सेक्सी भेजो बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ की कॉमेडी

तस्वीर का शीर्षक ,

देसी मॉम की चुदाई: सेक्सी भेजो बीएफ, मैंने वक़्त की नजाकत को समझते हुए, नताशा को अपने हाथों से अपनी नितम्बों को फैला लेने का इशारा किया, तो हिरोइन ने इशारे को सही समझते हुए सफलतापूर्वक अपने पैरों को थोड़ा और चौड़ा कर लिया.

बीएफ फिल्म भेजिए वीडियो

चो…अ…दिए ना?मैंने कहा- डालिंग अब बेचारे इस बूढ़े को भी अपनी चुत का अमृत पिला दो, ये लो ये बूढ़ा तेरी चुत में अपना लंड डाल रहा है।ये कह कर मैंने तुरंत अपना लंड संजना की चुत में डाल लिया।वो जैंसे चिहुँक उठी और लंबी सी ‘इ…स… अअअअ. ब्लू पिक्चर इंग्लिश सेक्सी बीएफफिर मेरा हाथ पकड़ कर अपने हाथों में ले लिया और बोली- बेटे कल से तुमने मुझे बहुत गर्म कर दिया है, जब तुम्हारा माल मेरे ऊपर गिरा है तब से गर्म हो चुकी हूँ.

मैं शुरू में अपने ननिहाल में रहता था और 7 वीं क्लास तक वहीं पढ़ा था। जब मैं छोटा था तो मेरे सबसे छोटे मामा की शादी थी। मेरी मामी बहुत खूबसूरत हैं, मैं बचपन से ही उन्हें पसंद करने लगा था।ननिहाल में मैं ही एक छोटा बच्चा था क्योंकि मेरे बड़े वाले दोनों मामा बाहर ही रहते थे. www बीएफ वीडियोऊपर चढ़े हुए रुस्लान का लंड तेज धक्कों के साथ मेरी बीवी की गांड को चोद रहा था लेकिन नीचे लेते हुए चंगेज़ का लंड सिर्फ टुकर-२ चुदाई ही कर सकने में समर्थ था.

क्या गजब की गोरी और चिकनी गांड थी उसकी… मैं ताबड़तोड़ पीछे से चोद रहा था कि अचानक लंड फिसल कर बाहर आ गया और उसकी गांड में घुसने लगा.सेक्सी भेजो बीएफ: पर जब ऋतु बोली- अगर तुम्हें लगे कि यह ‘शो’ अच्छा नहीं हैं तो तुम पैसे मत देना.

थोड़ी देर में सबीना का शरीर अकड़ा और उसने मुँह में मस्ताना को भी दबा लिया और उसकी चूत ने मेरे मुँह में पानी की बौछार कर दी, नमकीन नमकीन चूत रस मेरे मुँह में भर गया और सबीना मेरे ऊपर ही लेट गई तो जमीला ने उसको साइड करके खुद मेरे साथ 69 हो गई.जमीला क्या कर रही है?तो रफीक बोला- भाई हम भी मस्ती कर रहे हैं, जमीला टीवी देखते हुए मेरा लंड चूस रही है.

हिंदी देहाती वीडियो बीएफ - सेक्सी भेजो बीएफ

‘क्या हुआ गुड़िया? रुक क्यों गईं’‘बस अंकल, मैं तो आ गई जोर से… अब मेरे बस का कुछ भी नहीं है.मैंने सिलसिला आगे बढ़ाते हुए पूछा- क्या पहना है तूने?मानसी- नाईट सूट.

अब मैं थक चुकी थी तो मैं लेट गई वो फिर से अपना लंड मेरी चूत में डालने ही वाला था कि मैंने उसे रोक दिया तो उसने पूछा- क्या हुआ?मैंने कहा- पहले कंडोम लगाओ. सेक्सी भेजो बीएफ फिर दीदी ने मुँह घुमा कर मेरे लंड को देखा और बोली- ओह माय लव, सच में तुमने मुझे बहुत सुख दिया.

मैंने शरीर को संभालते हुए उठना चाहा तो गांड में जैसे मिर्च लगने का इतना तेज अहसास हुआ जैसे किसी ने कोई जलती हुई चीज़ गांड में देकर निकाल दी हो.

सेक्सी भेजो बीएफ?

लगभग बीस मिनट तक लगातार धक्के लगता हुआ अपने लिंग को उनकी योनि के अन्दर बाहर करने के बाद मैंने उसे बाहर निकाल लिया और सीधा हो कर बिस्तर पर लेट गया. मगर मैं समझ गई थी कि फूफा जी अब मेरे ऊपर आना चाहते हैं इसलिए मैं खुद ही फूफा जी के साथ चिपके चिपके एक साइड को हो गई और फूफा जी को भी खींच कर अपने ऊपर लाने की कोशिश करने लगी. लगभग दस मिनट चाची के ऊपर लेटे रहने के बाद जब मैंने उठ कर अपना लिंग चाची की योनि में से निकाला तब उसमें से मिश्रित रस की धारा बाहर निकल पड़ी.

जो सोया हुआ था। मैंने अंदाज लगाया कि करीब 8 इंच का होगा। मैंने अन्दर जाने से पहले गिरने का नाटक किया और मेरे हाथ ने सीधे उनके लंड को पकड़ लिया. सुधीर के पूछने पर मोना थोड़ी हिचकिचाई मगर जब सुधीर ने दोबारा पूछा तब मोना ने कहा- वो बात ऐसी है आपको मेरे सवाल शायद कुछ पर्सनल लगें मगर ये मेरी मजबूरी है. दूर से ऐसा लग रहा था जैसे कैटरीना कैफ़ हो। उसके तने हुए चूचे भी 36″ के होंगे.

मेरे बूब्स काफी बड़े हैं तो मेरे बूब्स ऊपर से पूरे दिख रहे थे तो मैंने कहा- एक मिनट रुकिए, मैं ज़रा कहेंगे करके आती हूँ. आगेपूजा की चूत चुसाई और लंड पिलाई के बाद ऋतु ने उसे सब डिटेल में बताया कि अगर वो अपनी सहेलियों को ये सब मजे दिलवा सकती है, फिर और भी मजा आएगा. रफीक को मैंने मेरी इसी पोजीशन पर खड़े मस्ताना पर कंडोम चढ़ा कर मेरे मस्ताना पर बैठने को कहा अब रफीक ने कंडोम मेरे मस्ताना पर चढ़ाया और मैंने रफीक की गांड में कोल्ड क्रीम भरी जिसको रफीक ने गांड ढीली करवा कर भरवा ली और फिर रफीक मेरी टांगों के दोनों तरफ पैर रख कर मेरे कंधों पर हाथ रख कर मस्ताना पर बैठने लगा.

बता तो क्या दिया?सुमन ने पूरी बात विस्तार से टीना को बताई, जिसे सुनकर टीना की आँखों में चमक आ गई. उसके मजबूत हाथ गांड पर लगते ही जैसे जन्नत का सुकून सा महसूस हुआ… और आगे से उसके लंड का टच होना इस अहसास को चौगुना कर रहा था.

कुछ पल और चुदाई चली और मैंने शालू से पूछा- मैं झड़ने वाला हूँ पानी किधर लेगी?शालू- अन्दर ही छोड़ दो.

हमारे होंठ एकदम लाल हो गए थे, वो मेरे ऊपर से उठी, जिससे मुझे थोड़ी राहत मिली.

वो इस तरह उठा कि पूजा को तंबू ना दिखे, वो करवट लेकर अलग हो गया।पूजा- मामू आप कितने अच्छे हो।ये कहकर पूजा ने संजय के गाल पर एक किस कर दी। अब ये तो आग में घी डालने वाली बात थी। बेचारा संजय सोच में पड़ गया कि क्या करे. उसके बाद मैंने मामी से कुछ देर तक यौनक्रीड़ा की बातें करी और जब मामी हस्तमैथुन कर के अपने आप को संतुष्ट कर लिया तब मैंने कहा- अच्छा, अब मैं फोन रखता हूँ, जब भी समय तथा मौका मिलेगा आप से बात करता रहूँगा. मैं तो जब मिलता हूँ, हमेशा उसे लिप लॉक किस करके मिलता हूँ, क्योंकि वो दिखने में तो है ही सुन्दर, दूसरा अपने होंठों पे रेड कलर की लिपस्टिक के साथ कातिलाना मुस्कान रखती है.

राजे से सम्बन्ध बनने के बाद मुझे गन्दी गालियाँ देकर बात करने और खुले शब्दों का प्रयोग करने की मज़ेदार, मस्त आदत पड़ गई थी. जैसे ही चाचा ने यह कहा तब मैंने चाची की ओर देखा तो उन्होंने मुझे चुप रहने का संकेत किया और उठ कर बड़े चाचा के पास जा कर कहा- माता जी और पिता जी को यहाँ अकेले में दिक्कत होगी क्योंकि दिन में तो भईया भाभी और ननद जी काम पर चले जायेंगे और विवेक कॉलेज चला जाएगा. तू बात को समझती क्यों नहीं?गुलशन- अरे क्या बातें हो रही हैं माँ-बेटी में.

मोना- अच्छा नाम क्या है इसका?मीना- इसका नाम नीतू है और नीतू आज से तुझे यहीं रहना है.

मैं इतना बोला ही था कि भाभी मुझसे चिपक गईं और मेरा मेरा अंडरवियर नीचे करके मेरा लंड हाथ में ले लिया. पीटर किसी जन्म जन्म के भूखे इंसान की तरह, लपड़ लपड़ कर रिया की चुत खाने लगा. अंकित के घर में उसके दो भाई हैं, जो स्कूल में पढ़ते हैं, उसके पापा डॉक्टर हैं और उसकी मम्मी अनु हाउसवाईफ है.

और लंड की तरफ इशारा करके कहा- इनको भी ऐसे ही चूसो।बिमलेश बोली- दो दिन से जूनागढ़ वाली से चुसवा के दिल नहीं भरा?‘भाभी कोमल में और आप में बहुत अंतर है, आप मेरी सेक्सी भाभी हैं. मैं गोवा से हूँ, अब यहाँ मुंबई शिफ्ट हो गए हैं, सो मैंने यहाँ एड्मिशन ले लिया।विक्की- फर्स्ट ईयर हो?फ्लॉरा- नो 3र्ड ईयर. चूंकि उसने अभी कुछ देर पहले ही अपनी पत्नी को माल पिलाया था तो वो ज्यादा जोश में नहीं था और जैसे मैं चाह रहा था अपनी मर्जी से उसके लंड को लॉलीपोप की तरह चूस रहा था.

रोहित काफी उत्तेजित हो गया, उसने भी अपने हाथों से मेरी चूचियों को उमेठना शुरू कर दिया.

मैंने भी उसकी चुत को नहीं चूसा क्योंकि मैं यह सब पहली बार कर रहा था. वो मेरे बूब्स पर नज़र गड़ाते हुए बाल्कोनी के पास दरवाजे पर खड़ा हो गया.

सेक्सी भेजो बीएफ अनिता- एयेए एयेए प्लीज़ निकाल लो आह… बहुत दर्द हो रहा है एयेए आह… मैं मर जाऊंगी प्लीज़. मैं एक मिनट रुका और फिर दूसरा झटका दिया आधा लण्ड रफीक की गांड में उतर गया.

सेक्सी भेजो बीएफ वो भी पूरे शवाब पर थी, मैं चूत को चूस रहा था और एक उंगली से चोदे जा रहा था. टीना के साथ सब हंसने लगे और अजय चिढ़ गया और गुस्से में उसने लंड पेंट के बाहर निकाल लिया।अजय- क्या मूँगफली बोलती है साली.

कामुकता से वो पूरी बेकाबू होती जा रही थी।एकाएक मैंने उसे चूसना छोड़ दिया.

नोरा सेक्सी वीडियो

सुमन को यकीन हो गया कि मॉंटी अब पीछे नहीं देखेगा तो उसने अपने कपड़े निकाल दिए, अब वो सिर्फ़ ब्रा पेंटी में थी, उसके निपल्स एकदम हार्ड हो गए थे और चूत भी पानी-पानी हो गई थी. फिर मेरी तरफ मुखातिब होकर बोली- सॉरी फूफाजी… आपका अचानक से ट्रिप बन गया… मधु ने टिकट बुक करके रखी हुई हैं… नहीं तो आपके साथ बैठती… वैसे आपको सही न लग रहा हो तो मैं रुक जाती हूँ… मधु किसी और को ले जायगी. फिर देख कितना बड़ा होता है ये।काका अब अपने रंग में आ गए थे। वे मोना को बेटी से सीधे रानी बोलने लगे और साथ ही मोना की चुची सहलाने लगे थे। मोना को तो ऐसे ही किसी मौके की तलाश थी.

गुलशन- चुप हरामजादी मेरा भी आह… पानी निकलने वाला है… ले साली आह… ले. भाभी की बहन के साथ ये अगली चुदाई कैसे हुई, वो फ्री सेक्स स्टोरी में अगली बार लिखूंगा. आप ही बताएँ कि मैं क्या करता क्योंकि अपनी पढ़ाई के लिए मुझे घर वापिस तो आना ही था.

मैंने बाथरूम जाकर खुद को साफ किया मैंने वापिस आकर दारु की बोतल सीधे मुँह को लगाई और जब तक पेट में जलन नहीं हुई तब तक पीती गई.

अब उनका लंड भी ढीला होने लगा था और खुद ही चूत से बाहर आ रहा था… अब मेरी भी जान में जान आ चुकी थी इसलिए मैंने फूफा जी को ज़ोर से धकेला और नीचे से निकल गई. उम्म्ह… अहह… हय… याह… मैं तो पूरा लंड अन्दर लेके मर ही जाऊंगी ऊह ऊ आह कम ऑन फक मी रोहन. फिर उसने बाहर बचे हुए लंड को अपने हाथ से छू कर देखा और बोली- सारा अंदर डालना है क्या?मैंने कहा- तुम्हारी इच्छा है, अगर पूरा मजा लेना है तो सारा ही अंदर लेना पड़ेगा.

गुलशन- क्या कभी पहले भी तूने अपना पानी निकाला है? सही बताना या किसी के साथ ये सब किया हुआ है?अनिता- ये कैसी बातें कर रहे हो आप… मैं एकदम कुँवारी हूँ, मैंने कभी ऐसा कुछ किसी के साथ नहीं किया… हाँ बस कभी कभी नहाते वक़्त मन में कुछ उत्तेजना आ जाती तो चुत को ऊपर से रगड़ कर पानी निकाल लेती थी. नीतू- मगर आप तो यहीं हो दीदी… फिर मैं झूठ क्यों बोलूं??मोना- अरे झूठ कहाँ… मैं सच में बाहर जा रही हूँ और ये देख मेरे पास चाभी है, तो मैं लॉक लगा दूँगी… ठीक है, तू जा जीजू को उठा, फिर खाने के बारे में पूछ लेना. तू… इतनी सुबह… और यो के हाल बना रखा है… या बुशट कुकर पाट गी(ये शर्ट कैसे फट गई)उसके होठों से मेरा नाम निकलते ही मेरी पलकों में बंधी आंसुओं की झड़ी चेहरे पर धार बनकर मेरी फटी-शर्ट को भिगोने लगी.

मेरे जाने के बाद वह अकेली रह जायेगी और जिस बस्ती में हम रहते हैं वह एक अकेली औरत के लिए बिल्कुल ही सुरक्षित नहीं है. फिर उन्होंने दोनों तरफ से मेरे लंड के चारों तरफ अपने रसीले होंठ फेरने शुरू कर दिए.

जॉय- अब तू जाती है या दो लगाऊं तुझे?फ्लॉरा- अच्छा अच्छा सॉरी मैं जाती हूँ. चलो अब बैठ जाओ, मैं भी चड्डी निकाल कर आती हूँ।संजय कुर्सी पर बैठ गया, उसने बरमूडा नीचे कर लिया और पूजा को उल्टा ही पास आने को कहा ताकि उसको लंड दिखाई ना दे।वैसे तो लाइट बंद थी. मैंने भी वाश बेसन में अपने लंड को धोया और रश्मि ने अपनी चूत साफ़ की.

इसका मतलब ये नहीं कि मैं अपनी लिमिट्स क्रॉस करूँ ओके?संजय- भड़क मत.

चलो अब बैठो, मैं चाय बना कर लाती हूँ।गोपाल- अरे मेरी जान तुम नहा लो. मनोज ने मेघा को बाँहों में भर लिया था और धीरे-धीरे उसकी कमर पैर और पीठ को सहला रहा था. जब सुमित खलास हो गया तो वीर्य निगलने के बाद मैंने कहा कि मेरी बड़ी तमन्ना है कि तुम्हारे इस धाकड़ लौड़े से किसी और लड़की को चुदते हुए देखूँ!तो वो हँसते हुए बोला- उम्म्ह… अहह… हय… याह… मजा आ जाएगा लेकिन तू हरामज़ादी जलन से जल भुन के राख न हो जाएगी?मैंने कहा- नहीं, मेरी यह इच्छा दिन पर दिन बढ़ती जा रही है, मुझे ज़रा भी जलन नहीं होगी.

असल तो हम सब अच्छे से आपस में मिल लें, इसलिए छोटी सी पार्टी रखी है और हाँ सुबह के लिए सॉरी यार. इसलिए उसकी छोटी है और मैं बड़ा हो गया हूँ इसलिए मेरी बड़ी है, चल अब आजा बैठ जा।पूजा- मामू कल आपकी फुन्नी मुझे चुभ रही थी ना और ये इतनी गर्म क्यों है?संजय- अरे पगली कल भी यही थी और ये तो गर्म ही रहती है.

पर फिर उसने अपना मुँह मेरी जीभ के लिए खोल दिया। अब हम दोनों की जीभ एक-दूसरे के मुँह में थी और कोई ऐसी जगह नहीं थी. वो थोड़ा सा चिल्लाई पर थोड़े झटके के बाद वो शांत हो गई और वो मेरा साथ देने लगी. फिर आकाश एक एक कर मेरे ब्लाउज के हुक खोल दिये और ब्लाउज निकाल कर अलग फेंक दिया और मेरी चुचियों को ब्रा को बिना खोले नीचे सरका कर बाहर निकाल लिया फिर मुझे दीवार के साथ लगा कर मेरी चुचियों को अपने मुंह में भर लिया और जोर जोर से चूसने लगा.

सेक्सी ब्लू फिल्म हिंदी में नई

जिस पर कुछ दाल गिर गई थी।अंकल के छूने मात्र से मेरी बुर की खुजली बढ़ने लगी। मैं देख रही थी वो मेरे मम्मों को दबा रहे थे।कुछ पल बाद मैं अन्दर जा कर उनके लिए थाली में भोजन लगा लाई और अभी थाली को टेबल पर रखा ही था कि बिजली चली गई।‘सत्यानाश हो इस बिजली का.

’ करके नीचे से जोर-जोर से अपनी गांड को उठा-उठा कर चुदवाने लगी।मैंने सरसराते हुए पूछा- कैसा है डार्लिंग बूढ़े का लंड?वो जैसे सही में उससे चुदवा रही हो, वैसे बोली- अह. ऐसी बात मत कर यार, मेरी तो पैन्ट में हलचल शुरू हो जाती है।टीना- अबे चल साले चूतिये. और जैसे उसने कहा था, मैं प्लेटफोर्म से बाहर निकला और एक खाली ऑटो वाले से स्नेहा की बात कराई और बैठ कर निकल लिया.

मेरा तो मन कर रहा था कि इसको अभी पकड़ कर इसके सारे जिस्म को भंभोड़ डालूँ. अब तक पूजा पलट गई थी और उसने लंड महाराज के दर्शन कर लिए।पूजा- ऊऊ बाप रे. हिंदी वाली बीएफ सेक्सी फिल्मउसका होंठ चूमना मुझे अच्छा लगा, मैंने मौसी का चेहरा पकड़ा और एक बार फिर उसके होंटों से अपने होंठ जोड़ दिये.

अगर किसी को कुछ ज्यादा मिल जाए या कम मिले या फिर मिले ही नहीं तो कुछ समझ नहीं आता है. मैं भी ढाबा की ओर गया, बाहर एक चालीस साल की औरत बैठी हुई थी, एक छोटी सी झोपड़ी थी, अंदर एक कमरा था.

जब मेरी चूत ढीली हो जाएगी।मामा भी समझ गए कि मेरी चूत का छेद बहुत छोटा है. यह सुनकर कई सवारियाँ अंगड़ाई लेते हुए बस से बाहर जाने लगीं और वह लड़का भी उठ खड़ा हुआ क्योंकि वीर्य छूटने के बाद अक्सर पेशाब का प्रेशर बन जाता है और शायद वह लड़का भी पेशाब करने ही जा रहा था. किसी को पता लग गया तो सब मेरी जान निकाल देंगे।राजू- अरे मेरी प्यारी भाभी.

आप जाग रहे हो।मैंने जोर-जोर से उसकी चूचियाँ मसलनी शुरू कर दीं और उसकी नाईटी उतार कर उसे नंगी कर दिया। फिर मैं उसके निपल्स को चूसने लगा।वो बोल रही थी- आह. एक के बाद एक करके तीन बार चोदने से सुमित थका हुआ महसूस करने लगा था और थोड़ी ही देर में सो भी गया. तू हर बार उल्टी बात करता है।सुमन- अरे आप अब झगड़ो मत, और चलो टाइम हो गया है।यहाँ भी ऐसा कुछ नहीं हुआ जो बताऊं तो जाने दो। गोपाल घर आ गया होगा उसी के पास देख आते हैं शायद कोई काम की बात मिले।मोना तो पूरी रात की चुदाई से थकी हुई थी तो मस्त सो रही थी। जब गोपाल आया तो उसे जगाया और पूछा कि क्या हुआ।मोना- कुछ नहीं.

नीचे से नताशा की गांड लेते हुए चंगेज़ ने उसकी जांघें पकड़, ऊपर को उठाते हुए नताशा की चुदाई फैक्ट्री को किसी हुक्के की तरह ऊपर को उठा दिया, जिससे गांड में अन्दर-बाहर होते हुए दो भयानक, मोटे लंड और सरलता के साथ घपा-घप गोरी-गुलाबी गांड को चोदने लग गए.

छोड़िये ना ये सब, आप ही कीजिए।मैंने अपना लंड उसकी फड़कती चुत से निकालने लगा तो वो मिन्नतें करने लगी कि प्लीज नहीं निकालो।मैंने कहा- तो इमेजिन करो।वो बोली- ठीक है।उस समय उसकी आँख मुंदी हुई थीं।मैंने उसकी चुत में अपने लंड को अन्दर-बाहर करने लगा और बोला- तो बोलो डार्लिंग. मेरे भी आनन्द की सीमा न थी मैं भी सिसकार रहा था- हाय मेरी रंडी, तुम्हारी बुर कितनी टाइट और गर्म है, ओह मेरी प्यारी बहन, लो अपनी बुर में मेरे लंड को… ओह ओह.

जैसे ही अंगूरी और सक्सेना दोनों अन्दर की ओर बढ़े, गुलफाम कली भी अपने रूम में जाने के लिए बढ़ी, वे दोनों उनके पीछे चले. तुझे लंड से प्यार से चुदाई कर खुश कर दूंगा।’‘हां अंकल चोद डालो मुझे. सीमा बोली- हाँ माँ, छोटे नहीं होता तो गाँव में कोई सूई देने वाला भी नहीं है.

अब मैं सोचने लगा… ये खुद ही मुझे अपने लंड को हाथ में लेने के लिए कह रहा है… एक बार देखूं तो सही कैसा लगता है इतना बड़ा लंड हाथ में लेकर…उसने कहा- चल थोड़ा और अंधेरे में चलते हैं, यहाँ कोई न कोई देख लेगा. जयपुर में चाचा के यहाँ पहुंचने पर सबसे पहले मैंने राहुल के बारे में पूछा. उस वक़्त तो मैं इतना खुल गया था कि भाभी से ऐसी xxx बात खुलेआम करने लगा और वो मेरी तरफ देखे जा रही थी.

सेक्सी भेजो बीएफ हम ऐसे कैसे जाएँगे?काका ने उसको बता दिया कि आज कोई उठने वाला नहीं, फिर वो राधा को पकड़कर आराम से ले गया। इधर मोना और राजू अपने काम में लग गए थे।दोस्तो मज़ा आ रहा है ना. चाची की योनि में से निकले गर्म रस की ऊष्मा मिलते ही मेरे लिंग ने भी वीर्य रस की पिचकारी चला कर दी सात आठ बौछार से ही उनकी योनि को हम दोनों के मिश्रित रस से भर दिया.

हिंदी मूवी सेक्सी चाहिए

आपको ये भाई बहन की चुदाई स्टोरी पसंद आई या नहीं, मुझे जरूर मेल करें. पहले तो मुझे कुछ दिखाई ही नहीं दिया पर जब गौर से देखा तो हैरान रह गया क्योंकि ऋतु की बुर मेरी आँखों के बिलकुल सामने थी. दस मिनट का चूसने के बाद मैंने अपने लंड को बाहर निकाला क्योंकि मैं भी झड़ने वाला था और उसकी पेट पर अपना रस गिरा दिया.

कॉम पर यह मेरी पहली फैमिली सेक्स स्टोरी है जिसमें मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने अपने मामा की बेटी को उसकी शादी के कुछ दिन पहले चोदा. मैंने पहले भी बताया कि अनिता बहुत खूबसूरत लड़की है, फिर ऐसा यौवन किसी को भी पागल बना दे. सेक्सी बीपी सेक्सी बीएफमैंने अब अपना लंड चुत से बाहर खींचा और दीदी की गांड में डाल कर 8-10 झटकों के साथ गांड को भी चोद दिया.

फिर मैं पानी गर्म किया और गुनगुने पानी से अपनी चूत अच्छे से धोई और सेंकी, पांव भी धोये.

कहकर वो मेरी तरफ घूम गया और उसके लंड पर बस अड्डे की तरफ से आ रही लाइट पड़ने लगी. उसके बाद मैंने अपने एक हाथ उसकी सलवार में डाल दिया, उसकी चुत को रगड़ने लगा.

पिता रिटायर्ड भले ही हो चुके हों पर जिन्दगी जीना जानते हैं तो घर पर भी कोई पाबन्दी नहीं है. पूजा कमर को जोर-जोर से हिलाने लगी संजय ने उसकी टांगें कस के पकड़ी हुई थीं और वो अपनीबहन की बेटी की चुत के रसकी एक बूँद भी वेस्ट नहीं करना चाहता था। उसने बड़े स्वाद से चुत को पूरा चाट कर साफ किया, फिर पूजा से कहा- अब आँखें खोलो।पूजा के जिस्म से तो जैसे किसी ने सारा खून निचोड़ लिया हो. फिर मैंने अपनी जीभ से उसकी टाँगें चाटना शुरू कर दिया तो वो पागल ही हो गई, उसे गुदगुदी भी हो रही थी.

और भी साथ में आंटी भी झड़ गई। आंटी ने झट से उठ कर मेरा लंड मुँह ले लिया और चाटने लगीं। वो मेरा पानी ऐसे चाट रही थीं.

उसके निप्पस डार्क ब्लैक कलर के थे, पेट एकदम सपाट, नाभि अन्दर की ओर घुसी हुई, बुर पर काले रंग के बाल थे, मोटी टाँगें और कसी हुई पिंडलियाँ!वो पलटी तो उसकी गांड देखकर ऐसा लगा कि शायद उसने अपनी गांड में गद्दा लगा रखा है. अपने रूम में पहुँचते ही गुलफाम कली ने अपनी साड़ी का पल्लू नीचे गिरा दिया और अपनी साड़ी को खोलने लगी, अंगूरी और सक्सेना दोनों उसकी ओर देखते रहे. चल अब ऊपर-नीचे होकर चुदवा ले, मज़ा आएगा।पूजा अब गांड को हिलाने लगी, उसको थोड़ा दर्द था मगर लंड की गर्माहट उसको सुकून दे रही थी। उसकी चुत भी गीली हो गई थी तो अब लौड़ा फिसलने लगा था। अब उसको हल्के दर्द के साथ मज़ा आने लगा।पूजा- आह.

बीएफ ब्लू चोदा चोदीसुमन- वाउ दीदी ये बेस्ट है, मगर संजय को कोई शक तो नहीं होगा ना?टीना- अरे मैं किस लिए हूँ. कुछ भी बोल देती हो आप, मुझे नहीं देखना उनका सेक्स और अब ट्राई की क्या ज़रूरत, पापा ने तो ड्रेस दिला दिए ना!टीना- नहीं तुम ट्राई ज़रूर करना, तेरे पापा ने ड्रेस क्यों दिलाए.

बफ सेक्सी वीडियो हॉट

काका के साथ मोना भी हँसने लगी।काका- बस मेरी जान ये सवाल बहुत हो गए। अब तू अपने काका की चुदाई देख, फिर बताना मज़ा आया कि नहीं।मोना- अपने अजगर को तो आज़ाद कर दो काका, वो कब से अन्दर तड़प रहा है बेचारा।काका- उससे ज़्यादा तो तू तड़प रही है उसे देखने के लिए. चाची और मेरे माँ की बहुत बनती है, चाची माँ से दो साल छोटी है, जी मेरे चाचा से चाची दो साल बड़ी है, अधिक समय दोनों (माँ और चाची) साथ में रहती हैं और बात भी करती रहती हैं. हम तीनों में से रुचिका और मनोज ज्यादातर वटसएप पे ऑनलाइन ही रहते हैं.

तो उसी दौरान एक लड़के से मेरी मुलाकात हुई और धीरे-धीरे हमारी मित्रता बढ़ती गई. उसको शुरू में चूत का टेस्ट थोड़ा अजीब लगा, मगर बाद में पता नहीं उसको क्या हुआ. इस पर ललचाए रुस्लान ने अपने भसंड लंड से चंगेज़ के लंड से ठसाठस भारी नताशा की गांड को कुरेदना चालू कर दिया!सारे क्रू मेम्बर्स सांसें रोक कर फिर से डबल एनल एक्शन का इंतजार करने लगे.

फिर कुछ देर बाद आंटी ने मेरे लंड को अंडरवियर से निकाला और लंड देख कर बहुत खुश हो गईं. पूजा ने कटाक्ष भरे स्वर में कहा- वाह बहुत बढ़िया… वो हमें नंगी देखना चाहता है, तभी हस्तमैथुन करेगा. खाना लगा दूँ बेटा?संजय- हाँ जोरों की भूख लगी है और बाकी सब कहाँ गए.

फिर उसने अचानक ऐसी बात बोली कि मेरे दिमाग ने काम करना बंद ही कर दिया, उसने मुझे कहा- एक बात कहूँ, बुरा तो नहीं मानोगे?मैंने कहा- हाँ बोल ना, क्या हुआ?उसने बोला- क्या तुम मुझे सिर्फ एक दोस्त ही मानते हो?यह बोलते हुए मुझे उसकी आँखों में वासना दिख रही थी. मैंने उसकी हिम्मत बढाई और बाहों को थोड़ा ऊपर उठा कर उसके हाथ को बूब तक पहुंचने दिया.

उसके बोलने से एकदम मैं डर तो गया था क्योंकि मैं तो उसकी चूत को अपने अंगूठे से ढूँढने में लगा हुआ था.

मैंने सोचा कि 52 साल का बुड्डा मेरी चुत का उखाड़ पाएगा, इसका तो लंड ही चार इंच का होगा. नौकरानी के साथ बीएफकुछ सोचने के बाद वो मान गई क्योंकि उसने भी आज तक कोई असली लंड नहीं देखा था. स्कूल के बीएफउन सिसकारियों के कारण मेरी उत्तेजना बढ़ने लगी और मैं तेज़ी से धक्के लगा कर अपने लिंग को उनकी योनि के अन्दर बाहर करने लगा. रफीक- आज तो मेरे मस्ताना की चमड़ी उतार दूँगा अपनी गांड से पूरा रस भी निचोड़ लूँगा.

अभी चाची को कुछ ही फोटो दिखाई थी की तभी मुख्य द्वार के घंटी बजी और यह देखने के लिए कि कौन आया है मुझे चाची को वहीं छोड़ कर बाहर जाना पड़ा.

उसका ध्यान फ़ोन की तरफ़ गया तो मोना ने उसको मना किया।गोपाल- अरे एक मिनट रूको तो शायद बॉस का फ़ोन हो।मोना- आह. मैंने मनोज से पूछा- क्यों आज क्या प्रोग्राम है फिर, कैसे कैसे प्लान किया है?मनोज बोला- हमने क्या प्लान करना है, अब सभी आ गये, आप बनाओ प्लान कैसे क्या करना है. अरे टीना बिगड़ी हुई है, मगर इतनी भी सेक्स की भूखी नहीं, जो भाई के साथ भी चुदाई करे। ये उसको बस खुजली से बचाने के लिए उसने तेल लगाया था। आप भी क्या-क्या सोच लेते हो.

मैंने उससे पूछा तो उसने बताया कि बहुत दिनों बाद चुद रही हूँ ना इसलिए दुख रहा है. अचानक से मुझे याद आई कि रात की चुदाई के बाद मैं बिना चूत धोये सो गयी थी. गोपाल की बात सुनकर पिघल गई, उसका गुस्सा न जाने कहाँ का कहाँ चला गया.

सेक्सी xxx desi

तो मैंने बताया- रीना रानी मेरी जान, सुलेखा हरामज़ादी ने अपने हाथ और पैरों पर ज़रा भी ध्यान नहीं दिया. चोद डालो, खोद डालो मेरी बुर को अच्छी तरह से बहुत सताया है इसने मुझे!’मैं भी पूरे तैश में था, मुझे भी झड़ जाने की जल्दी थी तो मैंने उसकी चूत में लंड से चक्की चलानी शुरू की, पहले क्लॉक वाइज फिर एंटी क्लॉक वाइज… फिर आड़े तिरछे शॉट्स मारे…‘अंकल. गुलशन- ये क्या है अनिता… तुम ऐसे करोगी तो मुझे लगेगा तुम ये सब मजबूरी में कर रही हो… ख़ुशी से नहीं.

बात लीक होने के अलावा यह रिस्क भी था कि उसका दोस्तों के बीच में मज़ाक उड़ना शुरू हो जाता कि सुमित की बीवी एक टैक्सी है, जिसका जी चाहे चोद ले.

चाची मेरे ओर देखने लगी और बोली- अरे अशोक क्या ऐसा मजा हमें नहीं मिल सकता है.

बहुत जलन हो रही है, पता नहीं आज इतनी खुजली कैसे हो गई।टीना- अरे कुछ नहीं मेरे सोना. रीना रानी ने करीब 3 वर्ष पहले मुझसे अपनी नथ खुलवाई थी और तब से वो सैकड़ों बार चुद चुकी है. बीएफ फुल फोटोहम तुमसे मिलने ही आए हैं, भोलेनाथ की तुझपे बहुत दया है मगर तेरे सर पे बहुत बड़ा संकट आने वाला है।मोना- आपको मेरा नाम कैसे पता लगा बाबा.

अब तक तो मेरी किरण से यह बात छेड़ने की हिम्मत ही नहीं हुई थी लेकिन अब हिम्मत आ गई है. ‘आआआहह… इस्ससss मर गई मैं तो… जानू मेरी बहुत टाइट चूत है… इतने बड़े लंड से नहीं चुदी हूँ… मैंने चूत में किसी इतना मोटा लंड नहीं लिया. इतने में बबिता भाभी बोली- सैम हेलो सैम, सो गया क्या?मैं बिल्कुल शांत पड़ा रहा.

आराम से जान लोगे क्या?काका ने मोना की बात अनसुनी करते हुए लंड को पीछे खींचा और फिर से एक जोरदार दे धक्का दिया। इस बार पूरा 9″ का लंड मोना की चुत में खो गया. फिर मुझसे बोला- चल बे आ जा, टिका के चूत मारना साली की!उसने कार से बाहर निकल कर अपने कपड़े पहने और आगे ड्राइविंग सीट पर आ कर बैठ गया.

तो कभी मुँह में भर के चूसने लगती।इसी दौरान मैं एक बार मैं उसके मुँह में झड़ गया.

फिर पूजा लेटी और वो भी अपनी उंगलियाँ अपनी बुर में डालकर आँखें बंद करके मजे लेने लगी. गिलास ख़त्म करके उसने मुझे पूछा- क्या मैं उसे हाथ लगाकर देखूं?उसकी मासूमियत देखकर मेरी हंसी छूट गयी. मेरी और मेरे खड़े लंड की हालत देख कर आंटी बोलीं- मैं तुम्हारी कुछ हेल्प करूँ.

कहानी वाली बीएफ उसके मुंह के अन्दर जाते ही वो कुछ ज्यादा ही मोटा और बड़ा हो गया था. मगर रात को तुम ऐसे कैसे सोती हो जो कमरे का ये हाल हो जाता है?मोना- तुम कहना क्या चाहते हो रात को कोई और यहाँ आता है क्या.

जब कुछ देर बाद उसकी चुत में लंड एड्जस्ट हुआ तो उसकी चुत में करंट पैदा होने लगा और उसको थोड़ा मज़ा आने लगा. अगर मेरी ये चाहत पूरी हुई तो जरूर लिखूँगा, पर जो मैं अभी सेक्स स्टोरी लेकर आया हूँ उसका मजा लीजिएगा. और अरमान ने अपना लंड नेहा की चूत से निकाल लिया और सिसकारियाँ लेते हुए उसके दोनों मम्मों के बीच में रख दिया.

हाशमी का सेक्सी वीडियो

मैंने फिर चुप्पी तोड़ी और पूछा- क्या तुम अब तक मुझसे शाम के लिए नाराज़ हो?मानसी- नहीं जस्सी, पर हमें ऐसा नहीं करना चाहिए. ’ मंत्र की तरह दोहरा रहा था, साला मुझ पर मरता था। ऐसा एक-दो दिन में कोई न कोई करता ही था. मेरी मम्मे चूसने की स्पीड और बढ़ गई और फिर मैंने उसके दोनों मम्मों को पकड़ कर लंड से बहन की चूची चुदाई शुरू की और वो फिर ‘आआहह.

ऋतु- अगर ऐसी बात है तो मैं अभी जाकर पूछती हूँ!और यह बोल कर वो दरवाजे की तरफ चल पड़ी. मैंने बाहर आकर बेल बजाई तो थोड़ी देर में नीलम ने दरवाजा खोला और ड्राइंग रूम में ले गई.

यह इंडियन सेक्स कहानी आपको कैसी लग रही है, मुझे लिखें!चूतनिवास[emailprotected].

अभी भी कभी जब वो मेरे घर आती है, तो मौका मिलने पर हम चुदाई कर लेते हैं. मुझे 2000 रूपये भी दिए उसने!और मैं जब हॉस्टल से घर आता था तो उसको चोदता था और जब पैसे की जरूरत पड़ती थी तो वो मुझे दे देती थी. मुझे गुस्सा आ रहा था मैंने उसे रोक कर पूछा- आप क्या चाहते हो? मेरा पीछा क्यों कर रहे हो?तो वो बोला- आप मुझे अच्छे लगी, मैं आप से दोस्ती करना चाहता हूँ.

उसने खुद ही अपनी दोनों टाँगें खोली और मेरे लुल्ले को पकड़ कर अपनी दोनों टाँगों के बीच में रखा. तुम बताओ मेरे लंड के रस को मैं किधर निकालूँ?मैंने कहा- भाई जहाँ आपका मन हो. मैंने भी इस पर विचार करके हाँ कह दी और जाने की तारीख भी तय कर ली, नई दिल्ली-भोपाल शताब्दी से अपना आरक्षण भी करवा लिया.

कोई दो मिनट तक कॉमन छेद को चोदने के बाद मैं अपनी बिल्ली की गांड में ट्रान्सफर हो गया और मजे के साथ अपना टोपा आसानी से अन्दर घुसा दिया.

सेक्सी भेजो बीएफ: मेरी चूत अभी कुंवारी थी और बहुत छोटी सी थी लेकिन उस लड़के ने बड़ी ही तन्मयता से अपना लंड मेरी चूत के ऊपर रखा था और हाथ से अपना लंड दबाने लगा और जब उसको लगा कि लंड सही जगह पर है, एकदम अन्दर पूरी तरह से घुसा दिया. तो वो बस देखता रह गया।जैसा मैंने पहले बताया था, पूजा बहुत खूबसूरत लड़की है.

अब तो हालत ये हो गई थी कि रोज ही खाते पीते वक्त भी उसी को याद किए जा रहा था. लेकिन अब तो मेरे पूरे पूरे मज़े हैं, जब भी दिल करता है तो कभी जानवी को और कभी तमन्ना को जी भर के चोदता हूँ. हम दोनों ही तेज आवाजें निकालने लगे जो बाहर रश्मि को सुनाई दे रही थीं.

जैसे ही मैंने वहाँ से चलने के लिए एक कदम बढ़ाया, तभी मैंने अन्दर से कुछ आवाजें सुनीं, इससे मुझे कुछ शक हुआ.

कभी कभी मेरा चचेरा भाई मिलने के बहाने आकर मेरी चूत चुदाई कर जाता था. सभी लड़कियाँ अन्दर आते ही धीरे-2 अपने कपड़े निकाल कर नंगी हो गई और बेड पर लाइन से अपनी चूत को उभार कर लेट गई. अब मैं फिर एक मिनट रुका और धीरे धीरे मस्ताना को वहीं हिलाने लगा और जैसे ही रफीक ने गांड ढीली की, मैंने मस्ताना जड़ तक घुसा दिया और चोदने लगा और रफीक का ध्यान दर्द से हटाने के लिए मैंने रफीक से सबीना के बारे में बात शुरू की.