर से अपने ऊपर खींच लिया.

राजस्थानी न्यू सेक्सी वीडियोइसलिए अब मुझे उन्हें अपनी भार्या यानि पत्नी के रूप में ही सम्बोधित करना चाहिए. उसने अंकित को धीरे से धकेल दिया और एक शर्मीले लेकिन वासनापूर्ण तरीके से अपना कुर्ता पकड़ कर ऊपर की तरफ खींचने लगी.

नोट खोल सेक्सी

फिर मैंने उसकी आंखें और हाथ बांध कर उसे दोबारा बेड पर पटक दिया और उसकी चूत में उंगली करने के साथ साथ उसकी चूचियों को काटने लगा। वो पागल हो रही थी. उस दिन एक बजे तक हम दोनों ने तीन बार सेक्स किया, फिर वो अपने कपड़े पहन कर चली गई. आधे घंटे की जोरदार चुदाई के बाद हम दोनों झड़ गए और एक दूसरे की बांहों में लेट गए.

उसकी गांड पर थूक लगाने के बाद मैंने अपने लंड को उसकी गांड के छेद पर लगा दिया. मेरी पैंटी मॉडर्न पैंटी थी, जिससे मेरी गांड तो पूरी बाहर ही दिखाई दे रही थी. मुझे अनीता की गांड की चुदाई चस्का लग गया था लेकिन मौका नहीं लग पा रहा था.

”आपते लिए नाश्ता बना दूं?”नहीं रहने दो गौरी! अब भूख नहीं है। मैं ऑफिस में ही कुछ खा लूँगा. मैंने अपनी‌ कमर के ऊपर के हिस्से को अपने हाथों के सहारे ऊपर उठा लिया और अपनी पूरी तेजी व पूरी ताकत से धक्के लगाने लगा. तरस आता भी क्यों नहीं … वो थी ही गजब की माल … उसका साइज़ तो पता नहीं … क्योंकि मुझे आंखों से साइज़ मापना नहीं आता, पर उसकी मोटी गांड और मोटी चुचियां दिखने में बड़ी जबरदस्त थीं.

अतः आनन-फानन में हम दोनों की शादी हुई।श्लोक- वाह यार नील, बिना देखे भी तुम्हारी किस्मत तो चमक गई. मैं जब भी अपनी सहेली के घर जाती थी, तो उसके बड़े भैया मुझसे बहुत बात करते थे.

कुछ देर के बाद मैंने उठा कर अपने आपको फ्रेश किया और अपने कपड़े पहन कर घर आने लगी.

फिर अपने एक हाथ से मैंने उसके लोवर के ऊपर से ही उसकी जांघों पर फिराना शुरू कर दिया. हिंदी इंग्लिश पिक्चर सेक्सीवो कुछ उदास नज़रों से मेरी तरफ़ देख कर बोला- आप मुझे ग़लत समझ रही हैं. தமிழ் xxx.villageयह देखकर मेरी आंखें फटी की फटी रह गई और मैं सवालिया नजरों से देख रहा था. उस वक्त मैं 22 साल की थी।करीब 40 मिनट बाद उन दोनों ने शराब ख़त्म कर ली तो मैंने खाना लगाया.

वो जब मेरे सामने आता था तो मैं उसकी आंखों में वासना को साफ तौर पर देख पाती थी.

वो इस वक्त मेरी चूचियों के निप्पलों को अपनी उंगलियों में दबा कर मींज रहा था. कहां जा रही हो दीदी?” ये कहते हुए उसने मुझे खींच कर अपनी गोद में बिठा लिया. अब उसका खुद की साँसों पर कोई कण्ट्रोल नहीं रह गया था … मैंने उसके मम्मों में अपना सिर घुसा दिया मैं उसके गले पर चुम्बन करता रहा और अपने एक हाथ को नीचे ले जाते हुए उसकी जाँघों के अन्दर डाल दिया।हमारे ऊपर शावर का पानी लगातार गिर रहा था और कामाग्नि में घी का काम कर रहा था.

फिर 10:30 बजे मैंने कोरमंगला के लिए एक ऑटो लिया, ज्यादा ट्रैफिक नहीं था और मैं 15 मिनट में ही वहां पहुंच गया. इस वक्त कौन आ गया?रवि जी दूसरे कमरे में थे और वो नहा चुके थे। रवि जी ने दरवाजा खोला, मुझे अभी तक नहीं पता चला कि कौन आया था।रवि जी मेरे पास आये और मुझे दूसरे कमरे में ले गए, वो बोले- फूलों वाला आया है, कमरा सजवा दूँ।मैं अब शर्म से लाल हो गयी थी. दरवाजा खुलते ही मेरी आंखें फटी की फटी रह गई क्योंकि संजना पूरी तरह से नंगी थी, उसने अपने जिस्म पर एक भी कपड़ा नहीं पहना हुआ था और ना ही उसके जिस्म पर कोई बाल दिख रहे थे.

अच्छा सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडियो

मैंने एक आँख मूंदकर उसे पूछा- बाकी यानि?मेरे ये सवाल पूछने पर वो बिदक गयी- ओ साहब … कुछ ऐसा वैसा न समझना … हां बता दिया. उस वक्त मुझे बिल्कुल भी बुरा नहीं लगा क्योंकि हम दोनों दोस्त की तरह रहते थे. मगर जैसे ही लंड हल्का सा आगे सरकता था अनीता जोर से कराह उठती थी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’वो दर्द को बर्दाश्त करने की पूरी कोशिश कर रही थी.

हमने बियर पी और फिर से उसने अपने लंड की मुठ मारी और उसको खड़ा करके दोबारा से मेरी चूत पर चढ़ाई कर दी.

फिर उसने पैरों को मेरी तरफ किया और उसका मुंह मेरी चूत की तरफ चला गया.

सबका जानने के बाद यही कहना था कि चलो ना बताओ, वैसे हमें सब पता है कि बिना चुदवाए यह कहीं होगा ही नहीं. फिर मैंने धीरे धीरे उसका पेटीकोट हटाकर उसे नीचे से भी पूरी नंगी कर दिया और उसने भी मेरे सारे कपड़े उतार दिए. नेपाली सेक्सी वीडियो देभाभी मेरे पास आईं और बोलीं- कैसी लग रही हूँ?मैंने कहा- जन्नत हो तुम.

अपने बहुत तड़पाया है मुझे, अब जब हम यहाँ तक आ गए हैं, तो आपको लगता है कि आपको ऐसे ही जाने दूंगा?बिलकुल नहीं … ऐसा मुझे नहीं लगता. जब वो मेरे निप्पल चूस रहा था, तब मैं उसके सर पर हाथ रखे हुए उसको अपना दूध पिलाने में बड़ी तसल्ली महसूस कर रही थी. बॉस ने भी अपना लंड पैंट की जिप खोल कर बाहर निकाला और पीछे से मेरी गर्म चुत से सटा दिया.

मैंने ओके कहा और भाभी जी के दोनों पैर पकड़ कर उनको बिस्तर पर चित लिटा दिया. पहले मामा जी, फिर अनिल, फिर मैं!रात को लाईट बंद कर हम सो गए, थके थे नींद आ गई।रात को मामा जी ने अनिल को करवट दिलाई, उसका चेहरा मेरी तरफ कर दिया.

बॉस के साथ ऑफिस घर और होटल, ऐसी कोई जगह नहीं बची … जहां हम दोनों ने चुदाई का मजा ना लिया हो.

वहां जाकर उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और मुझसे कहने लगा- भाभी, आप बहुत खूबसूरत हो. उसने काले रंग का टॉप और लेगिंग पहने हुए थे, जो शायद वो सुबह ही खरीद कर लायी थी. संतोष ने अपना हाथ मैडम के मुँह पर रखा और उनकी चीख को बंद करते हुए लंड को अन्दर बाहर करना चालू कर दिया.

नहाते वक्त मैंने फिर से उनके पास आकर उनकी चूत में उंगली करना शुरू किया और दो बार उनका पानी निकाल कर सो गया. रोज उसे चूत में डिल्डो डालने से मेरी चूत का छेद गोल हो चुका है जो काफी अच्छा लगता है देखने में!मेरे बूब्स का साइज़ भी 34डीडी हो गया है.

मैंने पहले भी उसे कई बार काम या हंसी मजाक के चलते छुआ था, कई बार टच भी किया था, मगर ऐसी फीलिंग मुझे इससे पहले कभी भी नहीं आई थी … जो आज आ रही थी. उसने घुटनों के बल बैठकर मेरे लंड को प्यार से सहलाया, फिर मेरी तरफ देखा. लेकिन दिल कर रहा था कि मैं चुदती ही रहूँ।करीब दस मिनट की चुदाई के बाद देव की स्पीड एकदम बढ़ गई, मैं अपने कूल्हे उठा उठा कर लंड खा रही थी.

गुरबाणी सेक्सी

अब तक धीरे धीरे मैंने उनकी पेंटी के अंदर भी किनारे से उंगलियों को डालना चालू कर दिया तो महसूस हुआ कि उनकी योनि में एक भी बाल नहीं है. अगर तुम्हारी पढ़ाई पूरी हो चुकी हो, तो मैंने तुम्हारे लिए एक जॉब अपने यहां पर रिज़र्व की हुई है. फिर मैंने दीदी के पैरों से शुरू होते हुए अपनी जीभ उनके पैरों से रगड़ते हुए ऊपर की बढ़ना शुरू किया.

आलिया- मैं चाहती हूं, जैसे फिल्मों में हीरो प्रपोज करते हैं, वैसे तुम गुलाब से मुझे प्रपोज करो. ऐसे ही करते करते मैंने भाभी को लिटा दिया और मैं भाभी की नाभि को चाटने लगा.

मगर उसने यह सब अपनी पहचान छिपा कर किया इसलिए मैं उससे थोड़ी नाराज थी.

अब जैसे ही मैंने उसके कुर्ते को उठाया उसके दोनों सफेद कबूतर मेरे सामने आ गए. कुछ देर के बाद मैंने उठा कर अपने आपको फ्रेश किया और अपने कपड़े पहन कर घर आने लगी. ” महेश ने अपनी बहू को समझाते हुए कहा।अपने ससुर की बात सुनकर नीलम शर्म के मारे कुछ नहीं बोल सकी।बेटी अब मुझे चलना चाहिए, काफी देर हो गई है.

मुकुल राय को अपने लंड के इर्द गिर्द परीशा की टाइट चूत की दीवारें कसी हुई महसूस हो रही थी, उसके लंड में तेज गुदगुदी सी होने लगी।दोनों थोड़ी देर वैसे ही लेटे रहे. रात्रि भोजन (डिनर) निपटाने के बाद मधुर ने मेरी ओर इशारा करते हुए गौरी को समझाया- आज से सर तुम्हें नियमित रूप से रात को अंग्रेजी पढ़ाया करेंगे। मैं रसोई में तुम्हारी मदद कर दिया करुँगी. मैं और भी ज़्यादा गर्म हो गया और मैंने अपना मुँह मौसी की चूत पे लगा दिया.

फिर उन दोनों के बीच में बात हुई कि घर की बात घर तक ही रहे और दोनों के बीचे एक सौदा हुआ.

हिंदी बीएफ सेक्सी मूवी वीडियो: मैं उन्हें देखता रह गया और उनके हाथ को पकड़ कर उनको अपनी ओर खींच लिया. उसकी चूची को मैंने मुंह में ले लिया और उसकी चूत में उंगली करने लगा.

मैं- फिर अगर तुम मुझे अपना दोस्त मानती हो … तो प्लीज मेरे प्रपोजल को स्वीकार लो … प्लीज मान जाओ. मैंने कम्मो के हाथ पर अपना हाथ रखकर लंड को ऊपर नीचे किया जिससे मेरा सुपारा बाहर निकल आया. दरवाजा खुलते ही मेरी आंखें फटी की फटी रह गई क्योंकि संजना पूरी तरह से नंगी थी, उसने अपने जिस्म पर एक भी कपड़ा नहीं पहना हुआ था और ना ही उसके जिस्म पर कोई बाल दिख रहे थे.

कभी वो मूली गाजर की तरह लंड को काटते हुए उसे प्यार से चूसने लगती थीं.

वैसे भी मैं तो उसी को ही पाने की कोशिश कर रहा था, प्रिया तो गलती से फंस गयी थी. उई मां उउहह … आआह … बड़ा मस्त चोद रहे हो यार … पूरा अन्दर तक जा रहा है … बस जल्दी मत झड़ जाना. तभी वो एकदम से उठीं और मुझे अपने ऊपर खींचते हुई बोलीं- अब आ जाओ दामाद जी … अब नहीं सहन होता … आ जाओ आज आपके लंड को स्वर्ग का रास्ता दिखाती हूँ.