सेक्सी बीएफ हिंदी नई नई

छवि स्रोत,एक्सएक्सएक्स movi

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो नया हिंदी: सेक्सी बीएफ हिंदी नई नई, मैंने भी ज्यादा देर न करते हुए अपने लन्ड को उसकी चूत के बाहर रगड़ना चालू कर दिया और एक ही झटके में लन्ड मीना की चूत में घुसेड़ देने के लिये पूरा दम लगाया.

सनी leone's फोटो

तो अजय ने बताया कि उन दोनों ये पहले कभी नहीं किया, उनका पहली बार है, होटल में मीना उतना सुरक्षित नहीं महसूस करती जितना घर पर होगी. आदिवासी सेक्सी व्हिडिओ बीएफदेखता हूँ तुम जैसी लड़कियाँ कैसे पास होती हैं फिर!” सर ने गुर्राते हुए धमकी दी और मेरी कमीज़ के अंदर हाथ डाल कर मेरी चूचियों को मसलने लगे.

मैंने पहले भी बोला था कि तुम पहली नज़र में मुझे अच्छी लगीं, तभी जब पता लगा कि हम दोनों की मंजिल एक है तो … आगे तुम खुद जानती हो. उदयपुर सेक्सी बीएफ”नहीं नहीं! मेरे तो हाथों में मेहँदी लगी हुई है, मैं कैंची कैसे हैंडल करुँगी, नाड़े की नॉट कैसे बांधूगी?” वसुंधरा ने सवाल दागे.

थोड़ी देर ऐसे ही करते हुए मेरा सारा पानी निकल गया और कुछ पल के लिए मैं शांत हो गया.सेक्सी बीएफ हिंदी नई नई: भैया स्लैब पर भाभी की चूत चाटने में लगे हुए थे और मैं अपनी चूत को शांत करने की नाकाम कोशिश कर रही थी.

मैं अपनी उंगली पर थोड़ा सा थूक लगा कर उनकी चूत के दाने को मसलने लगा.अब वो कभी भी बाहर निकल सकती थीं, इसलिए मैं जाकर बाहर बरामदे में बैठ गया.

সেক্সি ভিডিও সানি লিওনের সেক্সি ভিডিও - सेक्सी बीएफ हिंदी नई नई

पापा के काम की वजह से मैं और मम्मी जा रहे थे और बंटी को उसी दिन किसी काम से बाहर जाना पड़ा, तो शादी में हमारे साथ सिर्फ सलोनी मौसी ही आयी थीं.जब सबने खाना खा लिया तो मम्मी पापा अपनी चुदाई के लिए अपने बेडरूम में चले गये और धीरज अपने कमरे में जाकर अपने कपड़े चेंज करने लगा.

इसके बाद उसने बोला- अंश, अब मुझसे रुका नहीं जाता, तुम मेरी चूत में अपना लंड डालकर मुझे चोद दो. सेक्सी बीएफ हिंदी नई नई जैसे ही मेरे होंठ उनकी चूत के पास पहुंचे, मैंने अपने होंठों से उनकी चूत के नीचे के होंठों को चूम लिया.

और जैसे ही मैं अपने लिंग को तेज़ी से उसकी योनि में अंदर को धकेलता, वसुन्धरा भी अपनी कमर के ख़म को सीधा कर के अपनी योनि ऊपर को धकेलती.

सेक्सी बीएफ हिंदी नई नई?

मैंने बाइक रोक कर फोन उठाया और दूसरी तरफ से लड़की की आवाज सुनकर मैं हैरान रह गया. उसने अपने मम्मी पापा से ये कह कर मना कर दिया उसके एग्जाम हैं। मैं चाचा-चाची को बस स्टॉप तक छोड़ आया और उसके घर आकर बैठ गया. साली इसकी पत्तियों को अपने मुँह में भर कर ऐसे ही चाटो मेरे राजा!! ओह डियर … बहुत अच्छा कर रहे हो तुम …! मेरी बुर के छेद में अपनी जीभ को पेलो और अपने मुँह से चोद दो मुझे!शारदा चाची लगातार गालियाँ बकती जा रही थी- हाय मेरे चोदू भाई! मेरी बुर के होंठों को काट लो और अपनी जीभ को मेरी बुर में पेलो … ओह मेरे चोदू भाई.

शारदा चाची घोड़ी बनी हुई थी और उनका भाई कपिल उन्हें पीछे से चोद रहा था!मैं ये मौका गंवाना नहीं चाहता था. मेरा लंड नीचे उसकी जांघ से सट गया था और उसकी जांघ पर झटके देने लगा. आप सब मेल करके जरूर बताएं कि जवान भाभी की चुदाई कहानी आपको कैसी लगी.

मैंने उसको वापस अपनी तरफ खींच लिया और उसको फिर से अपने नीचे लेटा लिया. कुछ रोमांचक शब्द मैं आप लोगों के लिए और सेक्स कहानी को रोमांटिक करने के लिए जोड़ रहा हूं क्योंकि इस समय मेरे जहन में मजा जैसा कुछ नहीं था. उसने भी अपनी चूत खोल दी और मेरी उंगली को चूत सहलाने के लिए चुदास जाहिर कर दी.

अब मैं समझ गया और मैंने उन्हें अपने हाथों से उठाया और उनके गालों पर एक किस कर दिया. थोड़ी देर इंतज़ार करने के बाद डरते डरते मैंने अपने लंड को बाहर निकाल लिया और मम्मा की चूत के छेद पर पजामी के ऊपर से ही धीरे धीरे रगड़ने लगा.

उसकी ब्रा जैसे ही मैंने उतारी, मैं उसकी नीबू जैसी चुचियों को देख कर पागल हो गया था.

जीजू ने भी चोदने की स्पीड बढ़ा दी थी और जीजू अपनी पूरी ताकत से मुझे चोद रहे थे.

मैंने भी बिना देर किए उनकी बुर में अपना पूरा 7 इंच का लंड घुसेड़ दिया. वो न अपनी टांगों को भींच पाई, न अपने आप को पीछे कर सिकुड़ने की कोशिश कर पायी. मैं फ्रिज से दो बियर कैन निकाल लाया और हम दोनों बियर पीते हुए बात करने लगे.

वो बहुत खुश हो गई और अगले दिन उसने वापिस करते हुए कहा- यार, सारी रात इसे ही देखती रही और नींद ही नहीं आई. चार-पांच दिन के बाद की बात है कि उसके घर वाले सब लोग कहीं बाहर गये हुए थे. हालांकि मेरे मन में सेक्स के प्रति काफी रूचि है … या ये भी कह सकते हैं कि मेरे बदन में हवस की आग जल रही थी.

वो बहुत गोरी है, उसके बूब्स ज्यादा बड़े नहीं हैं, बस 30 या 32 के होंगे लेकिन उसकी गांड बहुत बड़ी थी.

इसी तरह मैंने भी अपने बारे में थोड़ा बहुत राज उसके सामने खोलने शुरू कर दिया था. वो भी मेरी चोट सहन करने के लिए राजी दिख रही थी, तभी तो उसने इस बार मेरा कोई विरोध नहीं किया था. मेरी बहन ग्रेजुएशन के पहले साल में थी। मैं अपने घर कभी-कभी जाता था। मेरा और मेरी उस चचेरी बहन का घर थोड़ी दूरी पर ही था।मैं घर जाता तो मेरे घर पर मन नहीं लगता था, तो मैं अपने घर से ज्यादा उसके घर पर ही रहता था। मैं उसको देखकर बहुत खुश हो जाता और मैं उसको अपनी बाँहों में भर लेता था।एक दिन ऐसे ही जब मैं उसके घर पर गया तो मैंने उसको जाते ही हग कर लिया और उसको अपनी बांहों में कस कर भर लिया.

मैंने सुबह अपने घर बोल दिया कि मैं चाचा जी के घर स्टडी करने जा रहा हूं. उसकी सांसें तेज तेज चल रही थीं और उसकी चूचियां ऊपर नीचे हो रही थीं. मैंने न जाने किस तरह से उनसे पूछ लिया कि यहां कोई आपका आने वाला है?इस पर भाभी बहुत उदास होकर गहरी सांस लेती हुई बोलीं- मेरे साथ आने वाला कोई है ही नहीं, आप ही बैठ जाओ यहां.

मैंने प्रत्यक्षतः पूछा- सच में आप कर दोगी?उन्होंने कहा कि हां … तुम खाना खा लो, मैं जब तक तेल गर्म करके लाती हूँ.

मेरा लिंग कोई दो इंच वसुन्धरा की योनि से बाहर आया और मैंने तत्काल अपना लिंग वापिस वसुन्धरा की योनि में धकेल दिया. मैं बोली- हां मेरे आशीष, सच में मैं बहुत चुदक्कड़ हूं … मेरा अपने आप बेहद चुदवाने का मन करता रहता है.

सेक्सी बीएफ हिंदी नई नई मैंने उसके गाल पर हाथ फेरा तो वो बोली- क्या तुमसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है?मैंने हां कहा और मिनी से सट कर लेट गया और उसे भी चादर ओढ़ा दी. मैं एकदम से दूर हट कर सीधा हो कर अपनी जगह लेट गया था।वो मेरे पास आई और बोली- मुझे पता था तुम मेरे साथ कुछ ऐसा ही करोगे इसीलिए मैंने तेरे रूम में आने के लिए कूलर का बहाना बनाया था.

सेक्सी बीएफ हिंदी नई नई उस रात फिर मैंने अपनी रूबी दीदी को 2 बार और चोदा और उसके बाद घर पर भी जब हमें मौका मिलता, मैं उसको जोरदार तरीके से चोद देता. जल्द ही उसने मेरी शर्ट निकाल दी और मेरी छाती पर, गर्दन पर किस करने लगी.

तीन डिशेस थीं, जिसमें वेफर, काजू, चिकन लॉलीपॉप थे और एक आइस बकेट थी.

मराठी बीएफ मराठी बीएफ वीडियो

आदाब दोस्तो, मैं आमिर खान हैदराबाद, मेरी इस सेक्सी कहानी पर आप सबकी ढेर सारी ईमेल मिलीं, आप सबके इस प्यार के लिए बहुत शुक्रिया. मैं बोली- क्या?तो उसने मेरे कंधे पर हाथ रखा और अपना चेहरा मेरे चेहरे के नजदीक लाते हुए मेरे होंठों के पास अपने होंठ ला दिया. पिंकी ने एक बार फिर अमर को खींचा और उसके गालों व होंठों पर किस कर दिया.

मैंने कहा- जी नहीं अंकल, अभी अभी मेरे एग्जाम खत्म हुए हैं, अब मैं बिल्कुल फ्री हूँ. थोड़ी देर ऐसे ही पड़े रहने के बाद एक बार कसमसा कर मैंने अपना हाथ और पैर फिर से उनके ऊपर रख दिया. इस तरह पति और देवरानी के सामने खुलकर तुम्हारे लंड को गांडउठा उठाकर नहीं ले पाऊंगी।वीणा- सच कहा भाभी.

मैं उछल कर बेड पर उसके ऊपर कूद पड़ा और मेरा आज कुछ स्पेशल करने का मन हुआ … क्योंकि इतनी फ्रीडम मुझको आज तक नहीं मिली थी.

मेरे होंठ कल्पना भाभी के होंठों के साथ उलझे हुए थे और मेरा हाथ उनके चूचों पर था. दोस्तो, मुझको देखने से लगा जैसे उसकी चूत उसकी नाभि से लेकर उसकी गांड के छेद तक चिरी हो. वे बोलीं- मैं भी देखूं क्या पढ़ता है तू?मम्मी ने नाइटी के ऊपर स्वेटर पहना हुआ था.

फिर मैंने कहा- शरीयत के हिसाब से सारा को तलाक़ देने के लिए तुम्हें सजा भी मिलेगी. आन्या के होंठ चूसने के साथ ही मैंने अपना एक हाथ नीचे उसकी शॉर्ट के अन्दर डाल कर उसकी चुत रगड़ने लगा. मैं उसकी चूत में उंगली करने लगा और साथ-साथ में अंजलि को किस भी कर रहा था.

इससे मेरी मम्मा दर्द के मारे चीख उठीं और उन्होंने अपनी टांगों को भींच लिया. बहुत देर तक लंड चूसने के बाद उसने सोफे पर बैठ कर अपनी टाँगें फैलाईं और कहा- आजा मेरे लंड राजा, इस चूत को चाट-चाट कर मुलायम कर और फिर इसमें जलती आग को बुझा दे!मैंने भी राशि के चूत के दाने को चूसना शुरू किया और उसकी सिसकारियों से पूरा कमरा गूँज उठा.

मैं दिलिया की जीभ चूसने लगा और मेरी दुल्हन दिलिया की चूत मेरे लण्ड का रस निचोड़ती रही. मैंने सही मौका देख कर उससे कहा- रूपाली मैं तुमसे कुछ कहना चाहता हूँ. मैंने गुलदस्ते से एक गुलाब का फूल उठा कर उसके हाथों पर हल्के से स्पर्श किया और वह कांप कर सिमटने लगी.

मैं पायजामे के ऊपर से ही भाभी की चूत को धीरे धीरे सहलाने लगा और चूत के दाने को धीरे धीरे मसलने लगा.

अंडरगार्मेंट शॉप में जाते हुए मैंने रोहन को मना कर दिया क्योंकि मेरे पास पहले से ही बहुत सारे अंडरगार्मेंट थे. मेरे फ्लोर पर जो दूसरी फैमिली थी, उसमें हस्बैंड वाइफ और उनका एक बेटा और भाभी की एक बहन थी. तभी मायरा ने टॉप के ऊपर से अपनी ब्रा को खुजलाते हुए कहा- मुझे खुजली हो रही है.

आपने मेरी कहानीआपा के हलाला से पहले खाला को चोदामें पढ़ा कि कैसे मैंने सारा आपा के हलाला से पहले नूरी खाला को चोदा और फिर मेरा निकाह सारा आपा से हुआ. भाभी हंसने लगीं और बोलीं- अरे यार, मैं उस पटाखे की बात नहीं कर रही हूँ.

ऐसे करते हुए काफी देर हो गई थी लेकिन शिल्पा कमरे में थी, तो मैं पूरा खुल कर नहीं कर पा रहा था. मैंने बिना आवाज किए बाथरूम का दरवाजा खोला और लंड को हाथ में लेकर दोनों आंखें बंद करके पेशाब करने का मजा लेने लगा. मैंने जिद करते हुए कहा- प्लीज अंकल मुझे आज ही सुनना है, प्लीज आप बताइए न.

हिंदी आवाज की बीएफ

हमारे पास एक एक बैग था, तो हमने रूम में पहुंचते ही पहले वो बैग रखे और गेट बंद कर लिए.

एक बार जब मैं उनके घर गया, तो वहां न तो बंटी दिखा और न ही सलोनी मौसी दिखीं. मेरी बीवी पहले गांड चोदने नहीं देती थी, वही अब मुझसे हफ्ते में दो बार अपनी गांड चुदवा लेती है. मैं फिर अपने घुटनों के बल आ गया और सरिता की टांगें अपने कंधे पर रख लीं.

उसकी चुत गीली थी, मेरी एक उंगली उसकी चुत में घुसती चली गई और आन्या की एक मादक आह निकल गई. टी आया, मैंने टिकट बनवाया और फिर दरवाज़ा लॉक कर लिया, बातों-बातों में पता चला कि वो छत्तीसगढ़ के जगदलपुर की रहने वाली है. सेक्स की जानकारी चाहिएउस दिन से मुझे भाभी को चोदने का भूत सवार हो गया था और मैंने इरादा बना लिया था कि मैं अपनी भाभी को जरूर चोदूंगा.

अब जब मुझे आन्या की टाइट चुत चोदने मिली थी, तो मैं कहां पीछे रहने वाला था. तभी मुझे एक शैतानी सूझी और नम्रता से बोला- जानेमन, मैं तुम्हारी मलाई चाटकर तुम्हारी पैन्टी में पहन लूंगा और जिस दिन तुम मुझे अपनी चूत का मजा दोगी, उस दिन मैं तुम्हें वापस करूँगा.

मेरा पंजा उनकी चुचे और बगल के बीच में था और पैर का घुटना ठीक उनकी चूत के ऊपर था. इतना मोटा और लंबा लंड!मैंने उसकी चुत को रगड़ते हुए कहा- सच बोल रही हो डाक्टर?तो उसने कहा- हां हर्षद. मैं- क्या हुआ आपको?कल्पना- पैरों के बीच दर्द कर रहा है … मुझसे चलते नहीं बन रहा है.

जैसे ही मैं उनके पैर पर अपना मुँह रखते हुए उनकी जांघों के पास ले गया, उन्होंने अपने दोनों पैर खोल दिए. मैं- थोड़ा तो दर्द सहना ही पड़ेगा, ये मैंने आपको शुरू में ही बताया था. मैं उसे लगातार धक्के देकर चोदता रहा। मैं पीछे से उनके मोमों को पकड़ कर दबाता रहा और चूचुक मसलता रहा.

चूतड़ों को नचा-नचा कर आगे-पीछे की तरफ धकेलते हुए लंड को अपनी बुर में लेते हुए सिसिया रही थी शारदा चाची.

मैंने लंड बाहर निकाल लिया और बगल से पानी का बोतल उठा कर उन्हें पानी पिलाया. मैं तीन साल से तुम्हारे प्यार की प्यासी हूँ … प्लीज प्रवीण आज मेरी प्यास बुझा दो.

धीरे-धीरे समय बीतता जा रहा था और मैं सोच रहा था कि आज मैं उससे अपने दिल की बात करूंगा … कल उससे अपने दिल की बात करूँगा, नहीं कल तो पक्का ही करूँगा. कुछ ही धक्कों के बाद मेरे लंड ने वीर्य छोड़ दिया जो उसके मुंह के अंदर गिरने लगा. फिर कुछ टाइम बाद हम सोशल मीडिया पर बात करने लगे और हमने अपने नंबर एक्सचेंज कर लिए.

सबसे पहले मैंने पाण्डे जी से पूछा कि मिस्त्री की पत्नी का क्या नाम है. सोनू कहने लगी- मेरी भी अच्छी किस्मत है कि पहली बार ही मुझे इतना बड़ा और मोटा लौड़ा मिला है. मगर जब मैं वापस मुड़ कर जाने लगा तो मेरे कानों में किसी की सिसकारियों की मधुर सी आवाज़ पड़ी.

सेक्सी बीएफ हिंदी नई नई यह भी मुझे तब पता लगा जब मेरी माँ अपनी बहन यानि मेरी मौसी के घर गई हुई थी और घर में काम काज के लिए मेरी मामी यानि धीरज की माँ कुछ दिनों के लिए हमारे घर आई हुई थी. मैं- फिर से शुरू करें?कल्पना ने कुछ बोला नहीं, सिर्फ सहमति में सर हिलाया.

एक्स एक्स एक्स गांव की देसी

वो हंसी और अपने सीधे हाथ से मेरा लंड पकड़ कर वो आगे और मैं पीछे जाने लगे. टप्प … टप्प … टप्पा … टप्प टप्प … टप्प … टप्पा … टप्प! टप्प … टप्प … टप्पा … टप्प!फिर अचानक ही वसुन्धरा की योनि के अंदर आँखिरी बिंदु पर पहुँच कर जैसे मेरे लिंग में विस्फ़ोट हो गया. फिर मैंने उसके कान के नीचे से आते हुए अपने होंठों से उस भाग को चूमने लगा.

मेरी चाल लड़खड़ा रही थी, तो दीपक अंकल ने मेरे को पकड़ के बाथरूम तक पहुंचा दिया. थोड़ी देर बाद में मुझे लगने लगा कि आज जो भी हो रहा था, सब मस्त हो रहा था. सेक्सी ब्लू फिल्म भाभीउसकी ऐसी बात सुन कर मैंने उसे कस कर अपनी बांहों में पकड़ा, उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर उनको चूसने लगा.

राधिका ने तुंरत उठ कर अपनी ऐसे खींच कर उतारी, जैसे वो उसे चुभ रही हो.

प्लीज़ कोऑपरेट मी। (प्रिय मैंतुम्हारी चुदाई करना चाहता हूँ, कृपया मेरा साथ दो)।इस पर रीनल ने जवाब दिया- डार्लिंग, वी ऑलरेडी क्रॉस्ड आवर लिमिट (प्रिय हम पहले ही हमारी सीमा पर कर चुके हैं) अब इससे ज्यादा मैं साथ नहीं दे पाऊंगी।विक्रम-प्लीज रीनल, मैं इतना करके अधूरा नहीं रह सकता. उस दिन के बाद भी हमें कई मौके मिले जब मेरी चूत की कुटाई हुई, एक दो बार तो सुबह सवेरे मोर्निंग वाक पर पेड़ से टिक कर चुदी मैं!कहानी जारी रहेगी.

फिर राधिका ने कहा- तुमको मम्मे दबाने की इतनी जल्दी है, तो तुम अब अपनी बहन को अपनी जांघ पर बैठाकर उसके मम्मे को दबाओ न. दोपहर से ही हम सब शादी में गए थे और रात होते होते दिनभर की थकान की वजह से सब अपने अपने सोने के लिए लिए जगह ढूँढने लगे. हम दोनों ने चुदाई के अपने अपने कपड़े पहने और पढ़ने का नाटक करने लगे.

नशा भी काफी हो गया था, तो हम सबने तय किया कि अभी कुछ देर रुकने के बाद पैग वाला नियम जारी करेंगे.

हुआ ये कि मैं अक्सर मैं कोई ना कोई बनाना ढूंढता रहता था ताकि मैं उनको देख सकूँ. एक दिन मैं टेलर से अपने कपड़े लेने गया तो वहां एक साहब मुझे देखकर मुस्कुराने लगे. अचानक से भाभी नेअपनी चुत में उंगलीडाल ली और दूसरे हाथ से अपने एक मम्मे को मसलने लगीं.

बिहार के सेक्सी बीएफमैंने जैसे ही लंड का दवाब उसकी चुत पर डाला, अमीषी की आंखें चौड़ी होती गईं. मैंने बाथरूम में जाकर भाभी को याद करके मुठ मारी, तब कुछ शान्ति हुई.

चिकनी बॉसी

डॉली से मिलने के बाद शायद चौथे या पांचवें दिन की बात है कि मेरी नींद मुंह अँधेरे ही खुल गयी घड़ी देखी तो सुबह के चार बज रहे थे. थोड़ी देर इंतज़ार करने के बाद डरते डरते मैंने अपने लंड को बाहर निकाल लिया और मम्मा की चूत के छेद पर पजामी के ऊपर से ही धीरे धीरे रगड़ने लगा. शर्म भी नहीं आती इसको! जिससे तिलक लगवाया, उसी की चूत में घुस कर पानी छोड़ता है.

लेकिन जब भी नया लण्ड मिलता है तो ऐसा लग रहा है कि पहली बार चुद रही हूं. मैं अभी तक उसके बारे में कुछ नहीं जानता था कि वह कौन है और मुझसे क्या चाहती है. मैं समझने लगा था कि इसकी नींद इतनी गहरी नहीं हो सकती है कि अपनी बुर गांड में उंगली करवाए और जागे ना!मुझे ये साफ़ लगने लगा था कहीं न कहीं उसको भी सब कुछ मालूम था.

अब मेरा पैर पहले से काफी ठीक हो गया था, पर अभी भी हल्का दर्द होता था. मैंने तुरंत उसकी टी-शर्ट ऊपर करके उसकी ब्रा को खोल दिया और उसके मोटे मोटे मम्मों को मसलना शुरू कर दिया. तुम्हें मेरे लंड से चुदकर कैसा लग रहा है?वह बोली- मैं तो तुम्हारे लंड से चुदते ही रहना चाहती हूँ.

मैंने भी उसे भरोसा दिया अगली बार जब भी मिलेंगे उसकी इस फैंटेसी को जरूर पूरा करूंगा।तो दोस्तो, यह थी मेरी दूसरी कहानी. मैं बोला- जी सर!सर ने मम्मी के पेटीकोट के पास हाथ से खींचा, शायद उन्होंने मम्मी के पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया था.

मैं हरियाणा के भिवानी जिले का रहने वाला हूं और दिल्ली की एक मल्टीनेशनल कंपनी में सीनियर इंजीनियर के पद पर कार्यरत हूं.

पहले मैंने एक ही हाथ लगाया, लेकिन जब मुझसे रहा नहीं गया तो दूसरा हाथ भी लगा दिया. सेक्सी चाहिए 2020वो सोती हुई बहुत अच्छी लग रही थी। उसने महरून कलर का गाउन पहन रखा था. सेक्स व्हिडिओ बांगलादेशउसकी बुर अभी भी टाईट थी, जिसके कारण रूपा फिर से बोलने लगी- दर्द हो रहा है भैया, प्लीज़ धीरे धीरे से चोदो. बाथरूम में जाकर मैंने मिरर में देखा कि मेरे सीने पे उसके नाखूनों के और उसके पूरे जिस्म पे मेरे दांतों के निशान बने थे.

दोस्तो, हरियाणा की जाटनी की चुदाई की मेरी सेक्स कहानी कैसी लगी, मेल करके जरूर बताना.

आमतौर पर औसत लम्बाई का लण्ड भी औरत को पूर्ण रूप से संतुष्ट कर सकता है. मोनू- तुम्हारा भाई कहां है … उसे वो पिल्स दे दी न?कोमल- हां वो दोनों पिल्स दे दीं. अच्छा लग रहा है!”मैं उनकी पीठ से चिपका हुआ था। मैंने उनके कूल्हों को नीचे से पकड़कर थोड़ा ऊपर उठा लिया जिससे उन्हें चोदना और भी आसान हो गया। हम दोनों मम्मी को बड़े ही मजे और आराम से चोद रहे थे.

?” अंकल को तो सब पता था, फिर भी अनजान बनने का नाटक कर रहे थे, शायद उनको मेरे ही मुँह से सब बुलवाने में मजा आ रहा था. चूंकि मेरा काम मसाज का था इसलिए मेरे जमीर ने मुझको उनकी मसाज करने को भी अन्दर ही अन्दर मना कर दिया था. हमारे हाथ भी तो गन्दगी साफ करते हैं और हम उन्हीं हाथों को साफ करके खाना बनाते हैं, पूजा करते हैं कि नहीं?” डॉली ने मुझे ज्ञान दिया.

भाभी पटाने के तरीके

वह लड़की कम कॉलेज आती थी, तो ज्यादातर प्रेक्टिकल्स मैं और निकोलस ही किया करते थे. मैं मस्ती के सागर में पूरी तरह डूब चुकी थी और अब किनारे तक जाना चाहती थी. झड़ने के बाद मैंने देखा कि भाभी के चूतड़ों के नीचे पूरा पानी पानी हो रखा था.

सबको खुली छूट मिलेगी ना अब तो?” मैडम ने शिकायती लहजे में सर से कहा।सर ने हंसते हुए अपना पूरा जबड़ा ही खोल दिया- हा हा हा … आप भी कमाल करती हैं मैडम … ये सेंटर और आपको कभी भूल सकता हूँ क्या? यहाँ तो मुझे तोहफे पर तोहफे मिल रहे हैं.

कुछ मिनट में मेरा लंड चुत में ही वापिस खड़ा हो गया और मैं उसको चोदने लगा.

भावना बार-बार मेरे लंड को हाथ में लेने की कोशिश कर रही थी लेकिन अंडरवियर टाइट होने की वजह मेरा लंड अच्छी तरह से उसके हाथ में नहीं जा पा रहा था. अब मैंने उंगली को अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया, जिससे निशा ने अपनी गांड को हिलाना शुरू कर दिया. हिंदी सेक्सी सेक्सी ब्लू फिल्मकुछ ने सुधार करने के लिए भी कहा जिसका मैं उन सभी मित्रों का हृदय से आभारी हूं.

भाभी ने मेरे लंड को गले से बाहर निकाल दिया और लम्बी लम्बी सांसें लेने लगीं. आप सबको तो मालूम ही है कि शादी में कैसा माहौल होता है, हर कोई अपने में ही बिजी होता है, किसी के पास किसी के लिए टाइम नहीं होता. मैं रूपा को गोद में उठा कर मम्मी पापा के कमरे में ले गया और उसे बेड पर लिटा दिया.

मेहँदी-रचे दोनों हाथों से दोनों साइडों पर अंगूठे और तर्जनी की चुटकियों में से लहँगा रह-रह कर छूट-छूट सा जा रहा था और उसके पूरे जिस्म में बार-बार एक झुरझुरी सी उठ रही थी. अपने बॉयफ्रेंड वाली बात भावना ने खुद मुझे मैसेज में बताई थी, तभी मैंने सोचा क्यों न इस बहती गंगा में अपने हाथ भी धो लिए जाएं.

पूजा मेरा लंड अपनी चुत में लेने के लिये उतावली थी और मेरा लंड पूजा के चिकनी चुत में घुसने के लिये झटके मार रहा था.

वहां से मैं अपनी जीभ फैला कर उनकी चूत को चाटते हुए ऊपर की तरफ जाने लगा, जैसे कुत्ते चाटते हैं वैसे. इस पर मायरा शर्मा गई और बोली- कोई बात नहीं भैया, चाचा चाची प्यार कर रहे हैं. कुछ दिन मौसी पर नज़र रखने के बाद मुझे मौसी का डेली रूटीन समझ में आ गया.

बांग्लादेशी बीएफ सेक्सी उधर विलियम ने भी अपने अंडरवियर और पैन्ट को ऊपर खींच कर पहन लिए और मैं भी अपने कपड़ों को व्यवस्थित करने लगी. करीब पांच मिनट तक हम दोनों यूं ही बिना कुछ किये बस एक दूसरे से लिपटे हुए एक दूसरे को महसूस करते रहे.

वो पंखुड़ियां उसके जिस्म पर भी चिपक गयी थीं जो मुझे बहुत अच्छी लग रही थीं. अब मामी बिना कुछ कहे ही उठ कर नाइटी पहनने लगी और चुपचाप कमरे से बाहर निकल गई. पहले उन्होंने मेरा पूरा मुँह रंगा, फिर मेरी शर्ट में हाथ डाल कर पूरे सीने, पेट और पीठ को रंगा.

बीएफ कैसे बनाई जाती है

इससे सरिता जोर से चिल्ला दी और ‘आह हां हाय ऊंई ऊंई हं हं …’ करने लगी. वो भी मेरी चोट सहन करने के लिए राजी दिख रही थी, तभी तो उसने इस बार मेरा कोई विरोध नहीं किया था. मुझे उसकी चूत तो नहीं मिल पाई लेकिन मैं अपने लंड को उसके मुंह में इस तरह डाल रहा था कि जैसे उसका मुंह ही मेरे लिए चूत हो.

तभी आशीष ने पूरी ताकत से एक जोरदार झटका मेरी चुत में मारा और उसका आधा से भी ज्यादा लौड़ा, मेरी चुत में फच्च से घुस गया. मैंने उसको कहा- जब भी मैं बुलाऊँगी, तुम्हें मेरी चूत को चोदने आना पड़ेगा.

इतना सुनने के बाद भी मैं कुछ नहीं बोली, तो अंकल को थोड़ी और हिम्मत आयी और वो मेरा नंगा बदन सहलाने लगे.

उनका नाम मैं नहीं बता सकता हूँ … आप चाहें तो भाभी को रूबी कह सकते हैं. वैसे ही उसके मुँह से तेज तेज आह … निकलता हुआ मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. मैंने उनका लंड पकड़ कर कहा- खबरदार जो किसी और की चूत की तरफ लंड उठाकर देखने की कोशिश भी की तो! मुझे पता था कि अगली बार सप्ताहों तक लंड महाराज और चूत का मिलन न हो पायेगा इसलिए मैं उनके लंड को अपने दोनों चूतड़ों के बीच में फंसा कर सो गयी.

वह ज्यादातर लव रोमांस की बातें ही कर रहा था कि कॉलेज में इसका उसका चक्कर चल रहा है, फलाना किस लड़की के साथ क्या बात करता है. फिर मैंने रीना की आंखों से पट्टी हटाई। हमें पता था कि यह पट्टी हटते ही एक बार रीना चौंक जाएगी. वह एकदम से पीछे की तरफ पलट गई और पैंट में तने हुए मेरे लंड को देख कर बोली- तुम्हारा तो बहुत ही लंबा है.

यहां मैं अपने उन दोस्तों से कहना चाहूंगा कि जिन्हें भी चूत चाटना अच्छा लगता है, वो एक बार जैसा मैंने ऊपर लिखा है, वैसे ट्राय जरूर करना.

सेक्सी बीएफ हिंदी नई नई: फिर धीरे-धीरे मैं अपने हाथ को उसके लोअर के अंदर ले गया और उसकी पैंटी में उसकी चूत पर रख दिया जो कि बहुत गीली और फूली हुई लग रही थी।पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत में उंगली करने लग गया और पैंटी की साइड से चूत में उंगली करने लगा जो कि बहुत ही ज्यादा कामरस से भीगी हुई थी. अब जब पूजा के नाम की मुट्ठ लगनी शुरू ही हो गई थी तो एक बार में कहाँ मन भरने वाला था.

योनि के पानी के कारण धक्कों के साथ योनि और बालों की सयुंक्त ध्वनि ‘छप्पप छप्प छप्प. मेरी शादी को 2 महीने हो गये थे, अब मेरा लंड फड़फड़ा रहा था किसी नयी लड़की की बुर की सील तोड़ने के लिये!संयोग से मेरी साली जो 19 वर्ष की थी, जिसका नाम ऋतु था, वो एग्जाम देने मेरे घर आयी. कुछ ही देर में उसने मेरे लंड को तेजी के साथ पूरा का पूरा चूसना शुरू कर दिया.

अभी तू छोटी क्लास में है, पर अभी से कितना लिपस्टिक मेकअप करके निकलती है.

मगर मैं हैरान था कि यह साली लंड को चूत में डलवाने से मना क्यों कर रही है. अभी तक तो मैं आंटी के चूतड़ और चूचे ही देखता था लेकिन एक दिन मेरी किस्मत खुली और मैंने पम्मी आंटी को बिल्कुल नंगी देख लिया. पिछले भाग में आपने पढ़ा था कि मेरी बहन को कुछ नया करने का मन था तो मैंने उसको अपने कमरे में ले जा कर नये तरीके से चोदा.