बीएफ ब्लू हिंदी मूवी

छवि स्रोत,देहाती देसी सेक्सी फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

इंडियन सेक्सी नंगा: बीएफ ब्लू हिंदी मूवी, अब उसी कहानी का अगला भाग:फिर जब मैं अपने रूम पर पहुंचा तो उन्होंने मेरे व्ट्सएप पर मुझे मैसेज किया- विकी, मैं पहुंच गई हूं.

मराठी सेक्स वीडियो मराठी सेक्सी

जैसे ही मैंने उसको हैलो किया तो वो बोली- मीता, तुम्हारा पति तो चूत को भोसड़ा बनाने वाला है. इंग्लिश सेक्सी चुदाई चुदाईअचानक उन्होंने मेरे सिर को पकड़ कर एक ज़ोर से झटका मेरे मुँह में मार दिया और अपना पूरा लंड मेरे मुँह में गले तक घुसेड़ दिया.

मैं उठा, मैंने पूछा कि आप इतनी रात को यहां क्या कर रही हो?तो उन्होंने बोला कि प्लीज़ रोहन वो वीडियो डिलीट कर दो प्लीज़. जबरदस्त सेक्सी वीडियो भेजेंपर मैंने एक शर्त रखी कि मैं आऊंगा पर आपके घर नहीं बल्कि किसी होटल में रुकूँगा.

सुबह में रीना का मैसेज आया- क्या सोचा?मैंने बोला- तू पहले घर आ … फिर देखती हूँ.बीएफ ब्लू हिंदी मूवी: रेशमा ने मेरे मुंह को अपने चूत के पानी से पूरे मुंह को भर दिया और मैं पूरा पानी उनका पी गया.

इतनी देर में मयूरी हांफ सी गयी, फिर भी वो अपने इस पिता-पुत्री की चुदाई के खेल में रुकना नहीं चाहती.माइक थोड़ा लंबा था, सो उसे अपनी कमर झुका के धक्के लगाने पड़ रहे थे, पर मुझे नहीं लगता उनके उमंग में कोई बाधा पड़ रही थी.

इंग्लैंड का सेक्सी फोटो - बीएफ ब्लू हिंदी मूवी

वो भी मेरे मुंह में अपना लंड अन्दर बाहर करने लगा और कुछ देर के बाद वो झड़ गया और अपना माल बाहर निकाल दिया.उसे समझना चाहिए था कि उसका बेटा शादी के लायक है, तब भी बेटे की शादी करने के बजाये अपनी कर ली.

उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगी- आह उम्म्ह… अहह… हय… याह…मैं तुरंत दो उंगलियाँ उसकी चूत में डाल दी और जोर जोर से फिंगर फक करने लगा. बीएफ ब्लू हिंदी मूवी ये बात पिछले साल अक्टूबर 2016 की है तब मैं अपनी ग्रेजुएशन के दूसरे साल में था.

मैं तुरंत तैयार तो नहीं हुआ, पर दो चार बार के वार्तालाप के बाद में उस लड़के को बस एक नजर देखने को तैयार हो गया.

बीएफ ब्लू हिंदी मूवी?

उसकी चूची 34″ की थी मुलायम मुलायम… उसकी गांड भी मस्त थी पीछे से उठी हुई जो 36″ की थी और उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था. उसका पानी निकलते ही वह निढाल हो कर ढेर हो गई … लेकिन मैंने चुदाई को बदस्तूर जारी रखा और अपना पानी भी जल्द ही निकालने का प्रयास शुरू कर दिया. वो बोलीं- पहले से तैयार था … अब बड़ा तो काफी हो चुका है, कभी किसी की चूत मारी?उनकी बिंदास भाषा और हरकत देख कर मैंने भी खुल कर कहा- नहीं.

इतने में अंकित ने अपना लन्ड मेरे गान्ड के छेद में टिका दिया और अपने मुंह से ढेर सारा थूक निकालकर लंड पर लगाया. धीरे धीरे करके उन्होंने पूरा लंड मेरी गांड में घुसा दिया और थोड़ी देर ऐसे ही छोड़ दिया ताकि मेरी गांड का छेद खुल जाए. उसने कहा- यह भी कोई कहने की बात है? मैं जिंदगी में कोई भी फैसला तुमसे बिना सलाह लिए नहीं करूँगा.

फिर सब कपड़े पहनकर सामान्य माँ-बेटों की तरह तैयार हो गए क्योंकि मयूरी के घर आने का वक्त हो चला था. मगर जब मैंने चाची से बात करते हुए सुना तो मुझे पता लगा कि मेरे साथ क्या होने वाला है. मैंने बहुत हिम्मत करके मौसी का हाथ पकड़ किया और बोला कि आपसे एक ज़रूरी बात करनी है.

मैंने काफ़ी ध्यान से सुपारे को देखा लेकिन मेरे पास इतनी हिम्मत नहीं थी कि मैं सुपारे के पास अपनी नाक ले जाऊं. मैं मुन्ना का लंड मुँह से थोड़ा निकाल कर बोली- वाह समाली … तू बहुत मस्त गांड चोदता है साले.

उस दिन भी कॉलेज में मेरा मन ही नहीं लग रहा था, मेरा टाइम वहां बिल्कुल भी नहीं कट पा रहा था.

ऐसे ही दस मिनट ताबड़तोड़ चुदाई के बाद उसने अपनी टाँगें मेरी कमर के चारों तरफ लपेट लीं, मुझे कसकर पकड़ लिया और जोर जोर से सांसें लेकर झड़ने लगी.

मैं इस तरह से बैठा था कि उसे मेरा फटा हुआ पजामा अच्छी तरह से नजर आए. मैंने भी देर ना करते हुए अपने लिंग का दबाव बढ़ाना शुरू किया और अपना रास्ता तलाशने लगा. इस दौरान उसकी चुत बिल्कुल दहक रही थी, जिसने लंड को बुरी तरह जकड़ा हुआ था.

अच्छा जी … और अब … अब क्या करोगी?” मैंने उसकी आंखों में देखते हुए उससे पूछा और उसके गाल पर एक चुम्मी लेकर फिर से उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए. इसके बाद जैसे ही मैं सामने हुई तो मेरी पूरी चूत खुल गई, मेरी खुली चूत अंकित के आंखों के सामने थी, वह खा जाने वाली नजरों से उसे देख रहा था. उसने रजत की इस हरकत पर कोई प्रतिकिया नहीं दी और उसको वो करने दिया जो वो इतनी देर से कर रहा था.

इसी बीच बहूरानी ने अपनी जीभ मेरे मुंह में घुसा दी और मैं उसे चूसने लगा; फिर मैंने अपनी जीभ बहू के मुंह में घुसा दी और वो भी मेरी जीभ अच्छे से चूसने लगी.

दस मिनट तक प्यार से चोदते चोदते मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और पूरे कमरे में उसकी चुत का बाजा बजने की आवाजें गूंजने लगीं. वो मुझे आकर बोला- आजकल तुम मुझसे बात क्यों नहीं कर रही हो? मैं तुमको कितना याद करता हूँ!और बातों बातों में उसने मुझे किस कर दिया. एक-डेढ़ घंटे की लगातार पढ़ाई के बाद सबने एक ब्रेक लेने की सोची और रिलैक्स करने लगी.

मेरा स्कूल एक ग्रामीण क्षेत्र में है, इसलिये इस प्रकार की कोई बात होने पर अभिभावक अपनी लड़कियों को स्कूल से निकाल लेते थे. पहली बार किसी लड़की की मसाज कर रहे हो?उसकी इस बिंदास भाषा से मैं भी थोड़ा खुल गया और बोला- मसाज तो बहुतों की की है, लेकिन आप में तो अलग ही बात है. रह रह कर बातों ही बातों में अपनी शादी शुदा सहेली की चुदाई के पहले दर्द और उसके बाद के मजे बारे में बात करके वो उत्तेजित हो जाती, जिसको वह अपनी उंगलियों से शांत कर लिया करती थी.

टॉप और निक्कर के बीच में थोड़ा सा नाभि के पास का उसका गोरा और गदराया हुआ पेट झलक रहा था.

मगर तुम्हें तो ज़रा समझना चाहिए ना कि वो तुम्हारी बेटी की उम्र की है. पन्द्रह मिनट तक इसी तरह चोदने के बाद मैंने उसे उठाया और बेडरूम में ले गया और बिस्तर पर लिटा दिया.

बीएफ ब्लू हिंदी मूवी हम दोनों लोग बहुत देर तक चुदाई करने के बाद हम दोनों का माल निकल गया. मैं और मेरे पति बहुत दिनों से इस साईट पर चुदाई की कहानी पढ़ रहे हैं.

बीएफ ब्लू हिंदी मूवी फिर मेरा कान खींच कर बोलीं- चाची पे लाइन मारेगा … क्यों रे और कोई नहीं मिला?तो मैंने कहा- सॉरी … अब आप बैठी ही ऐसी थीं, तो मैं क्या करता?तो उन्होंने बोला- मैं कैसी बैठी थी?तो मैं बोला- आप लगभग पूरी नंगी दिख रही थीं … पेटीकोट भी पानी से पारदर्शी हो चुका था … तो मैं क्या करता. देखो ये तो रहा!” बहूरानी बोली और अपना पैर उठा कर मेरे लंड को छेड़ा, हिलाया.

मेरा वीर्य इतना ज्यादा निकला कि चाची की पूरी चूत ऊपर तक भर गयी और लंड रस बिस्तर तक बहने लगा.

देसी बीएफ गांड मारने वाली

वह खतरनाक शाम, जिसे मैं भूल जाना चाहती हूँ, लेकिन भूल नहीं पाती हूँ. शादी के बाद भी मौका मिलता है और उसका मन करता है तो वो मुझे चुद जाती है. मैंने उससे पूछा- आज दोपहर में कब आओगी?उसने कहा- मैं 1:00 बजे आऊंगी.

अब मैं सबकी तरफ देखते हुए दबे पाँव अपने बड़े लंड के पास उनके कमरे में चली गई. क्या करूँ?उसने अपना मुँह खोला और कहा- अपना पूरा माल मेरे मुँह में डाल दे. कम्मो भी टैक्सी की दूसरी ओर की खिड़की के पास खिसक गयी और मजे से वो सब क्सक्सक्स नंगे फोटो और चुदाई के वीडियो देखती रही.

चाची- चोद न रे … अपनी चाची को चोद …मैं- अभी चोद चोद कह रही हो लेकिन जब चाचा आ जाएंगे, तब आप नहीं चुदवाओगी मुझसे.

मेरे चाचा चाची और उनके बेटे, मतलब मेरा भाई और भाभी हमारे पुश्तैनी गांव में रहते हैं. वो मेरी चूत चाटने के बाद अपना लंड मुझे चूसने के लिए बोला और मैं अपने भाई का लंड चूसने लगी. भाभी ने मुस्कुरा कर मेरी आँखों में देखा और बोलीं- हैप्पी होली इन एडवांस.

एक आगे की तरफ जो नियमित प्रयोग में आता था, वो अलग गली में खुलता था और दूसरा जो सिर्फ भैंसों के लिए था और घर के पिछले हिस्से में था. इस सफल चुदाई के बाद उन्होंने मेरा शुक्रिया अदा किया और कुछ पैसे देते हुए बात को गुप्त रखने का वादा करके अपनी कार से मुझे मेरे मोहल्ले तक ड्रॉप करके गईं. मुझे कभी कभी चुदाई करने में डर लगता है क्योंकि अगर यह बात किसी को पता चल गयी, जो लोग मेरे घर के हैं, तो उनका क्या होगा.

उसे एक झटका सा लगा था और उसने अपनी अवस्था का ज्ञान अपनी कमर हिलाकर करवाया. इसलिए मैंने जल्दी बाहर निकलकर भाभी को पीछे से पकड़ा और उनकी गरदन पे किस करने लगा.

ऐसा लगा कि मेरी गान्ड फट गई, मेरे बगल से चार अंगुल के अंतर में जो अंकल लेटे थे, मेरी मौसी के ननद के पति, उनसे लिपट गई दर्द के मारे, और इतनी जोर से पकड़ा उनको कि अंकल की नींद खुल गई. क्योंकि मैंने बड़े ध्यान से उनकी पेंटी को देखा था कि उनकी पेंटी में बहुत से सफेद दाग लगे रहते थे, जिससे ये पता चलता था कि मामी रात को या फिर दिन में ही कितनी बार झड़ जाती होंगी. फिर वो बोली- मगर दीदी कभी दिल में यह ख़याल ना लाना कि मैं अभी भी उन पर नज़र रखती हूँ.

एक दिन वो कपड़ा धो रही थीं, मैं उनके पास जाकर बैठ और उनके हिलते हुए बड़े बड़े मम्मों को देखते हुए उनसे बातें करने लगा.

मेरे ऐसा बोलने पर सोनिया ने मुझे हल्का सा मुक्का मारा और हम सब हंसने लगे. सूरत में और कोई पहचान वाला नहीं था तो मुझे अपने चाचा की लड़की यानि मेरी बहन के घर जाना पड़ा. पर रात को सोचते सोचते पता नहीं, अचानक मैंने निश्चय कर लिया कि मिलूंगी.

मैंने पायल को दिल से थैंक्स बोला और उसने भी मुझे कसके हग करके लिपलॉक करते हुए एक लम्बा किस दिया. मैं बिल्कुल वक्त न गंवाते हुए सीधा उसके पास गया और पूछा- क्या मैं यहां आपके साथ बैठ सकता हूँ?उसने हां में सर हिलाया और मैं उसके बाजू में बैठ गया.

माइक ने एक और आखरी हल्का धक्का दिया और तारा के ऊपर अपना पूरा वजन गिरा दिया. मित्रो, आप सब तो जानते ही हैं कि मैं अपनी इन बहूरानी के साथ कई कई बार संभोग कर चुका हूं; अभी तीन दिन पहले ही हम दोनों बैंगलोर से ऐ सी फर्स्ट क्लास के प्राइवेट कूपे में बैंगलोर से दिल्ली आते आते उन छत्तीस घंटों में मैंने अपनी कुलवधू को हर तरह से, हर एंगल से … न जाने कितने आसनों में अपनी शक्ति शेष रहते चोदा था; परन्तु अदिति बहूरानी मुझे कभी भी बासी या फीकी, उबाऊ नहीं लगीं. उनके एकदम पास जाकर उनकी चोटी को अपने एक हाथ से पकड़कर उनके होंठों पर अपने होंठों को रखकर किस करने लगा और दूसरे हाथ से उनके शरीर को सहलाने लगा.

बीएफ दिखाइए इंडियन

बहूरानी ने सामान वाले कमरे का ताला खोला और हम दोनों झट से कमरे में घुस गये और दरवाजा भीतर से लॉक कर लिया.

उसकी चूत पूरी तरह से गीली हो चुकी थी, जिसकी वजह से पैंटी भी गीली हो गई थी. मैं तुरंत तैयार तो नहीं हुआ, पर दो चार बार के वार्तालाप के बाद में उस लड़के को बस एक नजर देखने को तैयार हो गया. फिर उन्होंने बताया कि शराब की बुरी लत के कारण मामा अपना पौरुष बहुत पहले ही खो चुके हैं और मामी की ओर बिल्कुन ध्यान नहीं देते थे.

ऐसा काफी दिनों तक चलता रहा वे मुझे रोज रात को दवा पिलाते और मेरे बदन को चूमते सहलाते. मैं सिखा देती हूँ।”तत्पश्चात उसने अपने हाथ में थमे मोबाईल पे यूट्यूब पे वैक्सिंग का एक वीडियो लगा कर दे दिया और खुद उस कमरे से अटैच बाथरूम में चली गयी।ऐसा नहीं कि इस तरह के वीडियो मैंने पहले कभी देखे न हों लेकिन इस नजर से तो कभी नहीं देखा था कि एक दिन मुझे खुद करना पड़ेगा. इंग्लिश सेक्सी वीडियो चोदामेरी दूसरी कहानी ‘बन गयी सत्यम की दुल्हन’ अन्तर्वासना की वेबसाइट पर भेजकर मैंने उन सभी की जिज्ञासा शांत की.

हां तो दोस्तो, मैं कुछ देर उनसे हँसी मज़ाक करके उनकी बातों को समझकर एक दो दिन बाद आने की कह दिया. मैंने कहा- ये क्या है?उसने मुझे देखते हुए कहा- मेरा चूत का लॉक किसी ने तोड़ दिया.

पर उसमें रिस्क बहुत ज्यादा था क्यूँकि अगर यह बात किसी को पता चल गयी तो बहुत बदनामी होगी. वो बिना शर्माए हर यौन इच्छा मुझसे बताती हैं और मैं उनको पूर्ण रूप से संतुष्ट करता हूं. इससे पहले भी मैंने ऐनल सेक्स यानी गुदा मैथुन यानि गांड मारने की बात की थी लेकिन उस समय पूर्वी ने यह बोल कर मना कर दिया था कि बाद में कभी ट्राई करेंगे.

राज अंकल अंकित के सगे फूफा हैं, अंकित राज अंकल से बोला- फूफा जी, किसी को मत बताना, मैं वन्द्या की चुदाई आप लोगों से अच्छे से करवा दूंगा, कोई दिक्कत नहीं है, यह बहुत सेक्सी लड़की है, बहुत चुदाती है और इसका कोई जवाब भी नहीं. अब वक्त आ गया है कि लड़कियां भाभियां अपनी चूत में उंगली डाल लें और भाई लोग अपना लंड हाथ में पकड़ लें. चारों आपस में पक्की सहेलियाँ थी और कई सालों से एक दूसरे को जानती थी.

चाची बोले जा रही थीं- आह … चोद … चोद … चोद … और चोद … चोद न रे … चोद मेरी चूत … आह … चोद … चोद … चोद अपनी चाची को … कितना बड़ा चोदू है रे तू … कितना मजा देता है रे मेरी चूत को … चोद मेरी चूत … हाय रे मेरी चूत … हाय रे तेरा लंड.

बहुत भूखी हूं मैं!” उसने मेरी ओर कनखियों से देखते हुए हंस कर जवाब दिया और अपना सिर सामने वाली सीट से टिका दिया. जैसे ही अन्दर लंड गांड में घुसने लगा, इतना तेज दर्द शुरू हुआ कि असहनीय.

उसके मम्मों पर छोटे छोटे गुलाबी निप्पल थे जो मेरे चूसने से तन कर खड़े हो गए थे. मेरा लम्बा और मोटा लंड देख कर बोली- मादरचोद ये लंड इतना बड़ा कैसे, अभी तेरी तो उम्र ही छोटी है?तो मैं बोला- तुझ जैसी रांड औरतों को चोदते-चोदते लंबा हो गया है. मैंने सोचा कि अच्छा होगा अगर मैं यहाँ से कहीं और चली ज़ाऊं और फिर से नई जिंदगी शुरू करूँ.

मैं देखना चाहती हूं कि कैसा महसूस होता है।”और रोशनी के लिये भी इसी वजह से तैयार हुई हो कि सारे दुर्लभ नजारे खूब अच्छे से देख सको।”या बेबी. तो अगले दिन सवेरे क़रीब नौ बजे मैं और कम्मो मार्केट जाने के लिए तैयार थे. ठीक 9 बजने को आया, सब लोगों का मिलना पूरा हुआ तो रीना के लवर ने बोला कि बॉस अब आप भी ऊपर जाके खाना खाइए, आपकी पसंद का गुजराती भोजन तैयार है.

बीएफ ब्लू हिंदी मूवी उसने घोड़ी बने हुए ही बिस्तर के सिरहाने रखे अपने हैंडबैग में से क्रीम की डिब्बी निकाल कर मुझे दे दी. पर अब मुझे उसकी गांड में अपना लंड डालना था, तो मैंने लंड को बाहर निकाल दिया और उसे डॉगी स्टाइल पोज में होने को बोला.

हिंदी में बीएफ फुल ओपन

हम दोनों की सिस्कारियां अब चीखों में बदल गयी और हम दोनों झड़ने वाले थे. मैंने धीरे से अपना दूसरा हाथ आगे से ले जाकर उनके पेट पर रखकर सहलाना चालू कर दिया. अब मेरा लंड मेरे कंट्रोल से बाहर हो रहा था तो मैंने मौसी की फुद्दी पर अपना लंड सैट किया और धीरे से अन्दर डाला.

जब तक आपका लंड जब अन्दर नहीं घुसेगा, आपका वीर्य जब तक मेरी चूत की गहराई में नहीं गिरेगा, तब तक मेरी चूत इसी तरह आग उगलती रहेगी. मैं भी तब पूजा के गोल गोल चूतड़ों पर हाथ फेरते हुए पूजा के पीछे पीछे टॉयलेट चला गया. मराठी एक्स एक्स सेक्सी पिक्चरफिर मैंने भी अकेलेपन को दूर करने के लिए अन्तर्वासना पर कहानी पढ़नी शुरू कर दी और मुझे भी लगने लगा कि मेरे जीवन में भी कोई जान होना चाहिए.

अभी तक तो मैंने पूजा की सहेली को नहीं चोदा है, पता नहीं कब पूजा उसे मुझसे चुदवायेगी.

जब कभी उनका मन होता है वो होटल में कमरा बुक करवा देती हैं और फोन कर देती हैं. आप खुद बजरिये इस कहानी जान लेंगे तो लीजिये सुनिए:कॉलेज में उस दिन एक्स्ट्रा क्लास थी.

उन्होंने अपनी टांग को सीधा करते हुए साड़ी उठा दी और कहा- शायद जाँघों पर है. अगर आप किसी विशेष घटना या स्टोरी टाईटल का जिक्र नहीं करते हैं तो ये समझ पाना मुश्किल होता है कि आप मेरी किस कहानी को लेकर बात कर रहे हैं. जिससे वो एकदम चुदास से भर के जोश में आ गयी और अपनी कमर उठा कर मेरा लंड अपनी चुत में लेने की कोशिश करने लगी, पर वो नाकामयाब हो रही थी.

टैक्सी में पिछली सीट पर कम्मो मेरे दायीं तरफ निकट ही बैठी थी, सट के तो नहीं पर हां काफी नजदीक थी कि उसके बदन से उठती हल्की हल्की सी आंच या तपिश मुझे महसूस होने लगी थी.

मैं पड़ोस की औरतों के सामने कुछ कर भी नहीं सकती थी क्योंकि अगर उन लोगों को कुछ पता चलता तो वे हल्ला कर देती और मेरी कितनी बदनामी होती … ये मैं ही जानती हूँ. रजत थोड़ी देर मयूरी को गहरा चुम्बन देने के बाद उससे अलग हुआ और नीचे बैठ गया. मैंने देखा तो उधर 2 औरतें थीं, जिन्हें मैंने पहले कभी नहीं देखा था.

xxx.com इंडियन सेक्सीसंपत ने कुछ नहीं कहा और वो मेरी मम्मी की चुचियों को तेजी से मसलने लगे. डियर दोस्तो, आप मुझे मेल के ज़रिए बता सकते हैं कि आपको मेरी आपको मेरी गांड चुदाई की कहानी कैसी लगी.

एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ मराठी

मुझे रहा नहीं जा रहा था, मैं उन्हें कह बार बार कह रहा था कि अब मेरी गांड मार दो, पर सर मुझे और तड़पा रहा थे. मैंने उससे पूछा- क्या बाकी के लैटर्स नहीं लेना है?वो हंस दी और बोली- अब मुझे कोई डर नहीं है. फिर रात को डिनर खा कर हम दोनों पढ़ने बैठे, मैंने उस दिन भी हाफ ट्राउजर ही पहन रखा था.

सच बताऊं कम उम्र की नयी लड़कियों को भी फुसलाकर उनकी भी गांड चुदाई की. रजत अपनी जबान से मयूरी को सुख देने में जुट गया और मयूरी अब स्वर्ग का आनंद लेने लगी. वो किसी रंडी लड़की के चक्कर में आ गए थे और वो रोज रात में उस रंडी लड़की के पास जाने लगे थे.

पहले तो यह बता दूं कि मौसी के यहाँ उनके परिवार और रिश्तेदार सबका बिस्तर एक हॉल में लगा करता है. उसी रात को दीपक अपना सामान लेकर मेरे घर पर आ गया और बोला- अब यहाँ से तो मैं निकलने वाला हूँ नहीं. तब मैं बोली- सच में अंकल क्या ऐसा हो सकता है? तब तो मेरे लिए बहुत अच्छा हो जाएगा, आपका यह एहसान मैं कभी भी नहीं भूलूंगी.

उन्होंने भी मेरा लंड चूस कर कड़ा कर दिया और फिर से चुदाई शुरू हो गयी. मैं एक ही झटके में पूरा उसकी गांड में डालना चाहता था, पर अभी भी उसकी गांड थोड़ी टाइट थी इसलिए इस झटके में मेरा आधा लंड ही अन्दर गया होगा कि वो चीख पड़ी.

फिर थोड़ी देर बाद जब उसकी चुत से काफी सारा कामरस निकला तो उसको इतना चैन मिला कि जैसे ऐसा पहले कभी हुआ ही नहीं हो.

मैं फट से उठा और गर्लफ्रेंड को साथ में लेकर चाची के कमरे में चला गया. सेक्सी इंडियन वीडियो एचडीमैं- लंड से क्या करते हैं?अंकल- इसको अपने हाथों से पकड़ो, सहलाओ, फिर देखना. करीना कपूर सेक्सी फिल्म वीडियोउन्होंने भी अपने हाथ को मेरी पैन्ट के अन्दर डाल दिया और मेरे लंड को सहलाने लगीं. मैंने उसके लंड को चाट कर साफ़ किया और उसने मेरी चूत को चाट कर साफ़ कर दिया.

बस एक दिन पहले ही सभी को बताया ताकि उसके बेटे को कोई बता कर उसके रंग में भंग ना डाल दे.

जिसका नतीजा यह निकला कि उसका सुपारा मेरी चुत को चीरता हुआ अन्दर चला गया और मेरी चुत से खून निकलना शुरू हो गया. वो बोला- कहाँ दीदी?मयूरी- नीचे… प्… पांव में… देखेगा प्लीज?रजत- मैं देखता हूँ!और रजत को तो जैसे मौका मिल गया हो अपनी इस कमसिन बहन को नजदीक से देखने और छूने का. थोड़े दिनों बाद मुझे भाभी का फोन आया और थोड़ी देर बात करने के बाद उन्होंने बताया कि खेत में अपने जो शरारत की थी, उसी के कारण अब मैं माँ बनने वाली हूँ.

सब घर वाले निकलने लगे और जाते समय मम्मी ने डिम्पल भाभी से कहा- हम सब 3 दिन के लिए जा रहे हैं तो आप विक्की का ध्यान रखना और खाना आदि खिला देना. अपने पिता के साथ होने वाली चुदाई की उत्तेजना में उसकी चूत ने बहुत सारा पानी छोड़ रखा था जिससे उसकी चूत बहुत ही ज्यादा चिकनी हो गयी थी. जब तक ना लंड अन्दर जा कर बच्चेदानी पर ठोकर ना मारे, तब तक चूत चुदवाने वाली को पूरा मज़ा नहीं आता.

बोलो हिंदी बीएफ

मुझे पता था कि अभी मेरी उंगली इसकी चूत में हाय तौबा मचाएगी तो ये अपनी सलवार क्या अपनी पैंटी भी खुद उतार के देगी मुझे; आखिर अपनी चूत की खुजली कब तक सहन कर सकेगी. ये सब उसने अकेली प्लान किया था और उसने सारी बात अपने परिवार में किसी को भी बताई नहीं थी. मैंने मामी से पूछा- हथियार बाहर निकालूं या आपकी चूत में ही विजय पताका लहराएं रखूं?मामी ने मुस्कान के साथ मेरे माथे पर चुम्बन किया और कहा- तलवार को म्यान में ही रहने दो.

मतलब साफ़ था कि आंटी मेरा ध्यान अपनी ओर खींचने का प्रयास कर रही थीं.

मुझे नहीं पता कि मुन्ना को चूत मारने का पहले से कुछ ज्ञान था या नहीं.

अंकल ने मुझे बुलाया और मेरे जिस्म पे हाथ फेरा और मेरे होंठों को चूसा. पटा नहीं उसे क्या हुआ कि जल्दी ही उसके मुंह से सिसकारी छूटने लगी और आवाज लगाने लगी- आ आ उ उ अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है, जल्दी से मुझे चोद दो!उसकी चूत ने इतना पानी छोड़ रखा था कि ऊपर आते ही मेरा लंड जो 6 इंच का लंबा 3 इंच मोटा है, उसकी चूत में घुस गया और मैं भी हैरान रह गया कि बिना कंडोम के उसने लंड कैसे मेरा चूत के अंदर ले लिया. 16 साल की लड़की का सेक्सी फोटोमैंने उसे सीधा बेड पर लिटा लिया और उसकी मोटी और गुदाज जांघों पर बैठ कर उसके मम्मों को भींचने लगा.

चूत का रस चाटने के बाद मैं अब उनके मुँह में मुँह डाल कर उनको ही उनकी चूत के रस का स्वाद चखाने लगा. शुरू में भाभी मुँह फेरने लगीं और वापस छूटने की कोशिश करने लगीं, पर मैंने उन्हें कस के पकड़ रखा था. अब उन्होंने लंबी सांस ली और मुझे ऊपर आने का इशारा किया, मेरी आंखों में बहुत ही गौर से देखा और कहा- राजे तुमने मुझे धन्य कर दिया!और वे मेरे लंड को लंड को हिलाने लगी.

जब करवाचौथ के चार दिन बाकी रह गए तो सभी सुहागिन औरतें तैयारी में लगी हुई थी कि तभी उस पड़ोसन भाभी ने मुझे फ़ोन किया। अनजान नंबर था इसलिए मैंने एक बार में नहीं उठाया. हम दोनों लोग पार्क में बैठ कर एक दूसरे से बातें कर रहे थे, तभी उसने मेरी चूची को देखते हुए दबा दिया.

लगभग 20 मिनट बाद एक लाल कलर की होंडा सिटी दुकान के बाहर रुकी और उसमें से करीब 28 साल की एक औरत निकली.

थोड़ी ही देर मैं मेरा ज्वालामुखी फट पड़ा और मैंने उसके ऊपर लावा बरसाना चालू कर दिया. इसी समय मेरे पीछे गांड में मुझे अजीब सी गुदगुदी सी होने लगी और मैं अपनी कमर को उठाकर पीछे करने लगी ताकि समाली अंकल का लौड़ा और घुस जाए. उसने पूछा- मुझे कब करोगे?मैंने कहा- रात को!वह खुश हो गई और वहां से चली गई.

सेक्सी लड़की साड़ी वाली अंकित बोला- जरा सब्र रख वन्द्या … तू इतनी खूबसूरत और सेक्सी है कि कोई तुझे सामने बैठा कर सारी उम्र बस देखता रहे. तो वह हँस कर बोली- जब तुम साथ हो तो कैसे कंट्रोल में होगा।और फिर मैंने उसको धक्का देकर बेड पर पटक दिया तो वह बोली- कितने जालिम हो!मैंने कहा- आज मैं तुमको अपना जालिमपना दिखाता हूँ.

दोस्तो उस बैंगन से मादक नमकीन सी खुशबू आ रही थी उस डस्ट बिन में विश्पर के भी पैकेट पड़े थे. कुछ ही देर में मेरे लंड ने उसकी चूत में जगह बना ली थी और उसका दर्द कम होता चला गया. ऐसे सोचते सोचते मुझे उस निर्भया का केस याद हो आया और मुझे पसीना आ गया.

हिंदी सेक्सी बीएफ हिंदी में सेक्सी बीएफ

मामी जी ने सिसकारी लेते हुए और मदहोशी से भरी हुई आंखों से मेरी आंखों में देखते हुए कहा- ऊऊऊ राहुल अब डाल भी दे. उन्होंने अपनी टांग को सीधा करते हुए साड़ी उठा दी और कहा- शायद जाँघों पर है. उस वक्त मेरी उम्र 18 साल की हुई ही थीमेरी माँ ने मुझसे कहा कि तू इन छुट्टियों में अपनी मौसी के घर चला जा!मैंने हामी भरते हुए कहा- ठीक है माँ.

चचेरी बहन से सेक्स की चाहत की इस कहानी के पिछले भागताऊ की लड़की को चोदा-2में आपने पढ़ा कि मैं अपनी चचेरी बहन को चोदना चाह रहा था और वो भी मुझे अपनी हरकतों से जता रही थी कि वो भी मेरे बिस्तर की रानी बनना चाहती है. मैं अपनी दीदी के देवर के लिए किचन से एक गिलास ठंडा पानी और कुछ खाने के चीजें लायी.

मैंने उससे पूछा- तुमको इतना अनुभव कैसे है सेक्स का? तुम तो बहुत अच्छी चुदाई कर रहे हो?तो वो बोला- मैं अपनी भाभी को भी चोदता हूँ.

मैं किसी मौके की तलाश में थी, मगर मुझे कोई मौका मिल ही नहीं रहा था. उसके छह महीने बाद उसकी शादी हो गई, उस बीच भी हमने बहुत एन्जॉय किया. अब भाभी भी जोश में आकर मुझसे कहने लगीं- उफ़फ्फ़ थोड़ा और ज़ोर से दबाओ ना.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:गर्लफ्रेंड के साथ मेरा पहला सेक्स-3. दबोचने के अंदाज में।उसने अपने हाथ मेरी पीठ पर पंहुचा लिये और मुझे कस लिया, जबकि अपनी टांगों को उठा कर उनसे मेरी जांघें जकड़ लीं।धक्के लगाने हैं?”नहीं. मयूरी ने इस वक्त का नियंत्रण पूरी तरह से अपने हाथ में लिया हुआ था, उसको पता था कि अब उसके पापा उसके इस कामुक और आकर्षण शरीर के हवस जाल में पूरी तरह फंस चुके हैं.

हम दोनों को चुदाई करते करते बहुत पसीना आ गया था तो मैंने अपने बेडरूम का कूलर चालू कर दिया और हम दोनों आराम से ठंडी हवा का मजा लेते हुए सेक्स करने लगे.

बीएफ ब्लू हिंदी मूवी: मैं उससे कहा करती थी कि चाचा दरवाजा बंद कर दो, तो वो कहा करता था कि मुझसे क्या शरम, मैंने तो तुम्हें अपनी गोद में खिलाया है. वो डोर के छेद के पास ही अपनी टांग उठा कर अपनी उंगली अपने चुत में डाल रही थी और कामुक सिसकारियां निकाल रही थी.

रशीद अपना लंड पायल की पीठ पे फिराने लगा … उसके चूतड़ों को मसलने लगा. शौर्य ने फिर अपने लंड को हाथ में लेकर हिलाने लगा और साथ ही जोर जोर से मेरा लंड भी चूसने लगा. अब तुम्हें गांड मराने की आदत पड़ जायेगी तो तुम किसी और से तो नहीं मरवाओगी ना?मैं- पता नहीं, अब क्या होगा, और आपकी बनकर क्यों रहूँ.

तारा ने मुझे मुनीर के ठीक सामने ले जाकर खड़ा कर दिया और कहा- शौक बड़ी चीज है.

अम्मा भी कल बापू से बोल रही थीं कि सुनो जी अपना लड़का ज़रूर पिंकी से कुछ ना कुछ करेगा. मयूरी- जैसी आपकी मर्ज़ी पापा…और फिर थोड़ी देर तक रंगरलियां मनाने के बाद बाप-बेटी ने अपने कपड़े पहन लिए. उसने मुझे ऊपर से पूरी नंगी करके मेरे मम्मों को अपने मुँह में लिया और बोला- आज पता नहीं कितने सालों बाद इनको देखना नसीब हुआ है.