बीएफ वीडियो चालू बीएफ

छवि स्रोत,कटरीना की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्स पाकिस्तान: बीएफ वीडियो चालू बीएफ, और बहुत दिन से आयेशा से मिली भी नहीं थी तो मैंने सोचा कि जिस दिन आयेशा आएगी तो उस दिन उससे पूछकर कहानी लिखूंगी.

सेक्सी विडीयो हिंदी

जिस्म की आग भी ठंडी हो जाएगी और आराम से रहूंगी भी, जहां मुझे कोई रोकने टोकने वाला नहीं. ई-मेल वीडियो सेक्सीये सब उसने धीरे धीरे करके बताया था कि कैसे उसका बॉस उसको छेड़ता था और कैसे पटा कर उसे चोदा था.

सर का लंड था भी बहुत बड़ा इसलिए लंड अंदर जाते ही मेरी चीख निकल गयी. इंडियन सेक्सी मॉमयह बात आज से तीन साल पहले की है जब मैं अपनी परीक्षा देने के लिए भोपाल गया था.

मैं भी हंसने लगा और आंटी को ज़ोर से अपनी बांहों में खीच कर उन्हें किस करने लगा.बीएफ वीडियो चालू बीएफ: इस बार मेरी चूत को खोलते हुए उसका लंड आधे से ज्यादा मेरी चूत में घुस गया.

यदि ये सुविधा होती तो अब तक मैं दिल्ली में ही मामी की फोटो मंगा सकता था.गांव के लौंडे अपने घरों में चले गए और मैं अपने टेंट में आकर सो गया.

पाली दुबे का सेक्सी वीडियो - बीएफ वीडियो चालू बीएफ

” कहते हुए मैं लैला के ऊपर से हट गया।की होच्चे?” (क्या हुआ) लैला हैरानी से मेरी ओर देखने लगी।मैंने उसकी कमर को पकड़ते हुए उसे थोड़ा घुमाया और फिर दोनों हाथों से उसकी कमर पकड़ कर उसे डॉगी स्टाइल में कर दिया.उन्होंने मुझे बिल्कुल कस लिया था, कसम से इतना दर्द कभी भी नहीं हुआ था मुझे।वो इतने में भी नहीं रुके और दूसरा धक्का भी लगा दिया.

इस सेक्स हिंदी स्टोरी में पढ़े कि कैसे मैंने अपनी पड़ोसन के साथ सेक्स शुरू किया. बीएफ वीडियो चालू बीएफ चारों ने तय किया कि मेरी कार से चलेंगे और जैसलमेर में टेंट कैंप में नाइट स्टे करेंगे.

मैंने धीरे धीरे अपने घुटने को उसकी पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत पर रगड़ना चालू कर दिया.

बीएफ वीडियो चालू बीएफ?

तभी तुमने उसके नीचे दिए मेरे मेल पते पर मैसेज किया है।उसने कहा- हाँ पहले वाली कहानी के कुछ भाग मैंने पढ़े थे और उन्हीं के नीचे से मैंने तुम्हारी मेल आई डी लेकर मैसेज किया था. यह अभी सिर्फ तीन साल पहले की बात है जब मेरी शादी एक देहात में हुई थी. इधर मेरी गर्लफ्रेंड को जो सेक्स का भूत चढ़ा था, वो लंड के दर्द से गायब हो चुका था.

और हां मुझे यह भी बताएं कि इस सेक्स कहानी पढ़ने के दौरान आपने अपने लंड को मेरे नाम से कितनी बार हिलाया. मेरी प्यारी भाभी जी हैं ही इतनी अच्छी।तो आज मैं भैया भाभी की हनीमून की घटना बताने जा रहा हूँ जो खुद मुझे भाभी ने ही बतायी थी।दोस्तो, वैसे शादी के बाद सुहागरात और फिर हनीमून का मज़ा ही कुछ और है. उनका लंड बहुत मोटा था, मेरी गांड का छेद तब काफी टाईट था क्योंकि अभी ज्यादा किसी से मरवाई नहीं थी.

हमारी उम्र में सेक्स का पता सिर्फ मस्तराम की किताबों से लगता था, पर जय हो गूगल बाबा की … सेक्स अब हरएक की फिंगर टिप्स पर है. अर्जुन सर इज टू लकी!”मैंने उसका इशारा अच्छे समझा, मैंने थैंक्स कहा और जिम वाले फ्लोर पे निकल गयी।मेरे जिम में घुसते ही जैसे, मानो जिम का माहौल थोड़ा अलग हो गया हो. फिर उसे दोहरा कर उसके कंधों को मजबूती से पकड़ कर एक जोर का झटका मारा.

दरअसल एक बार तो लण्ड कुछ अंदर तक भी जाने लगा था जिससे बिन्दू ने मेरी छाती पर हाथ लगा कर रोक दिया और बोली- अभी नहीं, बाद में कर लेना. हम लोग सिनेमा देखते देखते पॉपकॉर्न खा रहे थे, कई बार हम दोनों के हाथ छू जाते.

उसने अपने लंड को उसकी नर्म नर्म गोरी गांड की दरार में घुसा लिया और उसकी चूचियों को भींचते हुए उसकी गर्दन पर किस करने लगा.

जब सामने एक नंगी लौंडिया अपने पूरे शरीर पर क्रीम मले हुए मेरे सामने मुस्कुरा रही हो … तो इसमें ज्यादा क्या सोचना था.

चुदना तो अंकुश से मैं भी चाहती थी पर मैं थोड़े नखरे करने लगी- छोड़ो मुझे अंकुश … ये क्या कर रहे हो. रश्मि की नंगी चूची देख कर जैसे उसको कोई पुराना गड़ा हुआ खजाना मिल गया हो, कुछ ऐसी चमक आ गयी थी उसकी आंखों में।धीरज खोकर उसने रश्मि की चूचियों को अपने हाथों में भर लिया और उनको आराम आराम से भींचना शुरू कर दिया. क्योंकि बहती चुत में एकदम किसी के पैर का अंगूठा एकदम जगह बना ले, तो मेरी कामुक आवाज निकलना पक्का था.

तो सोयी हुई प्रतिभा किसी पुष्प की भांति दमकती हुई और किसी नवजात की भांति मासूम निश्चल निष्काम नजर आ रही थी. बस इतना करने से ही साली जी की कामज्वाला धधक उठी और उसने उठ कर अपना ब्रा खुद उतार कर बेड के नीचे फेंक दी. उसने मेरे लिए व्हिस्की का पैग बनाया और हम दोनों चियर्स करके सिप लेने लगे.

डॉक्टरनी और नर्स मेरा ही वेट कर रहीं थीं उन्होंने झट से दवाइयां मुझसे ले लीं और फिर लेबर रूम में जा घुसीं.

… अंकुश … चोद दो मुझे … ऊउंह ऊम्मंह … बड़ा सुख दे रहे हो … आह … ऊउन्न्ह. ”आप कैसे जानते हैं?”तुम यह सब छोड़ो!”ओह … सर … प्लीज बताओ ना?”अरे बेबी उसका फादर हमारी कंपनी का बहुत बड़ा डीलर है. देसी Xxx सेक्स कहानी में पढ़ें कि जेठ जी से चुदकर उनके लम्बे मोटे लंड से दुबारा चुदने का मन था मेरा.

दोस्तो, कैसी लगी मेरी न्यू बुर चुदाई कहानी? कमेंट्स करके मुझे बताएं. तभी ममा ने मेरी एक टांग को साइड में रखे एक स्टूल पर रखवा दी और पैंटी को चूत के ऊपर से हटा कर बोलीं- ये उन पार्टीज में ऐसे यूज़ हो जाती है. मैंने नेहा की चूचियों को अपने हाथों से मसला, उसे किस किया और नेहा भी मेरे लण्ड को हाथ से हिलाती रही.

बॉस बोले- क्या शादीशुदा इंसान को अपने तरीके से प्यार करने का कोई हक़ नहीं होता.

शाम को सब टीमों के लिए डिनर पार्टी का प्रबंध किया गया।सभी कॉलेज की टीम के सदस्य और अध्यापक पार्टी में आए और खूब एंजॉय किया। किसी को क्या पता कि चूत में लंड घुसा तो जीती हमारी टीम. रॉबर्ट ने अपना माल मेरी गांड में ही निकाल दिया और अपना लंड मेरी गांड में ही डाल कर मेरे ऊपर लेट गया.

बीएफ वीडियो चालू बीएफ नेहा लौड़े के साइज का अंदाजा लगा कर मेरी और हैरानी से देखने लगी और उसे सहलाने लगी. मैंने पूछा- किधर?आया ने बताया कि वे मुझे स्कूल के अन्दर वाले प्रार्थना हॉल में बुला रहे हैं.

बीएफ वीडियो चालू बीएफ अब रश्मि भी मस्ती में आकर अपनी गांड को उठा उठा कर चुदवाना शुरू कर चुकी थी. शीशे में भाभी कभी अपनी चुचियाँ को देखती तो कभी मुड़ कर अपनी पीठ और नंगी सुन्दर टांगों को देखती.

चालू फोन पर उसने बोला- तुम सीधा चलते रहो … मैं दरवाज़ा खोल रही हूँ … तुम सीधा अन्दर आ जाना.

सुहागरात का बीएफ दिखाइए

ये कहते हुए उन्होंने मेरे लंड के सुपारे पर अपनी जीभ गोल गोल घुमा दी. ये दिन कैसे बीते?मेरी प्रिय साईट अन्तर्वासना के प्रिय पाठको और पाठिकाओ, नमस्कार!आशा है आप सब पूर्ण स्वस्थ और सुखी होंगे. लेखक की पिछली हॉट सेक्सी कहानी:मैं बनी स्कूल की नंबर वन रंडीमेरी हॉट सेक्सी कहानी में पढ़ें कि मैंने स्कूल में टीचर, लड़कों से सेक्स फॉर फ्री मतलब खूब चुदाई करवाई.

यहाँ कोई गद्दा नहीं है।मैंने कहा- तो क्या हुआ? खड़े खड़े कर लेना।उसने कहा- नहीं, रुको. मैंने चुदाई करते हुए उसके दोनों मम्मे दोनों हाथों में पकड़ लिए और चूसने लगा. तुम्हारी फूली जींस को देख कर उस दिन मेरी चूत पानी छोड़ने लगी थी प्रकाश.

आपकी चुदक्कड़ अरुणिमा[emailprotected]टीचर स्टूडेंट सेक्स स्टोरी जारी है.

पर मैंने फिर से उसे सीधा कर बेड पर झुका दिया और लंड को उसकी गांड के छेद से रगड़ने लगा. मैंने कहा- सिर्फ एक बार जाते जाते मिल लेता … और वो भी तो घर में नहीं है. तकरीबन दो मिनट तक उसने मेरी चूत चाटी और अपनी तौलिया खोल कर मुझे लंड चुसवाने लगा.

मैंने मन मसोस कर अम्मी की बात मानी और हम दोनों ने एक साथ खाना खाया. मेरे इतना कहते ही मीता ने मुझे धकेल कर मुझे गुलाब से भरे बिस्तर पर गिरा दिया और मेरे ऊपर आ गई. मैं शाजिया के रसीले चूचों को बारी बारी से चूसने के साथ ही नीचे से उसकी मखमली चूत में ज़ोर ज़ोर से धक्के मारे जा रहा था.

मुझे मामी से खबर मिली कि मामा ने सूरत में अपनी जॉब छोड़ दी है और अब वो मामी को लेकर गांव जा रहे हैं. उसके बाद रोहन मुझे अपनी गोद में उठा कर बेडरूम में ले गया और मुझे नंगी कर दिया.

मैंने भी उसके लंड को अपने हाथ से पकड़ कर अपनी प्यासी चुत में सैट कर लिया. अब अकेलापन खाने को दौड़ता है! आपकी कहानी पढ़-पढ़ कर कई बार खुद को सन्तुष्ट कर चुकी हूं. वाह बेड की गादी काफ़ी आरामदेह थी … शायद स्लीपवेल के गद्दे बिछे हुए थे.

नेहा ने बच्चे को अपने बेडरूम में ले जाकर सुला दिया और अपनी मम्मी के साथ किचन में चली गई.

कुछ देर बाद मेरे भाई के लंड से पानी निकला और वह कुछ देर बाद सो गया. मैंने बिन्दू को अपने ऊपर आने का इशारा किया, बिन्दू मेरे ऊपर आ गई और उसने अपनी बुर को मेरे लौड़े के ऊपर रख लिया. मम्मी ने मुझे कुछ सामान दिया और बोलीं कि लो ये सामान मामा के घर देकर आओ.

नेहा कहने लगी- राज, इनके ऊपर निशान मत डालना, नहीं तो मम्मी को शक हो जाएगा?मैंने मन में सोचा मम्मी तो इन निशानों को देखकर खुश होगी. मैंने कहा- मैं चाहता हूं कि तुम मेरे सामने किसी और मर्द के साथ शारीरिक संबंध बनाओ और मुझे देखने दो.

फिर एक दिन कयामत हो गयी, शाजिया ने मुझे कंटीली स्माइल दे दी और मैंने भी रिटर्न में आंख दबाते हुए स्माइल पास कर दी. और फिर अपनी जीभ भाभी की चूत में अन्दर तक डाल देते हैं जिससे भाभी बहुत छटपटाने लगती हैं. इसमें खतरा है तो ऐसा क्यों करती है?रमेश- रति, तुम भी ना बहुत डरपोक हो। यह मेरी बेटी है। इसे अच्छी तरह पता है कि बिजनेस कैसे किया जाता है, यह कोई ख़राब काम नहीं कर रही.

कुत्तिया कुत्तों की बीएफ

आरूषि मस्ती में गहरी सांस भरते हुए- ओह्ह … डोनाल्ड! अब मुझे तुम्हारी जादुई उंगलियां मेरी स्किन पर महसूस हो रही हैं। इसी तरह ऊपर की ओर मसाज देते रहो.

मैंने नेहा से कहा- नेहा वैसे तो मुझे तुम्हारी हर ड्रेस अच्छी लगती है, क्योंकि इस पैंट में तुम्हारी चूत हर वक्त मुझे दिखाई देती रहती थी, लेकिन मुझे तुम्हारा स्लीवलैस टॉप और छोटी स्कर्ट भी अच्छी लगती है क्योंकि उसमें तुम्हारे पट भी दिखाई देते रहते हैं. अम्मी भी मेरे टट्टों को सहलाते हुए मेरा पूरा लंड अपने हलक तक लेकर चूस रही थीं. मैं बाथरूम से होकर आया और प्राची भाभी के पास बैठकर उन्हें निहारने लगा.

मैं भी उसका साथ देने लगी और इसी के साथ अमित ने मेरी चुत में मानो बम विस्फोट कर दिया. गोरी चूत लाल हो गई और अब प्रतिभा के अकड़ने बड़बड़ाने का वक्त भी आ गया. तिरस्कार मधुमैंने एक उंगली पैंटी के अंदर भी डाल दी लेकिन चूत पर नहीं गया और उसकी पैंटी उठा कर जीभ से उसकी चूत के अगल बगल चाटने लगा.

आपने मेरी इस विलेज गर्ल सेक्स स्टोरी में पढ़ा था कि उस रॉंग नम्बर वाली लौंडिया गुड़िया ने मुझे अलसुबह अपने पास बुला लिया था और मैं उसके साथ एक कमरे में आ गया था. तभी अमन ने नीरा को गर्म करते हुऐ सारे बदन को चूमना शुरू कर दिया और मुझे भी इशारे से बुलाने लगा.

फिर वो उछल उछल कर लंड को अपनी चूत में लीलने लगी और चुदाई का मजा लेने लगी. फिर एक दिन हमारे साथी ने बताया कि अब चुदाई सड़क पार वाले खेतों में होती है. अन्दर शेफाली बोली- ये अंकुश कहां रह गया … अभी तक आया नहीं?तभी अंकुश भी आ गया और बोला- ये क्या … आज तो पूरा इंस्टीट्यूट ही खाली है.

फिर अनिकेत ने चूत की फांकों की साइड में दोनों तरफ उंगली रखकर दबा दी. बाप रे बाप … ऐसा लग रहा था जैसे किसी इंसान को गधे का लन्ड दे दिया गया हो. उसको कुछ पल बाद बहुत मजा आने लगा और वो पूरे मूड में आकर उसके लंड की चुसाई करने लगी.

इससे पहले रश्मि कुछ और कह पाती तब तक रमेश अपने घुटनों पर बैठ चुका था.

कॉलेज गर्ल की नंगी चूत की कहानी का पिछला भाग:कभी कभी जीतने के लिए चुदना भी पड़ता है-1सुनील ने बिना डरे कहा- मुझे जेल पहुंचा के तुम ट्रॉफी तो नहीं जीत पाओगी. पापा ने मामा से तो कुछ कहा नहीं, पर मामा इस बात को समझ ज़रूर गए थे कि अब उनका यहां ज़्यादा दिन रहना ठीक नहीं है.

उसके बाद मैंने अपना मेकअप किया और पिंक रंग की ग्लॉस वाली लिपस्टिक लगा ली. मैंने झट से लण्ड को पैंट के अन्दर किया और भाभी के पीछे नीचे उतरने लगा. अब मैं मुस्कुरा दिया और उसके होंठों के करीब अपने होंठ ले जाकर रुक गया.

पिछली कहानी में आपने जो पढ़ा था, आज उसी कड़ी की एक और चूत म लंड की कहानी लिख रहा हूँ. उनके मजबूत हाथ मेरी पीठ पर मचलने लगे … और फिर धीरे धीरे मेरे नितम्बों पर उनके हाथ मेरे दिल में खलबली मचाने लगे. वे मुस्कुरा दिए- मेरा खड़ा उसकी गांड में जाने को नहीं भोसड़ी के, तेरी गांड में जाने को मचल रहा है.

बीएफ वीडियो चालू बीएफ मैंने मामी को बिस्तर पर लिटा दिया और फ़्रिज़ से एक आइसक्यूब लाकर उनके होंठों से लेकर उनके पैरों तक उस आइसक्यूब को अपने मुँह में लेकर फिराया. मैंने उसके सर को पकड़ कर अपने सीने पर चिपका लिया और बोला- सॉरी डार्लिंग.

हमको बीएफ

और जाते जाते बोल गई- नेहा, चादर बदल दे बेटी, बंटी ने काफी गंदी कर दी है. वो- ओहो … इतनी जल्दी है मिलने के लिए!मैं- तुम्हें नहीं है?वो- हां है न. अमित ने आव देखा न ताव … वो पागलों की तरह मेरी दोनों चुचियों को बारी-बारी से पीने और मसलने लगा.

मामी बोलीं- हाथ चला लेते हो मतलब क्या करते हो, मैं समझी नहीं साफ़ साफ़ बताओ न. एकदम मक्खन की तरह गोरी, काले लंबे बाल, काली आंखें, बला की खूबसूरत थी शाजिया. सेक्सी पिक्चर बताओ ब्लूओफ्फो … अरे यार पहले खाना तो खा लो नहीं तो ठंडा हो जाएगा; ये सब करने को तो सारी रात पड़ी है.

विनीता कहने लगी कि दिन स्कूल में कट जाता है और शाम के समय वो कुछ गरीब और पढ़ने में तेज बच्चों को निशुल्क पढ़ाया करती है, ताकि वो सफल हो सकें और इस बहाने उसका भी मन लग जाता है लेकिन फिर तन्हाई में रात काटनी मुश्किल हो जाती है.

” उसने अपनी नज़रें झुकाए हुए ही उत्तर दिया।पर कपड़े उतारे बिना यह सब कैसे होगा?”मैं अपना पायजामा नीचे कर देती हूँ. नेहा अपने कमरे में जाने का बहाना बनाकर आई तो मैंने नेहा से कहा- नेहा मुझे बाथरूम जाना है.

वे ड्रेसिंग टेबल के सामने केवल एक सुंदर लाल पैंटी और टॉप में खड़ी थी और उनका लंहगा नीचे जमीन पर उनके पाँव में पड़ा था. चूत और उसके होंठ इतने गुलाबी थे कि समझ नहीं आ रहा था कि मेरा लंड पहले चूत में डालूं या मुँह में. उसके मुँह से एक ही आवाज आ रही थी ‘आआहह … यस्स … आई लवव … इट … किस मी हार्ड!मीता की आंखें आनन्द में बंद हो गई थीं.

जिससे मेरी ज़ोर की सीईई… निकल जा रही थी।मैं अभी अपना हाथ उसके पाजामे पे फिरा रही थी और उसके लंड को उकसा रही थी।फिर उसने तुरंत ही अपने सारे कपड़े उतार दिये.

मैंने उससे कहा- तुम्हें डर नहीं लगता कि कोई तुम्हें ऐसे चैट करते जान ले।खुशी ने कहा- सच में तुम बुद्धू ही हो।उसका बुद्धू कहना मुझे बहुत ही अच्छा लगा. मैं- वो तो हम जैसे चाहेंगे, चोदेंगे ही … मगर अगर तुम मुझे ये बता दो कि तुम्हें क्या अच्छा लगता है और क्या नहीं, तो हम दोनों और ज्यादा मज़ा कर पाएंगे. मैंने कहा- अगर तुम चुदाई शुरू करने वाली हो … तो क्या मैं कंडोम पहन लूं!इस पर प्रतिभा ने मुस्कान बिखेरी और कहा- हाय रे मेरा चोदू बलम!उसकी इस बात का मैं कोई मायने ना निकाल सका.

फ्लावर कैसे बनाते हैंप्रतिभा मेरे सीने में सर रख कर चौड़ी छाती में उगे बालों को पुचकार रही थी. ओफ्फो … अरे यार पहले खाना तो खा लो नहीं तो ठंडा हो जाएगा; ये सब करने को तो सारी रात पड़ी है.

सेक्सी बीएफ वीडियो हिंदी में दिखाओ

फिर एक दिन कयामत हो गयी, शाजिया ने मुझे कंटीली स्माइल दे दी और मैंने भी रिटर्न में आंख दबाते हुए स्माइल पास कर दी. मैंने भाभी से पूछा- लंड का पानी पीना भी पसंद है?वो बोली- हां तुम मेरे मुँह में ही निकाल देना … मुझे माल को पीना पसंद है. वो भी खुश होते हुए बोलीं- अच्छा क्या बात है … नया फोन किसने दिलाया है?मैंने कहा- मामी … अपनी कमाई के पैसे से ही खरीदा है.

थॉमस ने मुझसे कहा- अब चलो बेडरूम में चलते हैं … मुझे एन्जॉय करना है. हम सोनू के पापा को एम्बुलेंस से घर ले आये और उन्हें अलग से तीसरे कमरे में लिटा दिया. सामने लेट्रिन बाथरूम बने थे और पानी का एक मटका व कुछ बाल्टियां रखी थीं.

फिर अंकुश ने अपना लंड टेबल पड़े जूस के गिलास में डुबोया और लंड को मेरी तरफ करके मुझे लंड चूसने का इशारा किया. कुछ देर की पीड़ा के बाद अब मुझे भी मज़ा आने लगा था और मैं भी उसका साथ देने लगी थी. इससे उसे पता चल गया कि जो आग उसके अन्दर लगी है, वही आग मेरे अन्दर भी लगी हुई है.

फिर उसने मम्मी का हाथ पकड़कर अपने लंड पर रखा लेकिन मम्मी ने हाथ हटा लिया. अब जब भी मेरे बेटे का कोई भी दोस्त घर आता, तो मैं उससे बहुत प्यार से बात करती और उनको अपने चूचे या साड़ी हटाते हुए अपनी सेक्सी नाभि या कभी अपनी 43 इंच की मटकती गांड को दिखा दिखा कर मैं उन सबको खूब तड़पाती.

निष्ठा के इस रूप पर मुझे उस पर बहुत प्यार आ रहा था सो मैंने उसे पकड़ कर उसके गाल चूम कर गाल काट लिया.

दोस्तो, मेरी इस भाभी की चुदाई कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा था कि मेरी दोस्त की प्राची भाभी मुझसे चुदने के लिए मरी जा रही थीं. এনিমেল এক্সआप देखते तो एकदम से उनकी पूरी कमर को अपने हाथों में भर कर उन्हने अपने सीने से लगाने का मन बनाने लगोगे. কুত্তা সেক্সप्राची भाभी के हाथ मेरे बालों पर आ गए और उन्होंने मेरे बाल खींचना शुरू कर दिए. जैसे ही मैं बाहर आई, तो मैंने देखा कि मेरे बेटे का एक दोस्त सामने खड़ा था.

पांच मिनट तक उसको लंड चुसवाने के बाद मैंने उसे नीचे बेड पर गिरा लिया.

इस तरह उस रात उस विदेशी लड़के रॉन ने मेरी बीवी की चूत सुबह छह बजे तक चोदी. इसलिए हमने सोचा कि किसी शरीफ से दिखने वाले लड़के को अपने जाल में फसाएँगी और उससे अपनी अपनी कुंवारी बुर की पहली चुदाई करवाएंगी. मेरा लंड अब भी मामी की चुत में था और मामी की मादक सिसकारियां चीखों के मानिंद निकल रही थीं.

मैंने नेहा से पूछा- नेहा तुम्हारी और रोहित की सेक्स लाइफ कैसी थी?नेहा ने बताया- वैसे तो हमारी लव मैरिज थी, लेकिन राहुल का मेरे अंदर कम ही इंटरेस्ट था. उसके नीचे ब्लाउज, ब्रा, पेटिकोट या पेंटी कुछ भी नहीं पहना हुआ था उसने. मैंने बात बनाते हुए कहा कि मेरी सहली एक बेटी का भी डांस का प्रोग्राम है, तो मैं उसी को देखने आई थी.

हाथी के बीएफ पिक्चर

उनकी चुत से चॉकलेट जैसे ही खत्म होती, मैं फिर से उनकी चूत पर चॉकलेट लगा देता और चूसने लगता. मैंने दीदी को गले लगाया और उसका हालचाल पूछा, तो वो अपनी ससुराल में बहुत खुश थी. जैसे ही मैंने एक बॉक्सर पहने हुए ही दरवाजा खोला, उसने कहा कि आपने पानी का पम्प चालू कर रखा है क्या?मैंने सॉरी कहा और कहा कि मुझे इसका आईडिया नहीं है, शायद गलती से मैंने ऑन कर दिया हो.

मैं उनको देखता ही रह गया, मुझे उनके ही जैसे अंकल पसंद थे। वह मेरे लिए एकदम परफेक्ट थे.

मैं प्रतिभा के रसीले होंठों से कामरस चूसने लगा और मेरे हाथ स्वतः ही उसके उन्नत नोकदार उरोजों को सहलाने लगे.

मैं अपनी गांड मटकाते हुए घर से निकली और चूंकि कुछ ही दूर पर मेरी क्लास थी, तो मैंने पैदल ही जाना उचित समझा. कुछ देर बाद भाभी आई तो उन्होंने रात को पहनने का एक छोटा सा स्लीवलेस गाउन जो भाभी के हिप्स से थोड़ा नीचे था, पहन रखा था. फोटो सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडियोअब जो धक्के उसकी चूत में लग रहे थे उनमें अब दर्द की जगह कामुक सिसकारियां उतर आई थीं- आह्ह अंकल … य्सस … हम्म … वाहह … ओह्ह … अंकल … आह्ह अंकल … गुड … आह्ह … फास्ट।रमेश ऐसे ही चोदता रहा और फिर उसने अपना लंड उसकी चूत से निकाल कर उसके मुंह के सामने कर दिया.

मैं अपनी चुत को 25-30 मिनट चुदवा कर चरम सीमा पर आ गयी थी और मैंने अपनी स्पीड और बढ़ा दी. वह लड़का कुनमुनाते हुए कह भी रहा था कि मेरी गांड केवल थूक लगा कर … उसकी क्रीम लगा कर मारी थी. रिया- तुम्हें मेरा रेट पता नहीं क्या? आगे से दस हजार।रत्न फिर कुछ बोला.

मैं ममा के साथ लेस्बियन सेक्स करना चाहती थी, लेकिन डर भी लग रहा था. मैं दुबारा पलट गयी और थॉमस के बाल पकड़ कर उसकी गर्दन को अपनी चुत के पास ले आयी.

पर फिर धीरे धीरे वासना में डूबने लगी तो विरोध बंद कर दिया और उसका साथ देने लगी।सुनील पागलों की तरह मेरे नर्म होंठों को चूसे जा रहा था, मैं भी अब उसका साथ दे रही थी।पूरे स्टोर रूम में पुच्छह … पुच्छह … पुच्छ … उम्महह … हम्म … की हल्की हल्की आवाजें आ रही थी।उस वक़्त उसने लगभग दो ढाई मिनट तक तो किस ही किया.

जीजाजी आई लव यू टू … यू आर माय फर्स्ट लवर कम हस्बैंड इन ऐ वे; आई एम् आल योर्स एंड विल बी आल माय लाइफ, फ़क मी एनी टाइम यू लाइक!” साली जी बोली और मेरा लंड पूरी तन्मयता के साथ चूसने लगी. इसका फायदा उठा कर उन्होंने अपने दोनों हाथों से मेरी दोनों मोटी मोटी चुचियों को थाम लिया. लेकिन मैंने उससे कहा- तुम भी अपना लंड हिला कर खड़ा कर लो, अगला नम्बर तुम्हारा ही है.

செஸ் பிகிடுறே தமிழ் पिताजी के जाते ही मां आ गईं और पिताजी को न पाकर मुझसे पूछने लगीं- क्या हुआ? तेरे पिताजी किधर चले गए?मैंने मां को आते देख आकर उठ कर दरवाजे की कुंडी लगा दी और सब बताते हुए उनको अपनी गोद में खींच लिया. उसकी चूत एकदम गीली होकर चिकनी हो गई थी और लौड़ा उसके ऊपर फिसल रहा था.

मैं अपनी पूरी मदहोशी में थॉमस के लंड पर उछल रही थी और पूरे रूम में बस फच फच फच की आवाजें आ रही थीं. मैंने सोच लिया था कि अमेरिका में तो सेक्स मामूली बात है।मन ही मन मैं इस बात को लेकर बहुत एक्साइटेड हो रही थी कि अमेरिका जाकर खूब खुलकर चुदूंगी. कभी कभी उसकी सास भी पानी दे देती थी, पर ज्यादा वक़्त वही मुझे पानी देने आती थी.

सेक्सी बीएफ 18 साल की लड़की का

मैंने अनिकेत के लंड को आंड सहित अपनी मुट्ठी में भरने का प्रयास किया, पर पैंट में जब पकड़ा, तो बस टट्टे ही हाथ आए. फिर एक दिन कयामत हो गयी, शाजिया ने मुझे कंटीली स्माइल दे दी और मैंने भी रिटर्न में आंख दबाते हुए स्माइल पास कर दी. अंकुश ने पूछा- रोमा क्या लोगी … चाय कॉफी कोल्डड्रिंक … या जूस?मैं बोली- नहीं … कुछ नहीं … शेफाली कहां है?वो बोला- मैं तुम्हारे लिए जूस लेकर आता हूं … तुम आराम से बैठो.

इस पोजीशन में मेरा लंड चूत और गांड के बीच दस्तक दे रहा था और भाभी की मादक सिसकारियां बढ़ने लगी थीं. उसने अपने पैर मेरे चेहरे के दोनों ओर डाल दिए और खिले हुए फूल की भांति सुंदर, सांस लेती चूत को मेरे मुँह पर टिका दिया.

मम्मी, आपको भी?ये भी कोई पूछने की बात है। मन तो कर ही रहा है। पर अब बाजार में जा के किसी ऐरे गैरे को तो नहीं दे सकते न!हाँ ये बात तो है.

फिर कुछ देर बाद रॉबर्ट ने मुझसे कहा कि अब तुम दुबारा घोड़ी बन जाओ … मैं तुम्हारी गांड मारूंगा. [emailprotected]insta id- funclub_badसेक्स ऑन रोड स्टोरी का अगला भाग:वाइफ शेयरिंग क्लब में मिली हॉट माल की चुदायी- 4. रश्मि की चूत में आज दो दो मोटे और लम्बे खीरे जैसे लंड जाने वाले थे जिसके बारे में सोच कर ही उसके बदन में पसीना आने लगा था.

फिर पूछा- सर किस तरह का एन्जॉय करा रहे हैं आप?बॉस मुस्कुराते हुए उसको देखने लगा और बोला- सेक्स का एन्जॉय. धन्यवाद कैसे दोगे?उसके साथ एक हफ्ता हनीमून और क्या!वो तो जब होगा तब होगा, ये बताओ कि अभी दूसरा राउंड होगा?कुरैशी खड़ा हुआ, शैली को हाथ पकड़ कर खड़ा किया, उसकी चूत को धीरे से दबाया- रानी दूसरा भी होगा, तीसरा भी होगा!अरबाज़ बोला- कौन किसकी सवारी करेगा?कुरैशी- यार मेरा तो मालिनी पे चढ़ने का मूड है. मैं- मैंने पूछा तो था, तुमने मुझ पर छोड़ दिया था तो …वो- जब तुमने पूछा था, तब मुझमें कुछ सोचने समझने की शक्ति नहीं थी.

वो उदास होते हुए बोलीं- काश मैं उस टाइम अपने घरवालों से लड़ी होती, तो आज मेरी ज़िंदगी खुशहाल होती.

बीएफ वीडियो चालू बीएफ: मेरे पति ने मेरी चूत में जीभ की नोक से छेड़ना शुरू किया तो मैं मदहोश होने लगी. मैं रोज शाम को छत पर जाता था, तो उसी समय आंटी का भी अपनी छत पर टहलना होता था.

लगभग 10 मिनट की चुदाई के बाद फिर उसने मम्मी को घोड़ी बना दिया और पीछे से उनकी चूत मारनी शुरू कर दी. घर आकर उसने बातों ही बातों में मुझे नंगी कर दिया था और मैं चुदने के लिए तैयार हो चुकी थी. उन्होंने पूछा- कहां रहती हो?तो मैंने बताया कि एक छोटा सा रूम लेकर रहती हूं.

उनका लम्बा मोटा लंड मेरे सामने तनतना रहा था … बड़ी मस्ती से ऊपर नीचे हो रहा था.

मैंने महसूस किया कि मामी थोड़ा पीछे होकर मेरे लंड से अपनी गांड को टच कर रही हैं. वो अपने सिर को मेरी चूत में रगड़ने लगा जिससे मेरी चूत में गुदगुदी होने लगी. तभी भाभी ने आवाज़ लगायी और कहा- कोलगेट दे दीजिये, मैंने ब्रश नहीं किया है.