एचडी बीएफ दिखाइए बीएफ

छवि स्रोत,मोटा लैंड सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी एचडी चलने वाला: एचडी बीएफ दिखाइए बीएफ, जब मैंने अपना लोअर निकाला तो मामी मेरे लंड के उभार पर थोड़ा ध्यान दे रही थीं.

सेक्सी सेक्सी चुदाई वीडियो हिंदी

उसकी आह निकलती तो मैं जीभ से दाने को सहला देता और अगले ही पल फिर से क्लिट को खींच कर उसकी मादक आवाज का मजा लेने लगता. 16 साल की लड़की वीडियो सेक्सीउसकी चूत में मेरा वीर्य जा चुका था, जिससे मैंने उसके तन मन और दिल पर अपना नाम लिख दिया था.

दोनों ही चूचों को उनके हाथों ने अपनी गिरफ्त में ले लिया था और मेरे पीछे मेरे लहंगे पर नितम्बों वाले स्थान पर उनकी जांघों का लिंग वाला भाग आकर सटा हुआ था. ब्लूटूथ इंग्लिश सेक्सीहैलो फ्रेंड्स, मैं मोहिनी क्रॉसड्रेसर एक बार फिर से आपके सामने अपने दोस्तों के साथ ग्रुप सेक्स कहानी का मजा देने आ गई हूँ.

नई लौंडिया को पाने की कामुकता में मैंने जल्दी से उसकी टी-शर्ट के अन्दर अपने हाथ घुसेड़ दिए.एचडी बीएफ दिखाइए बीएफ: रागिनी और रश्मि दोनों की गांड में मैं हाथ की उंगलियों से चुदाई करने लगा.

मैं- क्या? तुम अपने भाई को अपनी गांड का स्वाद चखाये बिना ऐसे ही तड़पता छोड़ देतीं?रोजी- ओह्ह.कभी वो मुझे अपने बगल‌ में सोते हुए दिख रही थी, तो‌ कभी मेरे पास बैठी हुई नजर आ रही थी … और अब वो तो मुझे दरवाजे पर भी खड़ी नजर आ रही थी.

टॉयलेट का सेक्सी वीडियो - एचडी बीएफ दिखाइए बीएफ

अब जैक, रोनित और नील लेट गए और हमने उनके लंड को अपनी गांड में रखा था.पंकज के लंड को उसने तब तक अपने मुँह में लिए हुए चूसना जारी रखा जब तक कि वीर्य का एक एक कतरा निकलता रहा.

मेरे ख्यालों में बस शायरा ही शायरा घूम रही थी … इसलिए मैं अपनी आंखें बन्द करके अपने लंड को सहलाते हुए भी शायरा को ही इमेजिन कर रहा था. एचडी बीएफ दिखाइए बीएफ दस मिनट बाद वो बोलने लगी- ओह मेरे राजा … तुम आज तक कहां थे … मुझे नहीं मालूम था कि पीछे से करवाने में इतना मजा आता है.

उसकी गान्ड देखकर मेरा मन बदल गया और मैंने लन्ड को चूत से बाहर निकाल लिया।मैंने सामने से तेल की शीशी उठाई और उसकी गान्ड के छेद पर तेल गिराया.

एचडी बीएफ दिखाइए बीएफ?

मैं मन में सोच लिया था कि आज चाहे जान भी चली जाए, पर शीतल की चुत चुदाई तो पूरी करके ही जाऊंगा. कसम से मेरे लंड की हालत भी अच्छी नहीं थी।फिर भी मुझे जो मजा मिल रहा था उसके आगे सारा दर्द कम था।अब तो प्रिया को भी मजा आने लगा था. वो बोली- अरे फाड़ेगा क्या?मैंने कहा- जब इन दोनों की नहीं फटी तो तुम्हारी कैसे फट जायेगी?वो हेतल से बोली- भाभी, इसने आपकी गांड कैसे मारी?हेतल बोली- बहुत मस्त चोदता है.

मैंने पूछा कि वो उठ क्यों गयी?तो कहने लगी कि बस में लोग ज्यादा हैं. फिर मैंने मोना को पीछे से पकड़कर उसकी चूचियों को दबाना शुरू किया और उसकी कमर पर किस करना शुरू कर दिया. शायरा ने अब बहुत कोशिश की कि उसके मुँह से चीख ना निकले, पर ये ऐसा धक्का था कि किसी भी लड़की की चीख निकल जाती.

मैंने कहा- पूरे कपड़े क्यों निकाल रही हो?बुआ ने कहा- बेटा कपड़ों में तेल लग जाएगा … इसलिए उतार दिए. उनके दूध एकदम तने हुए थे और ऊपर से भाभी खुद ही कुछ अपने चूचे तान कर मुझे दिखा रही थीं. मैं बोला- यार कैसी बात कर रही है, मरवायेगी क्या?वो ये सुनकर हंसने लगी और बोली- नहीं कहूंगी, ये बातें बताने की नहीं होती.

अपनी इसी आदत के चलते मैंने अब तक बाइस चूतों की चुदाई की है, इनमें हर उम्र की चुत शामिल रही है. मैंने उस लैटर को सीधे ही शायरा को नहीं दिया, देता भी कैसे? मुझे तो उसके सामने जाने में भी अब डर लग रहा था.

उसकी जीभ लगते ही मैं गुदगुदा गयी और सोची- मार दे बहनचोद … मैं सही में तेरी रंडी ही हूं.

मैंने उनके मम्मों को देखा और उन्हें देख कर सवालिया निगाहों से देखा.

अनामिका- तू क्या मदद करेगी साली बोल … यहां मेरी चूत से अंगारे निकल रहे हैं. मैंने उसके मुंह से खाना खाया।उसके बाद वह सरप्राइज की तैयारी करने चली गई. मैं उसके बोबे चूसने लगा, फिर उसके पेट, नाभि, कमर को किस करते हुए उसकी शेव की हुई डबलरोटी नुमा चूत तक पहुंच कर चाटने लगा.

[emailprotected]फ्री गे पोर्न स्टोरी का अगला भाग:गे वैडिंग प्लानर की लंड की ख्वाहिश- 3. उसने अपनी कुर्सी को थोड़ी पीछे किया और की-बोर्ड और माउस अपनी तरफ करके समझाने लगा. वो बोला- चाची, आप अपने मैक्सी उतार दो … मैं आपकी मालिश अच्छे से कर दूंगा.

पता नहीं ये क्या हो रहा था … मुझे जो चारों‌ ओर शायरा ही शायरा दिखाई दे रही थी.

भींचते हुए उसके मुंह से जोर की चीख निकल गयी- आआआ … उफ्फ!उसकी आवाज को दबाने के लिए मैंने अपने चूचे को उसके मुंह में दे दिया और वो गूं … गूं करके उसको पीने लगा. दोस्तो, मैं उम्मीद करती हूं कि आप लोगों को यह सेक्स कहानी बहुत अच्छी लगी होगी. प्रियंका अपने दूसरे हाथ को भी उसकी गांड में फेरने लगी और अपनी इंडेक्स फिंगर को उसकी गांड के छेद में हल्के दबाव के साथ डालने लगी.

फिर उसने अपने हाथ में थोड़ा सा थूक लिया और मेरी गांड पर लगा कर मसल दिया. वाह … क्या छेद है … अन्दर से भी टाइट … कसम से इसे बड़ा करने में मुझे बड़ा मजा आएगा. शायरा का दर्द कम करने के लिए मैंने अपने होंठ उसके होंठों से जोड़ दिए और उन्हें हौले हौले प्यार से चूसने लगा, ताकि शायरा दर्द को भूल कर किस पर फोकस करे … और उसका दर्द कुछ कम हो ज़ाए.

इसकी वजह से मैं खाना खाकर अपने रूम में चली आयी और कपड़े बदल कर सोने की तैयारी करने लगी.

कुछ दिन ठहर कर एक मकान और दुकान देख कर मैंने अनु और कमल को मुम्बई बुला कर शिफ्ट कर दिया. तब मेरी पहली चुदाई के बाद सुरभि मैम बाथरूम में थीं, मैंने उनको बुला लिया था.

एचडी बीएफ दिखाइए बीएफ मैं ये देख कर हैरान था कि शॉवर इतना बड़ा था कि उसके नीचे नहीं होने पर भी पानी अभी भी हम दोनों पर लगातार गिरे जा रहा था. मैंने भी फिर से अपने लंड पर थूक लगाया और लंड को चूत पर लगाकर शायरा के ऊपर आ गया.

एचडी बीएफ दिखाइए बीएफ उसके कॉलेज में पढ़ने वाले जितने भी लड़के-लड़कियां है, वो इसको बहन जी, बहन जी कहकर पुकारते थे. मामी किसी पोर्नऐक्ट्रेस की तरह अपनी दोनों टांगें चौड़ी करके चूत को खोल कर लेटी थीं.

मुझे तो चार पांच धक्कों के बाद मजा आने लगा था लेकिन उन दोनों की चीखें मुझे दस मिनट तक सुनाई देती रहीं.

बीएफ वीडियो में बीएफ वीडियो बीएफ वीडियो

भाभी जी सांवली सी थीं … लेकिन आकर्षक चेहरे वाली एकदम गोल गोल मम्मों वाली माल थीं. भाभी बोलीं- क्या बात है बड़ी जल्दी रेडी हो जाते हो? अब क्या मेरी जान लेकर ही मानोगे. चूंकि उसके पापा चाची और भैया को छोड़ने जाने वाले थे तो जाते हुए वो मुझे बोलकर गये- तुम पुण्या का खयाल रखना.

उसने अपने दोनों होंठों के बीच मेरे छेद को मुँह में भरा और उसे मेरे होंठों की तरह ही चूसने लगा. फिर चाचा जी ने धीरे धीरे अन्दर बाहर लंड करना शुरू कर दिया और ‘हम्म … हम्म …’ करने लगे. बाहर हो रही हल्की बारिश की बूंदें हमारे शरीर पर गिर रही थीं और उसी बारिश में मैं अपर्णा को चोद रहा था।ऐसे बारिश में मैं पहली बार किसी लड़की के साथ सेक्स कर रहा था और अपर्णा के लिए भी ये पहली बार का ही बिल्कुल ही एक नयी तरह का अनुभव था.

फिर उस लैटर व गुलाब के फूल को शायरा के दरवाजे के पास रख दिया और उसके दरवाजे को एक बार जोर से खटखटाकर जल्दी से सीढ़ियों पर अन्धेरे में जाकर छुप गया.

इस वक्त मेरे पास पूरे चार झोले सामान था, जो कि पड़ोसन भाभी के सामान से ही भरे हुए थे. उसके बाद वो पीछे से ही मेरे ऊपर चढ़ गया और मेरी गांड में अपना लंड डाल कर मुझे चोदने लगा. वो मेरे ऊपर आ जाये और मैं उसको बांहों में कैद करके उसको चूमूं और उसको प्यार करूं.

उन्होंने तुरंत अयान को आवाज लगाई और मुझे बताया कि अयान बहुत अच्छा पैर दबाता है. मैंने बोल दिया कि आप आओगे गद्दे चादर लेकर … और वो कॉलेज में बर्थ सर्टिफिकेट लगना है, वो भी लाओगे. मैं बोला- ऐसे क्या देख रही हो?वो बोली- यार तेरा तो बहुत बड़ा है, ये मेरी चूत में जायेगा कैसे?मैंने कहा- तू उसकी चिंता न कर.

”ये कहकर उसने अपनी जीभ को धीरे धीरे करके आधा मेरी गांड में सरका दिया और हिलाने लगा. अब मैंने ईयर फ़ोन लगा लिए और खिड़की तरफ अपना सर टिका कर मौसम का मज़ा लेने लगी.

उस लैटर को वहीं दो बार पढ़ने‌ के बाद शायरा उस गुलाब व लैटर को‌ लेकर अब अन्दर चली गयी और अन्दर से दरवाजा बन्द कर लिया. उसकी नर्म चूची हाथ से छूते ही लंड बैखला गया और नसें फटने को हो गयीं. मैं समझ गया कि शायरा क्या कहना चाहती है … इसलिए मैं अब ऐसे ही रुक गया.

अब आगे की इंडियन देसी गर्ल गांड कहानी:अब मेरी चाचा जी से सारी शर्म खुल गयी थी.

जैसे जैसे मैं उसके लंड को चूस रही थी वो मेरी चूत को और जोर से चाटने लगता था. बिन्नी की आवाज को मैंने अपने हाथ से दबा लिया और लण्ड को पूरा एक ही झटके में अंदर तक ठोक दिया. दूसरे ही पल उस कार वाली घटना को सोचकर अपने आप को शांत करने की कोशिश करता.

पर भैया ने कैसे भी‌ जुगाड़ लगाकर मेरा दाखिला दिल्ली के एक कॉलेज में करवा ही दिया. दिल्ली जैसे बड़े शहरों में अधिकांश लोग अधिक पैसे कमाने के लिए किरायेदार रखते हैं.

रास्ते में ही कई बार संकरी सीढ़ियों में उसने मेरी पीठ को सहलाया और कई बार चौड़े रास्तों में भी मेरे हाथ को बिना छोड़े आंगन के बीच में रखे सामान के ऊपर से ही मुझे लेकर मेरे रूम तक गया. मगर उसके घर का दरवाजा बन्द था … इसलिए उसने मुझे आते जाते नहीं देखा. क्योंकि मैम बोल कर गयी थी कि वो ऑफिस में कुछ काम से जा रही हैं … तो वो देर से यही कोई पौना घंटे में ही आ पाएंगी.

बीएफ वीडियो में अच्छी वाली

घर पहुंचते ही मैंने सबसे पहले दरवाजे की कुंडी लगाई और हम एक दूसरे को चूमने लगे.

आपके रेस्पोन्स से प्रेरित होकर मैं अपने और अपर्णा के बाकी सेक्स अनुभवों को आप सबके साथ साझा कर सकूंगा कि कैसे मैंने अपर्णा की गांड की चुदाई की और उसके अलावा और भी बहुत कुछ किया. चाची बोली- गांड मारनी हो त मार लिए … तेरा चाचा भी मारा करता।मैं बोला- ठीक है आज गांड भी मारुंगा. मैंने कहा- अच्छा बड़ी चिन्ता है उसकी … क्या तुम्हारी चूत वो सही जगह हो सकती है?वो बोली- धत् … आप भी ना.

काफ़ी कम उम्र में ब्याह के बाद मैंने ही उसकी अनछुई चूत की सील तोड़ कर किलाभेदन किया था. सूरज का लंड चाचा जी छोटा भी था और पतला भी … तो मुझे ज्यादा दर्द महसूस नहीं हुआ और आसानी से उसका पूरा लंड चुत में अन्दर ले गयी. गोरिला सेक्सीऔर लंड बार बार अंगड़ाई तोड़ रहा था तो मैं चाची की चूचियों को पीने लगा.

मैं आपकी सिमरन एक बार फिर से अपने एक और बीडीएसएम सेक्स रोमांच के साथ आ गयी हूं. मैं एक बार फिर से बता दूँ कि मेरे लंड की साइज़ 6 इंच है, जो शीतल को बहुत पसंद है.

एक हाथ से वो मेरे एक मम्मे भींचता, तो दूसरे हाथ को मेरी नाभि के आस-पास सहलाते हुए उंगली को नाभि के अन्दर चलाने लगता. दो पैग में ही नशा होने लगा और मोना को देखकर मुझे उसको चोदने का मन करने लगा. वो मुझसे बात करते टाइम बोलती थी कि मुझको दुबारा चोदने कब आओगे … मेरी चूत तड़प रही है … गांड में भी लंड लेने की अजीब सी कसक उठती है.

मुझे गुस्सा आता है कि मेरे बॉयफ्रेंड के अलावा मुझे कोई और नंगी देखे. शादी से पहले भी मेरा वक्ष स्थल पुरूषों के आकर्षण का केंद्र बना रहता था. पांच मिनट तक वो चुसवाता रहा और फिर अचानक से उसकी आह्ह … निकली और उसने मेरे सिर को पूरा जोर लगाकर लंड पर दबा दिया.

आह जीजू … आप अपना लंड अच्छे से दिखाओ न!मैं फ़ोन के करीब जाकर अपना लंड हिलाने लगा.

मुझे तो ऐसा लग रहा था कि आज के बाद मेरी चूत किसी के काबिल बचेगी भी या नहीं।जॉन्सन का घोड़े जैसा लंड मेरी चूत की उस गहराई तक पहुँच रहा था जहाँ तक आज से पहले किसी का लंड पहुँच नहीं पाया था।मैं बस उसके लंड को किसी तरह झेल रही थी. वो बोला- अपनी ब्रा और टी-शर्ट उतार कर बैठ जाना, तुम ऊपर से जैकेट तो पहने हो.

इधर शुरू में मुझे हल्का सा दर्द ही हो रहा था, तो मैं ‘आहह … आह … स्सी … आई. दोस्तो, जैसे जैसे लंड में रक्त प्रवाह प्रबल होता जाता है वैसे वैसे मर्द की वासना भी बेकाबू होती जाती है. उसकी चूत में मेरा वीर्य जा चुका था, जिससे मैंने उसके तन मन और दिल पर अपना नाम लिख दिया था.

वो दोनों सेक्स के दौरान वाइब्रेटर को एक नया लंड मान कर इस्तेमाल करने लगे. ऐसी सुन्दर लड़की मुझे मिले, तो मैं एक सेकंड में ही शादी के लिए हां कर दूँ. वे अन्दर करने लगे तो मैंने कहा- ठहरो यार … कभी गांड मारी है?वो कुछ नहीं बोले.

एचडी बीएफ दिखाइए बीएफ दो मिनट में ही सूरज का लंड फिर से खड़ा हो गया और मैंने मुँह से निकाल के कहा- चाचा जी, इसका खड़ा हो गया है. खैर, ये बातें लंबी हो जायेंगी! मूल पर चलते हैं!मैंने उसे नीचे किया और टीशर्ट में हाथ घुसा कर उसकी चूचियां दबाने लगा.

हिंदी सेक्सी बीएफ मां बेटे की

मेरे घर वाले भी इस बात पर राजी हो गये क्योंकि दिल्ली जैसे शहर में अकेले रहना कोई समझदारी वाली बात नहीं है. ससुर ने बहू को चोदा पूरी नंगी करके उसकी झांटें साफ़ करके! फिर ससुर ने अपनी बहू की गांड भी मारी. इसलिए मुझे फूफाजी का साथ मिल गया था और हमारे रिश्ते के बारे में कमल को भी सब मालूम है.

उन्होंने अपना लंड हिलाया और बिल्कुल मेरे होंठों के पास ले आकर मेरे कानों के पास से मेरा सिर पकड़ लिया. फिर थोड़ी देर में हम अलग हुए तो मैं उठा और अपने सारे कपड़े निकाल दिए और चाची के भी कपड़े निकालने लगा. हिंदी आवाज में सेक्सी विडियोउसके कुछ देर के बाद मेरी चूत में से दर्द जैसे गायब हो गया और मैं चुदने का मजा लेने लगी.

मैं उन्हें अपनी ओर झुका कर उनकी चुचियों को चूसने लगा और उनके होंठों को किस करने लगा.

उसकी इस हरकत से अब मुझे भी मज़ा आने लगा, जिसके चलते मैं उसका कोई विरोध नहीं कर पाई. हम दोनों नहा-धोकर तैयार हुये, चाय पी, नाश्ता किया और सीधे एक होटल में पहुंच गये.

यह कह कर मैंने बिन्नी को बांहों में उठा लिया और अपने शरीर पर लटका लिया. वो- पागल हो क्या, ये क्या कर रहे हो?मैं- तुमने ही तो कहा जैसे दूसरे लड़के रहते हैं … वो जो करते हैं … वैसे रहो. भाभी बोली- मैं भी तुम्हारे लंड से कब से चुदना चाहती थी।उसने जब से मुझे खिड़की से मुठ मारते हुए देखा था, तब से ही वो मेरा लंड लेना चाहती थी.

मैं- तब तक क्या ऐसे ही रहोगी? पता है ना कपड़े से इन्फैक्शन हो सकता है.

मैंने कहा- आज कैसे याद किया राजेश?वो बोला- अरे यार, राजस्थान आया हुआ हूँ. उसने इशारे से अपने पास बुलाया और मुझे अपनी गोदी में बैठने के लिए बोला. मेरे चेहरे की तरफ देखते हुए भाभी बोलीं- अरे नंदिनी क्या बात है, क्यों रो रही हो?मैं- नहीं नहीं … ऐसा कुछ नहीं है भाभी.

सेक्सी नई बीपीमीना ने ब्रा नहीं डाल रखी थी।मीना- भाई क्या देख रहे हो? मूवी उधर चल रही है. फिर भी मैंने पूछा- क्या बात है?विक्रम मुझे अपने रूम में ले गया और बोला- यार तेरे और भाभी की चुदाई की आवाजें सुनकर मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है … और तू जानता है कि मैं मुठ नहीं मारता.

हिंदी बीएफ 2020 का

जब भी सुपारा थोड़ा छेद को पकड़ता तो बिन्नी अंदर लेने के लिए मेरी तरफ जोर लगा देती थी. अनु ने हंसते हुए सिगरेट अपनी उंगलियों में दाब ली और कश खींचना शुरू कर दिया. उनके खाना परोसने के बाद वह बाजू की चेयर पर बैठने लगी तो मैंने उन्हें खींचकर अपनी गोद में बिठा लिया.

मैंने अनु को फोन पर रिंग दी और अनु ने दरवाजा खोल कर हम दोनों को अन्दर ले लिया, साथ ही वो मुस्करा पड़ी. इसके बाद मैं छोटी बुआ के घर जब भी जाता था, तब वो मुझसे अपने पैरों को मालिश करवाती थीं. मेरा जिस्म फड़क रहा था और मेरे चूतड़ अब खुद ही उसके लंड पर रगड़ने के लिए बेताब हो उठे थे.

उस पर तो पहले से ही फिदा था मैं!बस फिर तो मैंने उसकी नाभि को चूमना शुरू कर दिया. मेरी कमर के पीछे किसी ने अपनी छाती सटा दी और अपने बाएं हाथ से मेरी छाती से मुझे दबोच लिया. तभी पंकज ने मुझसे पूछा- कहीं अनिल गुस्सा तो नहीं होगा?मैंने अपनी टांग उसपर फेंकते हुए कहा- गुस्सा क्यूँ होंगे … वही तो मुझे भी मनाकर ले कर आए हैं और तुम्हें भी बुलाया है मेरी चुदाई करने के लिए.

फिर क्या हुआ?अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार।मैं राजदीप एक बार फिर से अन्तर्वासना सेक्स स्टोरी पर आपका स्वागत करता हूं. कोई 5 मिनट तक हम इसी पोजीशन में चुदाई करते रहे और उसके बाद मैं उठा और साइड में लेट गया.

इस समय मेरा लंड खड़ा होने लगा और मन में चलने लगा कि न जाने आज भाभी को क्या हो गया है, इतनी जोर से मुझे क्यों भींच लिया है.

”इसी तरह बातों ही बातों में मैं सायरा की टांगों के बीच में आ गया और सायरा से बोला- बहू!इस समय मैंने जानबूझकर बहू शब्द बोला. चाइनीस लड़की की सेक्सीउसके आने से पहले ही मैंने अपने फ़ोन में वीडियो रिकॉर्डिंग चालू करके उसे ऐसी जगह पर इस तरह से रख दिया था कि कमरे में जो भी बात हो या काम हो, सब चुपचाप रिकॉर्ड होता रहे।पंकज के रूम में आने के बाद हम दोनों ने एक दूसरे को हाय बोला और दोनों अपनी ख़ुशी या झेंप छुपाते हुए बैठ गए।मैं अपनी ख़ुशी छिपा रहा था और पंकज बेचारा इस झेंप में था कि खुश होने से कहीं मैं अपनी बीवी को उससे चुदवाने से मना न कर दूं. छोटे बच्चों की हिंदी सेक्सीधीरे-धीरे हम दोनों में थोड़ी बेतकल्लुफी बढ़ गई और वो मुझसे कुछ ज्यादा ही मजाक करने लगी. वो बोला- सॉरी मैम! अंदर आने से पहले मुझे दरवाजा नॉक कर लेना चाहिए था.

मैं बोला- क्यों … तुझे गांड मराने में मजा नहीं आया … साली गांड तो फटी हुई थी.

इसलिए अपने लंडों को बाहर निकाल लो और मजा लो।पिछले हफ्ते ही मेरी दिल्ली की रिटर्न फ्लाइट कैंसिल हो गयी थी. हम पूरे घर में नंगे ही घूमते रहे … तथा उस घर के हर एक कोने और हर एक दीवार के सहारे हमने रात भर चुदाई की थी और सुबह एक बजे तक सोते रहे थे. हम दोनों ने उन दोनों लड़कियों को भी खिलाया … ताकि किसी को हम पर शक न हो.

मैं- मतलब तुम्हें अच्छा लगा जब उन्होंने मुझे तुम्हारा हज़्बेंड बोला?वो- तुम भी ना … कुछ भी मतलब निकाल लेते हो!मैं- तो बताओ बात क्या है, दोस्त मदद करने को होते हैं. इसलिए कुछ देर तो हम ऐसे एक दूसरे के बदन की गर्मी को ही फील करते रहे, फिर शायरा के मुँह को मैंने अपने मुँह से बंद कर दिया. दोस्तो उस टाइम जो खुशी मिल रही थी उसे मैं शब्दों में बयान नहीं कर सकता कुछ ही देर बाद ट्विंकल का शरीर अकड़ गया और मैं बड़ी कामुक सीत्कार करते हुए मेरे मुँह में ही झड़ गई.

जंगल का सेक्स बीएफ

फिर उन्होंने मेरी चूची को जोर से दबाया तो मेरा मुँह खुल गया और चाचा जी ने उसी पल मेरे मुँह में अपना लंड घुसा दिया. वो मेरे ऊपर आकर मेरे कान में बोलीं- आज से पहले मैं ऐसी कभी नहीं चुदी … तू सच में बहुत मस्त मर्द है. वहां अनामिका प्रियंका के पीछे भागने लगी … और आखिरकार उसने प्रियंक को पकड़ कर नीचे जमीन में ही गिरा दिया.

वो- और वो क्या?मैं- दोस्त दिन में हंसी देगा और प्रेमी दिन रात खुशी देगा.

फिर उसने जैसे ही आंख खोली, मैंने पूछा- कैसा लगा?उसने मुझे बैठ कर हग कर लिया और बोली- बहुत ज़्यादा अच्छा लगा … तुम्हें पसंद नहीं आया ना?मैंने कहा- शुरूआत थी तो ऐसा हुआ, बाद में ज़रूर आएगा.

मैं बता नहीं सकती कि मुझे उस समय की किस तरह के सुखद अनुभव की अनुभूति हो रही थी. स्वाति मुझसे अपने सेक्स सम्बन्धों को लेकर हर तरह से खुल चुकी थी और उसे मुझसे किसी भी बात के करने से कोई गुरेज नहीं रह गया था. सेक्सी वीडियो नंगा मारवाड़ीप्रियंका- मैंने तो तेरे को ऑफर दिया है न … और अब तो जीजू ने तुझे नंगी देख भी लिया है और उन्हें तू पसंद भी आ गयी होगी.

उसके बाद उसने लंड को बाहर निकाला और एक हाथ से मुठ मारते हुए पंकज के आंडों को उसने मुंह में भर लिया. टैक्सी में बैठ कर मैंने अविना को बताया कि मेरी तुम्हारे साथ हनीमून मनाने की इच्छा है. मैंने भी ना चाहते हुए भी सनी के सर को पकड़ लिया और उससे स्मूच करने के लिए आगे बढ़ी.

आज काफी दिनों बाद आप सभी भाई बंधुओं, सभी कमसिन कलियों भाभियों और आंटियों का अपनी नई कहानी में स्वागत करता हूँ. मैं देर न करते हुए भाभी के ऊपर आया और अपने सुपारे को चूत पर रगड़ने लगा.

मैंने तो जितनी भी लड़कियां व औरतें पटाई थीं … वो सब ऐसे ही पट गयी थीं.

आते जाते भी उनकी नजर इसी तरफ होती।फिर तो मैंने भी सोच लिया कि जो होगा देखा जाएगा आज कुछ नया करूंगा. ये सुन कर पांचों लड़के मानो किसी भूखे भेड़ियों की तरह मुझ पर टूट पड़े. वो बोली- राहुल के अलावा मेरा जीजा भी मुझे चोदता था। मेरे जीजा ने तो दबा दबा कर चोदा है मुझे। साला तगड़ा लौड़ा था उसका और बहुत ही मजा देता था। जीजा के बाद आज ऐसा लौड़ा मिला है जो अंदर तक मेरी प्यास बुझाएगा।अब मैं उसकी चूत में लंड को पेलने के लिए उतावला था.

देसी मराठी सेक्सी भाभी राजू चाचा ने अपना मुँह हटा कर कहा- चल मेरी छिनाल भाभी … अब अपने इस देवर का मूसल तो एक बार चूस कर देख … फिर आएगा चुदाई में मजा. शायद मैं उसके बारे में कुछ ज्यादा ही सोच रहा था, इसलिए चारों तरफ मुझे वो ही वो नजर आ रही थी.

वो मेरे कान के पास अपने मुँह को लाकर बोला- मुझे आपके मम्मों की मालिश करनी है और मैंने अपनी सुविधा के लिए आपके हाथ बांधे हैं. मैंने उसकी पैंटी पर लगे रस को सूंघा तो मेरी जीभ एकदम से निकलकर उसकी चूत को पैंटी के ऊपर से ही चाटने लगी. फिर मैंने उसकी टाँगों को कंधे पर रख कर लन्ड को उसकी चूत में डाल दिया।अपर्णा की चूत चुद चुदकर लाल हो गयी थी.

चाची की बीएफ वीडियो

पिंकी फटाफट नहाई और एक झीना सा नाईट सूट डाला और ऊपर से गाउन डाल लिया. हां सीता जी, राम से तीन इंच ऊंची हो गई थीं … पर इतनी खूबसूरत सीता फिर कोई नहीं बनी … न वैसा पार्ट करने वाली. अनु अन्दर आते ही बोली- मौसी, अकेले अकेले ही पूरा साफ मत कर लेना, कुछ मेरे लिए भी बाकी रखना.

कुछ देर बाद बाथरूम का दरवाजा खोलकर अनिल बाहर आ गए और मुझे बोले- अरे … तुम दोनों यहाँ चुपचाप बैठ कर भजन गाने आए हो या चुदवाने और मजे लेने आए हो?वो बोले- इतनी देर अगर मल्लिका मेरे साथ अकेले रहती तो मैंने तो अब तक एक बार चोदकर उसे शांत कर दिया होता. मगर फिर भी मैं उसके मम्मों को दबाने मसलने लगा था, जिससे शायरा को पूरी तरह से अच्छा लगने लगा.

वो जैसे जैसे मेरे चुत पर अपनी उंगली घुमाता गया, वैसे वैसे मैं उसके लंड को अपने मुँह के अन्दर बाहर करने लगी.

मैं उनकी इस बात से हंस पड़ा और भाभी भी मुक्त हंसी हंसते हुए खिलखिला दीं. मेरी गांड अब भी दर्द कर रही थी, पर चूत में चुदवाने की वजह से बहुत मजा आ रहा था. मगर मैंने उसकी चूचियों पर मुंह लगा दिया और उनको पीते हुए उसकी चूत में लंड को पूरा उतार दिया.

पता नहीं कितनी बार … और बीसियों किस्म के आसनों में हम तीनों ने सेक्स किया. संध्या चाची- कितने बेसब्रे हो रहे तुम, जरा रुको तो … मैं बाथरूम से शॉवर लेकर आती हूँ मेरे मुन्ने, फिर अपनी अम्मा का जितना दूध पीना हो पी लेना. मेरी चूत और मैं तुम्हारी गुलाम हूं।मैंने कहा- मेरी जान अफसाना … गुलाम नहीं तुम मेरी रानी हो।तब मैंने लंड निकाल लिया और उसे घोड़ी बनाया.

जी में आ रहा था कि फिर से कविता को अपनी बांहों में भर कर जीभर के उसके रसीले होंठों को चूम लूं.

एचडी बीएफ दिखाइए बीएफ: मीनू सेक्स में बड़ी बोल्ड थी।वो खुल कर बोलने लगी- आह्ह … क्या लौड़ा है यार तेरा, ये तो मेरा भोसड़ा फाड़कर रख देगा. मैं उसके पैर फैला कर बीच में बैठ गया और अपने छह इंच के सीधे खड़े लंड को उसकी चूत के मुँह पर रगड़ने लगा.

कमरे में जाते ही मैंने अपने कपड़े उतारे और उसकी साड़ी को एक ही झटके में हटा दी. मैंने अगले ही जोरों से उनके होंठों को चूमते हुए कहा- मासी आज से मैं आपका मर्द हूं. अनामिका- क्या मतलब … सुरभि मैम भी तेरे जीजू से चुद चुकी है?प्रियंका- अरे वो तो मेरा ही प्लान था … सुरभि मैम भी तेरी ही तरह चुदने को तड़प रही थीं और उनका तो ब्वॉयफ्रेंड भी नहीं था.

करीब एक बजे तक हम ऐसे ही एक दूसरे को चरमसुख देने के प्रयास करते रहे.

एक घंटे से भी ज्यादा समय हो गया था मुझे … और अभी तक मैं शायरा के साथ सिर्फ़ ऊपर ऊपर से ही प्यार कर रहा था. इतनी बात करने के बाद मैं उनके घर से बाहर निकलने लगा, तो भाभी ने बड़ी शराफ़त से पूछ लिया- क्या नाम है आपका … आप यहां पर कब से हो. एकता और प्रमिला को हेतल के फार्म हाउस के बारे में पहले से ही पता था.