सेक्सी वीडियो बीएफ डॉट कॉम

छवि स्रोत,देहाती सेक्स गर्ल

तस्वीर का शीर्षक ,

डॉक्टर को सेक्सी वीडियो: सेक्सी वीडियो बीएफ डॉट कॉम, मैंने तुरंत फोन लगा कर अपने उस दोस्त के सामने स्नेहा की बात कराई और अपनी शर्त जीतने की पार्टी पक्की कर ली.

ताराबानो की गजल

कई बार मैंने देखा था कि वो जब भी सफ़ेद रंग की लेगिंग्स पहनती थी, तो उसकी चड्डी का रंग भी दिख जाता था और उसकी टाइट मोटी गांड की गोलाई मुझे अन्दर तक हिला देती थी. कौमार्य भंगमैं उससे बोला- कोई बात नहीं, इसमें क्या दिक़्क़त है?और इतना बोलकर मैं उसके बेड पर लेट गया.

कुकोल्ड वाइफ की चुदाई का मौक़ा मुझे मिल रहा था तो मुझे क्या आपत्ति होती. भाइ़गटस्किवो आज एकदम सेक्स की देवी लग रही थी जो लाल रंग की साड़ी पहने अपनी खूबसूरती में चार चांद लगाए बिल्कुल किसी दुल्हन की तरह लग रही थी.

मैं जब भी लैपटॉप के टच पैड को छूती तो मेरा हाथ उसके लण्ड से टच होता।2 मिनट में उसका लण्ड खड़ा हो गया.सेक्सी वीडियो बीएफ डॉट कॉम: अब मैंने अपनी स्पीड और तेज कर दी थी और बुआ की गांड को गपागप गपागप चोदने लगा था.

मैं नीचे से अपनी गांड उठा कर अपने लंड को साक्षी की गांड में और भी ज्यादा गहराई तक घुसाने लगा था.फिर तेल की बोतल उठाकर उनकी गांड पर आधी खाली कर दी और कुछ तेल लंड पर लगा लिया.

पंजाबी सेक्सी पंजाबी वीडियो - सेक्सी वीडियो बीएफ डॉट कॉम

पिछले लॉकडाउन में हम दोनों ने मिलकर मामी और चाची को जबरदस्त पेला था, ये चाची Xxx अन्तर्वासना कहानी उसी घटना को लेकर है.फिर सब लोग रात की ट्रेन से निकल गए और खाला और मैं घर पर अकेले रह गए.

मगर इस मौके से वो दोनों अंजान थे और दोनों ही एक दूसरे को बस सपने में मिल लिया करते थे. सेक्सी वीडियो बीएफ डॉट कॉम मैंने बीवी को घोड़ी बनाया और लंड को पीछे से एक ही झटके में चूत की गहराई में पहुंचा दिया.

शाम को मेरी बीवी ने खाना बनाया और हम सबने साथ में बैठ कर खाना खाया.

सेक्सी वीडियो बीएफ डॉट कॉम?

रात को मैंने उससे पूछा कि तुमने दवा खाने से क्यों मना कर दिया था?वो हंस कर बोली- अभी एक दिन पहले ही तो मेरी माहवारी खत्म हुई है और ये सेफ समय था. कुछ ही देर में वो भी जान गई थी कि उसका भाई उसमें इंट्रेस्ट ले रहा है. ऐसे बैठे बैठे पार्क में कुछ लड़कियों को, भाभियों को, आंटियों को देख कर आंखें सेंकने लगा.

मुझे देखते ही उसने बोला- कहां रह गया था यार, कितनी देर से खड़ी हूँ मैं!मैंने जाते ही उसे धीरे से गले लगाया और बैग उठाकर उससे चलने को बोला. मैंने उसकी सस्ती ब्रा के हुक खोल दिए और स्तन को एक बच्चे की तरह चूसने लगा. लड़कों की गांड अच्छी तरह से फट चुकी थी, यह देखकर हम लड़कियों को बहुत मज़ा आ रहा था.

तो मैडम मुझे डांटते हुए बोली- तुम्हें सजा देनी ही पड़ेगी, तुम ऐसे मानोगे नहीं!और फिर उन्होंने मेरी मम्मी से क्लास रूम का दरवाज़ा अंदर से बंद करने को कहा।मैं आपको बता दूँ कि मैडम का नाम रश्मि है और उनकी उम्र उस समय 38 थी, साथ ही मैडम मोटी हैं।मेरी मम्मी का नाम सुषमा है, उस समय उनकी उम्र 40 वर्ष थी. तो यह वही कजन है जिसकी शादी तय हुई थी।आप तो जानते ही हैं शादी वाले घर में बहुत सारे काम होते हैं. इससे रिया एकदम से उछल पड़ी और बोली- मैं एक साथ चूत और गांड में लंड नहीं ले सकती.

वो बोली- कंडोम तो तुम भी नहीं लाए हो शायद?मैंने कहा- कोई बात नहीं, मैं टेबलेट खिला दूँगा बाद में. मुझे समझ आया कि साक्षी मेरे लंड पर बैठी थी इस कारण मेरे लंड से लावा नहीं निकल रहा था.

मेरा लंड तो एकदम तना ही हुआ था, वह उसकी गांड की दरार में गर्मी लेने लगा.

मेरे सामने अब मॉम सिर्फ एक लाल रंग की छोटी सी कच्छी में लेटी हुई थीं.

तो अजय ने दरवाजा खोल कर सीधा मुझे अंदर खींच लिया और मुझसे लिपट गया।वो बोला- ओ मनीष, बहुत मन था तुमसे मिलने का! मुझे तुम्हें बांहों में लेकर मज़ा आ रहा है।मैंने भी अजय को टाइट पकड़ा और बोला- हाँ अजय, तड़प तो मैं भी रहा हूँ। आज मैं बस तुम्हारा हूं, तुम मेरे साथ जो चाहो करो, मैं मना नही करूँगा।अजय मेरी पीठ पर हाथ फेरने लगा. उसकी गोटी काटने की चक्कर में मैंने गलत गोटी को टच कर दिया जिसे मोबाइल ने स्वीकार करते हुए उसकी गोटी से आगे खड़ा कर दिया. अब माधुरी मेरे सामने बिल्कुल नंगी थी, उसके पैरों में पायल की खनखनाहट भरी आवाज साफ़ साफ़ समझ रही थी.

अमन ने कहा- ठीक है, हम सब गांड मरवाने के लिए रेडी हैं मगर हमारी एक शर्त है कि तुम ये बात किसी से नहीं कहोगी कि तुम लोगों ने हमारी गांड मारी है. मुझे ऐसा लग रहा था जैसे उसके पति ने कभी उसकी गांड नहीं चाटी थी और वो कमी आज मैं पूरी कर रहा था. इतनी देर के रोमांस से उसकी सुर्ख गुलाबी रसीली छोटी सी मुनिया बस लंड से मिलने के लिए रोए जा रही थी.

वो बोले- अरे वाह प्रियंका … बेटा तुमको मेरा नम्बर कहां से मिला?मैंने हंस कर कहा- बस यूं ही मिल गया, मगर मुझे मालूम नहीं था कि ये नम्बर आपका है.

माधुरी की उम्र 31 साल की थी, रंग एकदम गोरा था और उसकी हाईट पांच फुट चार इंच की थी. कोमल ने भी ना ना करते हुए मुझे चड्डी उतारने में रजामंदी सी दे दी थी. फिर मोहित ने खड़े होकर मेरे दोनों चूतड़ों पर जोरदार 3-4 थप्पड़ मारे, जिससे मेरी अआह्ह निकल गयी.

फिर अचानक से आधा पैग पीने के बाद सलीम ने मुझे गिलास पकड़ाते हुए पीने को कहा. इसी बीच मैंने एक और घातक प्रहार किया और शेष लंड शबाना की चूत में पेल दिया. ऐसा कह कर मैं बेड के किनारे पर आकर बैठ गया और अपने दोनों पैरों को ज़मीन पर रखकर चाची को अपनी ओर खींच लिया.

उनके साथ सेक्स की शुरुआत कैसे हुई? उन्होंने कैसे मुझे अपने घर बुलाकर चूत चुदवाई?मेरा नाम विक्रम सिंह है.

गरिमा और उसके ब्वॉयफ्रेंड को एक दूसरे से मुहब्बत करते देख कर निशा तपने लगी थी. कुछ ही देर में अदीबा अकड़ने लगी थी और उसके चेहरे पर चरम पर पहुंचने का भाव दिखने लगा था.

सेक्सी वीडियो बीएफ डॉट कॉम मैंने उसका चेहरा फिर से हाथों में लिया और उसके होंठों पर अपने हाथ रख दिए. कई बार तो मैं उनकी जांघों पर सर रख के सोने का बहाना करके उनके मम्मों को दबा भी देता था.

सेक्सी वीडियो बीएफ डॉट कॉम उन्होंने गेट को लॉक कर दिया और बोलीं- आदर्श, मेरे पैर शायद उसी बिच्छू ने काट लिया है या पता नहीं क्या हुआ है. मैं और मेरा एक दोस्त दीपक, हम सब मौसी के लड़कियों के साथ आपस में हर तरह की बात साझा कर लेते थे.

चूत पर बहुत हल्के हल्के से सुनहले बालों के सिर्फ रोंए से थे, जो कि अभी काले भी नहीं हुए थे.

इंग्लिश पिक्चर बीएफ चाहिए

थोड़ी देर बाद मैंने नीना से पूछा- अब दर्द कम हुआ?नीना के हां कहने के बाद सोनी ने पूरा लंड नीना की गांड में पेल दिया. अपना जिस्म साफ सुथरा करने के बाद मैंने मार्केट से एक सिल्क की जालीदार नाइटी ली, जिसमें से अन्दर का मेरा गोरा बदन झलकता रहे. अब मैंने माधुरी के चूचियों पर अपना सारा काम निकाला क्योंकि इतनी देर की चुसाई और चूमाचाटी में हम दोनों की सांसें फूल गयी थीं … दोनों के सीने जोर जोर से ऊपर नीचे हो रहे थे.

माधुरी ने कहा- मेरा तो दो बार हो भी गया लेकिन अगर तुम जोर जोर से करते रहोगे तो मेरा फिर से हो जाएगा. एक दिन मैंने अपने दोस्तों को ऐसे ही बातों बातों में बोल दिया कि मैं किसी भी लड़की को पटा सकता हूँ. और वह अपने चचेरे भाई का नाम लेकर अपनी चूत में उंगली करना शुरू कर देती है!इस बीच कुणाल चाचा जाग जातें हैं और अपनी बहू को किसी गैर मर्द का नाम लेकर चूत में अपनी उंगली करते देख लेते हैं!यह सावी के लिए अच्छी बात नहीं थी.

अब प्रिंस और मिष्टी को अपने मिलन के इस मौके में गड़बड़ नज़र आने लगी.

काफी देर तक मैंने चाची की गांड मारी और उनकी गांड में ही मैंने अपने लंड का शीरा छोड़ दिया. गिफ्ट खोला और मोबाइल फोन देखकर शबाना और भाभीजी के आश्चर्य का कोई ठिकाना नहीं था. खड़े लंड को देख कर चाची बोलीं- लगता है तेरे लंड को मैं पसंद आ गई हूँ.

इस बीच हम बहुत रिक्वेस्ट के बाद अजमेर में एक डोमिनोज पिज्जा में तीस मिनट के लिए मिले. उसने कहा- तो ऊपर देखो न … यहां अभी दुकान में कोई नहीं है, तो क्या तुम्हें मेरा दूध अभी पीना है? मेरी चूचियों को पूरा खाली करना है? ऊपर देखो और बोलो न!वो अब कुछ तेज स्वर में बोल रही थी. उसने जो ब्लाउज पहना हुआ था वो गहरे गले का था, जिससे उसके सामने से उसके चूचों का आधा हिस्सा दिखाई दे जाता था.

गरिमा और उसके ब्वॉयफ्रेंड को एक दूसरे से मुहब्बत करते देख कर निशा तपने लगी थी. कुछ दिन बाद जब मुझे नहीं रहा गया तो मैंने सोचा कि अब चाची से बोल देना चाहिए.

अपनी इन भाभीजी से मेरा थोड़ा परिचय तो शादी से लौटते समय कार में ही हो गया था. मेरा लंड फुल साइज़ में तन कर खड़ा था और उन्हें चोदने के लिए बिल्कुल तैयार था. मैं और जोर जोर से साक्षी की चूची को अपने मुँह में और अन्दर तक खींच लेता और जोर जोर से निप्पल को अपने होंठों में दबा कर अन्दर भींच लेता.

फिर उन्होंने कहा कि अगर मैंने सवाल सही से नहीं किये तो आज वे मुझे और मम्मी को घर नहीं जाने देंगी।कुछ देर बाद मैंने देखा कि मैडम का स्तन मम्मी के स्तन को छू रहा है।यह देख मेरे हाथ से बॉक्स निचे गिर गया तो मैडम और मम्मी ने एक साथ मेरी तरफ देखा।तब मैडम मेरे पास आयी और देखा कि मैं सवाल ठीक से कर रहा हूँ या नहीं.

अब मैंने अपनी दो उंगलियां मॉम की चूत में घुसा दीं और अपनी उंगलियों से उनकी चूत चोदने लगा. आंटी आईं और बोलीं- अरे यार, डॉक्टर साब चले गए क्या?मैं शैतानी से बोला- मैं तो हूँ ना. इतनी देर तक चोदने के बाद भी मैं भूखा था जबकि मेरा लंड दर्द करने लगा था.

सोनी फ़ोन करने के बाद वापस आकर बोला- हम लोग अब खाना खा लेते हैं, कल काम पर जाना है. जैसे ही मैंने चड्डी उतारी तो शेखर का बड़ा सा लंड मेरे मुंह से टकरा गया.

अब आगे हॉट बेब देसी कहानी:बस मेरे स्टॉप तक पहुंच गई और मैं भी उतर गया. बुआ ‘आहह आहह ओह राज चोद दे मुझे …’ चिल्लाने लगीं और मैं झटके पर झटके लगाने लगा. अब सलवार को जिस्म से अलग करके मेरा अगला टार्गेट शबाना की रेशमी बालों वाली चूत थी.

इंग्लिश सेक्सी बीएफ चलने वाली

इतने में मेस का टाइम हो गया तो मैंने सोचा क्यों ना आज ब्रा पैंटी पहन कर ही चला जाए.

कुछ एक सेकंड को हम दोनों तड़फ गए और मैंने उसकी आवाज निकलने से पहले फिर से किस करना चालू कर दिया. चाची अपने दोनों हाथों से मेरा सर दबा कर चूत चटवाने का भरपूर आनन्द उठा रही थीं. अब मैं ज़ोर ज़ोर से मामी की इंडियन गांड में धक्के मारने लगा तो मामी की गांड फट गयी और खून निकलने लगा.

जलालुद्दीन ने मेरा मुंह देखा तो मेरा हाथ पकड़ा और अपने औजार पर रख दिया और पूछा- पता है क्या कहते हैं इस चीज को?मैंने शरमाते हुए कहा ‘सु सु’फिर आलिम साहब ने मेरी गुच्छी पर उंगली रखी और पूछा- इसको क्या कहते हैं?मैंने कहा- गुच्छी. मेरा नाम है अंकुर … इस Xxx Hindi Com वेबसाइट पर मैंने पहले भी कई कहानियाँ लिखी हैं।यह Xxx हिंदी कॉम हॉट कहानी आज से करीब 3 महीना पहले की है. आंध्रा सेक्स व्हिडिओमेरे मुँह पर चूत मसल मसल कर मेरे पूरे चेहरे पर चूत लंड का माल लगा दिया था.

फिर मैंने अपनी जीभ को गोल करके उसकी चूत में डाल दिया और उसकी चूत का रस पीने लगा. मैं इतने दिन तक जलालुद्दीन के साथ रहते रहते यह भूल ही गई थी कि एक दिन मुझे लौट कर भी जाना होगा.

कहानी के पिछले भागशादी में मिली भाभी को पटा कर मजा लियामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैंने कोमल को मैसेज किया था कि वो मुझसे राजी है तो मेरी बताई हुई ड्रेस पहन कर आए. फिर बात करते करते हम दोनों ने दो बार और चुदाई की और एक दूसरे से चिपक कर सो‌ गए. मैंने उससे कहा- प्लीज तुम जो बोलोगी, मैं वो करूंगा … बस तुम नाराज मत होना और हमारी दोस्ती मत तोड़ देना.

वो बोली- कि क्या देख रहे हो, कुछ देर पहले भी ऐसे ही देख रहे थे?मैंने भी बोल दिया- तुम बहुत ही खूबसूरत हो. वो मेरे बगल में लेट गयी और बोली- तुम्हारी चुदाई से बहुत खुश भी हूँ और इम्प्रेस भी हूँ. वो गाली देती हुई बोलने लगी- साले, मुझे चोद कर रंडी बना दे भैन के लंड!मैंने उसकी दोनों टांगें अपने दोनों कंधों पर रखीं और एक ही बार में लंड को ठोकर मार दी.

तापोश ने नीना को बताया था कि मेरे चूचे चूसने से मैं सेक्स के लिए जल्दी उत्तेजित हो जाता हूँ.

जैसे ही मैंने कोमल की फुद्दी से लौड़ा बाहर निकाला, वो खून से सना पड़ा था. मैंने धक्के लगाना शुरू कर दिए और अपने 7 इंच के चाची की गांड के लंड को छेद में पूरा अन्दर बाहर करने लगा.

कुछ देर बाद मैंने मोबाईल की लाईट से मीना की ओर देखा, तो‌‌ वो सो गई थीं. मैंने हाथ में अपना लंड ले लिया और उसे हिलाने लगा।मगर ना जाने कैसे शायद उन्हें यह पता लग गया कि गेट के बाहर कोई है, तो अन्दर से आवाज आनी बंद हो गयी. फिर मैंने सब लड़कियों की मोमबत्ती जला दीं और सबको इशारा कर दिया कि अब आगे क्या करना है.

कुछ समय बाद उसका कंपकपाना बंद हो गया और मैं मजे से चूत को उंगली से चोदने लगा. मैं चाची की मस्त गांड का दीवाना था तो मैं झट से मान गया और अगले दिन तैयार होकर गांव से निकल गया. जब वो किचन में खाना बनातीं तो मैं अपना लंड खड़ा करके पीछे के जाकर खड़ा हो जाता था और उनकी गांड में लंड दबा कर मजे ले लेता था.

सेक्सी वीडियो बीएफ डॉट कॉम मैं ऐसा इसलिए किया क्योंकि मैं जानती थी कि सुरेंद्र जी मुझसे मिलने किस लिए आ रहे हैं. अब मैंने अपने लंड पर थोड़ा थूक लगाया और उसकी चूत में लंड घुसाने लगा.

देसी साड़ी में बीएफ

मैं अपने डैड और मॉम के साथ रहता हूँ और ये कहानी भी मेरे और मेरी मॉम की बीच हुई चुदाई की कहानी है. वो बर्फ लेकर ऊपर आयी और रख कर वापिस जाने को मुड़ी तो लड़खडा़ती हुई कुर्सी पर बैठ गयी. उसके फिगर की सही सही नाप के बारे में खुद उसने अपनी चुदाई के बाद बताया था.

क्या आप मुझे वो क्लिप वापस दिखा सकते हो?इससे मेरी हिम्मत बढ़ गयी और मैंने वीडियो गैलरी को ओपन करके मोबाइल उसे दे दिया. मैंने कहा- क्या करने का मन कर रहा है?कुमकुम ने सहमते हुए कहा- आप अपने कुछ दोस्तो को बुला लीजिए ना. সেক্স হাঙ্গামাमुझे ये जानकर बहुत अच्छा लगा क्योंकि आज चाची की चूत में लंड डालने का बहुत अच्छा मौका था.

कुछ देर बाद मेरी हवस जाग उठी और मैं उसके पैर में मूव लगाते हुए कुछ अलग तरह से सहलाने लगा था.

[emailprotected]Xx भाभी की हॉट कहानी का अगला भाग:बुटीक वाली सेक्सी भाभी के जिस्म का मजा- 4. शेखर ने पूरी ताकत से मेरे दूध मसले और मेरी चूत पर दबाव बनाते हुए फचाक फचाक करके अपने वीर्य की गर्म गर्म पिचकारियां मेरी चूत में मार दीं.

ऐसे ही क़रीब 20 मिनट तक चूत की ठुकाई की और चूत से लंड निकाल कर गांड में डाल दिया. लगभग साढ़े ग्यारह बजे मैं मांड्या के निकट आ गया था जहां नम्रता आंटी रहती थीं. साक्षी के मुँह से जोर जोर से आवाजें आने लगीं और उसकी सांसें चढ़ने की आवाजें कमरे को फिर से गर्म करने लगीं.

कमरे में आकर सोनी बोला- मैं बहुत जल्दी झड़ गया, मैं बहुत जोश में आ गया था.

अब आगे हॉट गांड Xxx कहानी:आलिम साहब मेरे मम्मों को निचोड़ते रहे और निप्पल चूसते रहे. मैंने उनको अपनी नाक से लगा कर सूंघा और उनकी ब्रा और पैंटी को मैंने लंड से लपेट कर मुठ मारना शुरू कर दिया. जहां जहां उसके होंठ मुझे छू रहे थे, ऐसा लग रहा था जैसे वहां के रोंगटें खड़े हो रहे हों।फिर उसने मेरे हाथों को ऊपर उठा लिया और मेरी शर्ट को निकालने लगा.

लड़की डॉग सेक्स वीडियोलेकिन मुझे उनकी चूत नीचे को होने से चुदाई में कुछ असहज सा महसूस होने लगा. उसकी जोर की चीख निकल गई पर दरवाजे बंद होने की वजह से बाहर नहीं जा सकी.

बीएफ शब्द

उन लोगों ने ही मुझे उठाया, साफ़ किया और कपड़े पहना कर टेक्सी की पिछली सीट पर बैठा दिया. अपनी गांड के दर्द को नजरअंदाज करती हुई मैं उठी और रोती हुई कमरे के एक कोने में जाकर बैठ गई. जब मैं चौथा पैग पी रहा था, तभी मेरी बीवी सोनू (बदला हुआ नाम) ऊपर के कमरे में आ गयी.

नंगी भाभी फोरप्ले सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी दोस्त भाभी ने मुझे अपने बुटीक में बुलाकर शटर बंद कर किया. ”उम्र से कुछ नहीं होता कविता, जो मुझे चाहिए वो तुम दे सकती हो और तुम्हें जो चाहिए मैं दे सकता हूँ. फिर मैंने उससे कहा- माधुरी, सच तो ये है कि मुझे तुम्हारी चूचियां बहुत अच्छी लगती हैं.

उनके होंठ अपने होंठों में लिए हुए ही मैं सीधे लेट गया तथा उनको अपने ऊपर कर लिया. उससे ठीक एक दिन पहले मैं पार्लर गई, जहां मैंने अपने बदन पर अनचाहे बालों को हटाने के लिए वैक्स करवाया. रास्ते में मैंने मेडिकल की शॉप से एक कंडोम ले लिया क्योंकि मुझे पता था कि अपनी रूममेट इस समय ऑफिस में होगी.

मुझे पता था कि दोनों की कोल्ड ड्रिंक में व्हिस्की पहले से ज्यादा है, तो इन दोनों को नशा होने में बिल्कुल भी टाइम नहीं लगेगा. फिर इतनी चिंता क्यों, अपने पर भरोसा नहीं है क्या? और इस टाइम है ही कौन हमारे अलावा, जो देखेगा.

मैं उस कामुक नज़ारे को देख कर अपना लंड बाहर निकाल कर सड़का लगाने लगा.

आज इसे एक मोटा लण्ड मिल गया तो इसकी माँ चुदने लगी बहनचोद। हाय दईया, मुझे बड़ा मज़ा दे रहा है तेरा लण्ड! मरद हो तो तेरे जैसा और लण्ड हो तो तेरे लण्ड जैसा बाबू जी!उसकी प्यारी प्यारी गालियां मेरा जोश बढ़ा रहीं थीं।मुझे बहुत अच्छा लग रहा था।मैं और धकाधक चोदने लगा वह भी अपनी गांड़ उठा उठा के धक्के का जबाब धक्के से देने लगी।वह बोली- हाय मेरे राजा. रोजा फिल्ममैं लंड को आधे से अधिक बाहर निकालता और फ़िर झटके से पूरा अन्दर डाल देता. काठियावाड़ी सेक्सी वीडियोअब रुकना मेरे लिए मुश्किल था, मैंने उसको सीधा लिटाया और उसकी टांगों के बीच आ गया. कुछ देर बाद जब मुझसे सब्र नहीं हुआ तो मैंने उसकी सलवार की गांठ खोल दी और हल्के से उसकी सलवार को नीचे सरका दी.

उनकी लंड चूसने की अदा से साफ़ समझ आ रहा था कि चाची पुरानी चुदक्कड़ आइटम हैं और चाचा के छोटे लंड से इनकी चूत का पूरा काम फिट नहीं हो पाता है.

वो मेरे सामने अपने नंगे 40 साइज़ के गोरे चिट्टे बूब्स 36 की कमर ओर 42 की गांड के साथ नंगी पड़ी मचल रही थीं. वो कभी आयेशा की चूत में लंड डाल देता तो कभी रिया की चूत में लंड डालकर चुदाई शुरू कर देता. बापू भी किसी छोटे से बालक की तरह काकी के दूध को चुसुक चुसुक कर पीने लगे.

हवस की आग में जलते हुए मैंने छोटू के लंड को बुरी तरह चूसना शुरू कर दिया, ड्राइवर के लंड पर अपने स्तन जोर से दबा दिए और अब्दुल को अपनी टांगों में जकड लिया ताकि उसका लंड मेरे और अंदर तक समा सके. उसके बाद दो रातों तक उनकी याद में मैंने मुठ मारी, सारी रात यहीं सोचा कि क्या चेहरा था आंटी का, रसमलाई के जैसा, एकदम मीठा रसगुल्ला. पांच मिनट बाद जब बाहर की हॉल की लाइट बन्द हो गयी, तो मैं समझ गया कि अब कुछ न कुछ कबड्डी होने लगी है.

बीएफ वीडियो में एचडी फुल

लगभग 11:30 में सामने वाले स्लीपर से कुछ ‘ऊउमाह्ह …’ जैसी अज़ीब अज़ीब सी आवाजें आने लगीं. उसने चार्जर लेने के लिए अपने हाथ को जैसे ही आगे बढ़ाया, उसकी नाजुक और प्यारी सी उंगलियां जैसे ही मेरे हाथ को टच हुईं, मेरे बदन में मानो आग लग गयी. कुछ देर तक तो हमें होश ही नहीं रहा कि हम बैड पर ऐसे नंगे एक दूसरे पर लेटे पड़े हुए हैं.

मैंने उसे फोन लगाया तो उसने कहा- मैंने गेट खुला रखा है, तुम सीधा अन्दर आ जाना और गेट बंद करके ऊपर आ जाना.

मैंने सोच लिया था कि इस बारे में मैं रानी से इन्स्टा पर ही बात करूंगा और मालूम करूंगा कि मामला क्या था.

मामी बोली- तुझे छत पर टहलने की सूझ रही है और इधर हम दोनों अपने रहने को लेकर परेशान हो रही हैं. प्रिंस ने कहा- अरे नाराज़ क्यों हो रही हो साली जी, मैं तो बस मजाक कर रहा था. star सेक्स वीडियोधक्का लगते ही चाची की ज़ोर से चीख़ निकल गई- अअह अह मर गई रे … आराम से पेलने को बोला था … इतनी ताक़त से धक्का लगाने को नहीं … तुमने तो एक ही धक्के में मेरी मासूम सी तीती को फाड़ डाला रे!चाची की आंखों में आंसू आ गए.

मैं इतना ज्यादा गर्म हो गया था कि मैं साक्षी के होंठों को काटने लगा था और जोर जोर से उसकी चूची को दबाने लगा था. लेकिन एक दिन मैंने फोन पर सेक्स की बात कर दी तो वो …दोस्तो, मैं आर्यन कुमार आपको अपने ऑफिस के नीचे एक लेडिज दुकान में बैठने वाली माधुरी भाभी की सेक्स कहानी सुना रहा था. मैंने कहा- रचना मैं बता नहीं सकता कि तुम्हें चोदने के लिए मैं कितना पागल हूँ.

थोड़ी देर बाद मैंने उसकी चूत में 2 उंगली डाल दीं और जोर जोर से हिलाने लगा. अब आगे दोस्त भाभी की X कहानी:जब सुबह आंख खुली तो मेरा लंड पैंट में बम्बू की तरह खड़ा होकर सलामी दे रहा था.

आप मुझे बताएं कि आपको मजा आ रहा है या नहीं कहानी पढ़ कर?[emailprotected]देसी वर्जिन गर्ल चुदाई कहानी का अगला भाग:.

मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, तो मैंने उसका मुँह पीछे से पकड़कर अपनी गांड में और ज्यादा अन्दर तक घुसवाना शुरू कर दिया. फिर मैंने धीरे से हाथ उसकी जींस के अन्दर डाल दिया और उसकी चूत को रगड़ने लगा. मुझे बहुत बुरा लगा कि साला ऐसे कैसे एकदम से मैंने उससे ये सब बोल डाला.

लिंग इमेज नीना ने डिल्डो में एलोवेरा जैल लगाकर मेरी की गांड में डिल्डो डाल दिया और चोदने लगी. फिर मैंने अपनी जुबान को माधुरी की चूत के पंखुड़ियों पर चलानी शुरू कर दी.

अचानक हुए इस हमले से बुआ ‘ऊईई मादरचोद गांड में फिर से पेल दिया उई ऊईईई …’ कहती हुई चिल्लाने लगीं. मैंने कहा- फिर क्या मजा आएगा खेलने का … जब जीतने वाले को कुछ मिलना ही नहीं है. हम दोनों ने चर्चा की हम दोनों इतना टेंशन वाला काम किसके लिए कर रहे हैं? हम दोनों के पास काफी रूपए जमा हो गए हैं बाकी का जीवन मस्ती से बिताने के लिए ये रकम बहुत से भी बहुत ज्यादा थी.

बधाई बीएफ

अगली सुबह सोनी मेरे साथ, तापोश और नीना फल, सब्जी और बकरी पालन का काम कराने गए. इन पलों में शबाना अपनी चूत को देख रही थी तत्पश्चात उसको ध्यान आया कि उसको आए हुए करीब एक घंटा हो रहा है इसलिए उसने जल्दी कपड़े पहनने के लिए कपड़े उठाए ही थे कि एकाएक कमरे में अप्रत्याशित तरीके से सुषमा भाभी आ धमकी. 3 फिट की 30 से 32 साल की औरत खड़ी हुई है जिसने सिंपल सी नीले रंग की साड़ी पहने हुई थी। जिसमें उनका निखरा हुआ रंग और 36 30 38 का फिगर अलग ही दिख रहा था।उनके होंठों पर गहरे लाल रंग की लिपिस्टिक खुले हुए बाल देखकर ऐसा लग रहा था कि मैं कोई सपना देख रहा रहा हूँ.

उसके बाद मैंने सुहागचूड़ा हाथों में पहना और पैरों में पायल पहनकर नहाने के लिए बाथरूम में चली गई. गांड में लंड पेलने की तैयारी और लंड पेल कर गांड कैसे मारना है, वो सब लिखा था.

उन्हें देख कर किसी भी मर्द का लंड पानी टपकाए बिना रह ही नहीं पाता है.

उसकी गोरी गोरी मांसल टांगें देख कर मेरी जीभ उन्हें चाटने के लिए लपलपाने लगी थी. मैंने कुछ देर वहां अपना हाथ रखा और फिर आगे बढ़ने का मन बनाते हुए थोड़ा दबाया. थोड़ी देर बाद मैंने चाची की साड़ी ऊपर कर दी और उनकी जांघ तक साड़ी को ले आया.

एक को चूसने लगा और दूसरे निप्पल को अंगूठे और बराबर वाली उंगली से गोल गोल मींजने लगा. एक दिन शाम को जब मैं ऑफिस से निकला तो मैंने देखा कि माधुरी के पति ने पूरी शॉप खाली कर दी थी और सारा सामान एक गाड़ी में रख कर दूसरी जगह जा रहा था. Xxx हिंदी भाभी कहानी के चौथे भागसेक्सी भाभी के जिस्म को छूने का मजामें अब तक आपने पढ़ा था कि माधुरी ने मेरी पैंट को चड्डी समेत नीचे खींच कर उतार दिया था.

उसके फ्रेंड और उसके बॉयफ्रेंड के बारे में पूछा, तो उसने कहा कि मेरा आज तक एक भी बॉयफ्रेंड नहीं बना.

सेक्सी वीडियो बीएफ डॉट कॉम: कहानी के पहले भागनर्स चाची को होटल के कमरे में चोदामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपनी चाची की चूत में लंड पेले हुए उनकी चुदाई कर रहा था और वो झड़ चुकी थीं. आज की सेक्स कहानी मेरे एक पाठक और मेरे दोस्त दीपक जी ने भेजी है जो कि अपने सेक्स जीवन में काफी परेशान रहते थे लेकिन उन्होंने अपने एक दोस्त की मदद ली और आज एक अच्छा सेक्स जीवन जी रहे हैं.

लेकिन कुछ दिनों के बाद एक फैमिली वहां पर आई थी।वे काफी अच्छे लोग लग रहे थे. मैंने वैसा ही किया मैंने उनकी चूत में जुबान डाल दी और उसे चूसने लगा, चाटने लगा. ऐसे ही लगभग 2 महीने बीत गए लेकिन अभी तक ऐसा कुछ भी नहीं हुआ जिससे मैं उससे कुछ कह पाता.

माधुरी की पैंटी और लेगिंग्स को मैंने अभी तक पूरा उतारा नहीं था, सिर्फ उन्हें जांघों तक नीचे करके मैं इतनी देर से उसे चूस रहा था, मसल रहा था.

मैंने कहा- क्या खाला आप भी ना!तो वो बोलीं- वैसे तेरे हाथ काफ़ी सॉफ्ट हैं और उन्होंने मेरा एक हाथ अपने हाथों में ले लिया और उसे सहलाने लगीं. मैं उससे बातें कर रही हूं, अगर आपको कुछ चाहिए हो, तो मुझे कॉल कर देना. ”चाची की सिसकारियां मेरा जोश और बढ़ाने लगीं और ‘थप थप आआह आह आहह …’ की आवाज के साथ हम दोनों जबरदस्त चुदाई का मज़ा लेने लगे.