कुमारी लड़की के सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,वीडियो बीएफ देखना

तस्वीर का शीर्षक ,

जुग जुग जिए हो ललनवा: कुमारी लड़की के सेक्सी वीडियो बीएफ, होटल से बाहर के लोग हमें कपल समझ रहे थे, लेकिन हम दोनों होटल में अलग अलग रूम में रहते थे.

बीएफ सेक्स हरियाणा

कुछ ही देर में भाभी ने अपनी चूचियां और अपने मुंह को बेड के ऊपर रख दिया, जिससे मैंने उनकी जांघों को पकड़ कर जोर-जोर से चुदाई शुरू की. 14 साल की लड़की सेक्सी बीएफइन सारी प्रक्रियाओं में मैं तीन बार झड़ चुकी थी और अब बैडमैन भी झड़ने की कगार में था.

इस जगह, परपुरुष से इतनी देर बातें करने का कोई गलत अर्थ भी निकाला जा सकता था. प्योर सेक्सी बीएफउसने एक पल मेरे दोनों स्तनों की गोलाइयां देखीं, फिर मेरी ब्रा को दोनों तरफ से सरका कर स्तन बाहर कर दिए.

मैंने अपने लंड को भाभी के मुंह में डाल दिया जिसे भाभी ने पूरा मुंह खोलकर अंदर लिया और कुछ देर तक चूसती रही.कुमारी लड़की के सेक्सी वीडियो बीएफ: तब नहलाती थी मैं तुझे, भूल गया क्या?मुझे वो दिन याद आ गया, जब मामी ने मेरी लुल्ली पकड़ी थी, जो कि अब लंड बन चुका था.

मैं समझ गया कि इसको चुदना तो है, लेकिन ये पहली बार के कारण डर रही है.वो जब रसोई में काम कर रही थी, तो मैं बार बार रसोई में जा कर उसके चुचे और गांड मसल रहा था.

मंकी बीएफ फिल्म - कुमारी लड़की के सेक्सी वीडियो बीएफ

मैंने कहा- तो आप ही बता दो कि क्या बात है?भाभी बोली- आप मुझे पसंद करते हो न?मैं भाभी की इस पहल पर थोड़ा घबरा सा गया मगर फिर सोचा कि इससे अच्छा मौका फिर दोबारा नहीं मिलेगा अपने दिल की बात कहने का.खूब बड़ी बड़ी गोल गोल चूचियां, हल्के से भूरे रंग के नुकीले निप्पल और थोड़े गहरे भूरे निप्पल के दायरे.

ये सब जानने के लिए नए पाठक मेरी पहले प्रकाशित कहानी ‘वो बरसात की हसीन शाम. कुमारी लड़की के सेक्सी वीडियो बीएफ सुधा ने ताना मारते हुए कहा- कलमुंही तू मिलने देगी तब न प्यास बुझ पाएगी.

मुझे करीब पांच मिनट से ज्यादा हो गए बिना पलक झपकाये, मेरी आंखें भर आईं, पर उस लड़के ने पलक नहीं झपकाईं.

कुमारी लड़की के सेक्सी वीडियो बीएफ?

सलोनी- आआह … ऊई ई ई … माँ …उसने गर्दन घुमा कर मेरी तरफ देखा, मगर हवस, वासना का आवेश ऐसा था कि मैं उसमें आनंद पा रहा था. मुझे पता था कि मुझे सोनू को चोदना है, तो दिन में ही मैं केमिस्ट से एक वाटर जैल ट्यूब ले आया था. मैं शादी के बाद 24 घंटे बस तेरी टांगों की नीचे लेटा तेरी चुत को चाटता रहूंगा.

रूपा- मालिक आज नाश्ते में क्या खाएंगे?रमेश ने मेरे बोलने से पहले मुस्कुराते हुए कहा- नाश्ता बनाने की कोई जरूरत नहीं है रूपा, क्योंकि मैंने पास के गांव के फेमस नाश्ता मंगवाया हैं, भूरिया कुछ देर में लेकर ही आ रहा होगा. मैंने उसी वक्त उसकी कच्छी को निकाल दिया और उसकी चूत को नंगी कर दिया. आप सभी ने मेरी पिछली कहानीदोस्त की बहन की चूत चोद दीको बहुत पसंद किया और बहुत से पाठकों के मेल भी आए।मैं इस कहानी को अब आगे भी बताना चाहता हूँ.

मैं वहीं खड़ा रहा तो वो शर्म की वजह से पेशाब भी नहीं कर पा रही थी।मैंने उससे कहा- अब मुझसे क्या शर्मा रही हो. तभी अचानक सोनिया वहां आ गई और उसने बुआ से पूछा- क्या बात है, आप रो क्यों रही हो?तो बुआ ने उसे पूरी बात बता दी. बड़े भैया सूरज की पत्नी जो मेरी भाभी है, बहुत ही सुंदर और सेक्सी है.

मगर कुछ बातें हम औरतें ऐसे पचा लेती हैं कि डकार भी न निकल पाए! मैंने बस दो-तीन बार ऊषा को पिन मारी कि सारा का सारा वाकया उसने मेरे सामने उगलते हुए अपने मुंह से उल्टी कर दी. अब जीजा जी आराम से थोड़ा-थोड़ा करके हिलने लगे तो उम्म्ह… अहह… हय… याह… मुझे दर्द फिर से होने लगा मगर कुछ ही देर में फिर मैंने अपने शरीर को ढीला छोड़ दिया.

वैसे तो मेरा पहली बार था, पर मैंने ब्लूफिल्म देख देख कर इतनी मुट्ठी मारी थी कि मुझे भी याद नहीं कि अब तक कितनी बात मुठ मार चुका हूँ.

मेरे किराए के मकान में नीचे का फ्लोर मेरा और ऊपर के फ्लोर में मकान मालिक की फैमिली रहती है.

कोलेज के उन दिनों में पता चला कि ये सिर्फ दोस्ती वाला लगाव नहीं है, ये जिस्म की प्यास भी है. उनकी उंगलियां सोनल की पैंटी के बॉर्डर पर घूम रही थीं और एक उंगली उसकी चूत की दरार पर पैंटी के ऊपर घूम रही थी. मैंने पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत सहलानी चाही, तो उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोली- अंकल वहां हाथ क्यों डाल रहे हो.

मैं बिना रुके बुर का रस पी रहा था क्योंकि उसकी चुत से तो झरना बह रहा था. बस वो मुझे चूमता रहा और मेरे मम्मों को कस के रस निकलता रहा उन्हें ज़ोर ज़ोर से दबा दबा कर!कुछ देर इस तरह से करके उसने मेरा सारा ध्यान दर्द से हटवा दिया और मैं खुद ही अपने चूतड़ हिलाने लग गई. मुझे पता था कि मुझे सोनू को चोदना है, तो दिन में ही मैं केमिस्ट से एक वाटर जैल ट्यूब ले आया था.

अब मामी जी की मस्त मोटी गांड मेरे सामने थी, जिसका मैंने कल रात को उद्धाटन किया था.

अब पायल ने अपने मुँह को मेरी नाभि पर लगा दिया और मेरी नाभि के उभरे हुए भाग को अपने दांतीं से पकड़ कर कसके काट लिया. वे मेरी चूत से टपकते रस को चाटते हुए बोले- बंध्या तेरी चुत तो बह चली है, बहुत स्वादिष्ट मस्त रस आ रहा है. अमीषी ने पत्थर देखा तो वे नीचे भाग गई, मैं भी डरा कि अब बुला के लाएगी किसी को.

मैं बोलने लगी- हां भड़वे कुत्ते और चाट … मस्त चाटता है आशीष तू … बहुत कमीना है … और चाट जोर से ले उंहहह ऊंहहह हां हां हां!मैं गरम आवाज निकाल रही थी. हालांकि मुझे दर्द सा हो रहा था लेकिन चुदने की चाहत से मुझे इस दर्द में भी आनन्द मिल रहा था. निकाल ले एक बार!तभी उसने मेरी पीठ को अपने होंठों से चूमना शुरू कर दिया.

एक दिन मेरे ऑफिस में मेरा एक फ्रेंड, जो कि उसकी गर्लफ्रेंड के साथ में घूमने जाने का प्रोग्राम बना रहा था, उसने मुझसे भी जिद की कि मैं भी अपनी गर्लफ्रेंड को साथ लेकर चलूं.

मेरी गे सेक्स कहानी के पहले भागएक लड़के को देखा तो ऐसा लगा-1में आपने पढ़ा कि मैं एक सोशल मीडिया साइट पर एक जाट लड़के से बातें करने के बाद उसके जिस्म को भोगने के लिए रात में घर से निकल गया. उसने रात का खाना टाइम से बनाया और अपने पापा को दारू पीने की खुली छूट दे दी, जबकि उसकी माँ ने मना किया था कि ज्यादा मत पीने देना.

कुमारी लड़की के सेक्सी वीडियो बीएफ जैसे जैसे उसकी कमर नीचे आ रही थी, उसकी चुत की मादक खुशबू मेरे नथुनों में भर रही थी. ज़रीना की मादक सिसकारियाँ और सारा की दर्द भरी चीखों ने मेरा दिमाग सुन्न कर दिया था। पता नहीं सारा ने कब मेरा लण्ड अपनी गांड से निकाला और घोड़ी बने बने ही अपनी चूत में ले लिया और आगे पीछे होकर चुदने लगी.

कुमारी लड़की के सेक्सी वीडियो बीएफ अब तक आपने मेरी कहानीआपा के हलाला से पहले खाला को चोदामें पढ़ा था कि नूरी खाला को जबरदस्त चुदाई का मजा देने के बाद दूसरे दिन मेरा निकाह हलाला की बंदिश में बंधी मेरी आपा सारा से होना था और उसके साथ मुझे शौहर के मानिंद रात गुजारनी होगी. अब ले … और चोद ले अपनी मर्जी से!” कहते हुए प्रशांत के हाथ कभी न आने की धमकी देने लगी.

मैंने भाभी को पलंग में थोड़ा बाहर तरफ खींचा और उनकी दोनों टांगों के बीच में खड़ा हो गया.

सेक्सी बीएफ चाइना की

पायल बोली- जीजू, मैं आपकी इज्जत करती हूँ और आपको पसंद भी, इसीलिए मैं कुछ नहीं बोली, लेकिन ये नहीं चलेगा, मैं सिर्फ आपके लिए हूँ. फिर वो मेरे मुँह में अपनी चुत को रख कर बोली- छेद चूसो राज … मेरा पति ऐसे नहीं चूसता … जैसे तुम करते हो. दोस्तो, इस कहानी में यहीं तक!अब आपको लोगों से सवाल पूछना चाहता हूँ कि क्या मुझे अपनी बिटिया को चोदना चाहिए.

कोमल की इस बेताबी की कई वजह थी, जैसे मैं उसको पसंद करता था, उसी तरह वह भी मुझे पसंद करती थी. अब वो मुझे बोलने लगी- मेरी चूत में लंड डाल!मैं मना करता रहा पर वो नहीं मानी, वो बोली- तेरा लंड तो तेरे भाई से भी तगड़ा है. उनके व्यवहार से ज़रा भी यह नहीं लग रहा था कि उन्हें मुझमें कोई रूचि है.

उसने अपनी ऊपर वाली ड्रेस उतार दी तो मैं उठ खड़ा हुआ और उसकी कमर पे हाथ रख कर कहा- अब मैं उतारूंगा.

दो मिनट बाद फिर से चाय लेकर आया और बोला- एक कप और पीजिए … अच्छी चाय है. मैंने लंड को मम्मों में फंसा दिया, भाभी ने भी मेरे लंड को अपने मम्मों में दबा लिया और लंड बाहर न निकल सके, ऐसा कर लिया. कुछ मिनट बाद मैं भाभी को बाथरूम ले जाकर सफाई करने लगा और शॉवर चालू कर कर उनकी चिकनी चुत चाटने लगा.

वो गांड में दर्द के मारे उठ नहीं पा रही थीं, तो मैंने उन्हें अपनी गोदी में उठाया और नीचे उतर कर दरवाजा बंद करके बाथरूम में ले गया. एक साथ खाने का मजा भी तो अलग होता है न! ना-नुकर करते हुए भी लोग ज्यादा खा लेते हैं. इस कहानी में आपने पढ़ा कि कैसे मैंने सारा आपा के हलाला से पहले नूरी खाला को चोदा.

मेरा मन तो किया कि कहीं अँधेरे में ले जा के अपने और उसके मन की सब कर दूँ लेकिन मैंने कण्ट्रोल किया. मैंने उससे कहा- इतनी रात को मेसेज कर रही हो?वो बोली- यार मुझे नींद नहीं आ रही थी.

उन्होंने झट से अपनी पैंट की ज़िप खोल कर अपना लंड मेरी आँखों के सामने निकाल दिया. मैं समझ गया कि ये मुझे ऐसे तड़पा के और मेरे खड़े लंड की हालत देख के (जब मैं उसे सैट कर रहा था) बहुत खुश हुई हो. तुम मुझे मदद करोगी ना?”अंकल के बोलते ही मैंने शर्माकर सिर्फ हां में सिर हिलाया.

मैंने अपना दाहिना हाथ धीरे से बाहर निकाला और उसकी सलवार की तरफ हाथ बढ़ाने लगा.

मैंने सोनू को समझाया कि तुम अब पूरी जवान हो चुकी हो, औरत की चूत में भगवान ने इतनी जगह बनाई है कि वह बड़े से बड़ा लंड भी ले सकती है. चूंकि रिया की चूत वीर्य से भरी थी, एकदम चिकनी थी, इसलिए एक ही झटके में पूरा लंड अन्दर घुस गया. चूत में तो लंड को अन्दर खुद मेहनत करनी पड़ती है, लेकिन मुँह में लंड की सेवा, लड़की की जुबान करती है … आह … कैसी लपर लपर करके लंड को चारों तरफ से सहलाते हुए मजा देती है … इस मजा को शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता है.

मैं- चल अब शिकवे गिले छोड़ और उस लंड को चूस भी ले, जिसे तूने फोटो में देख देख कर बहुत बार अपनी चूत में उंगली की है. मैंने अपनी बाइक उसकी बगल में रोकी और उससे कहा- मैडम, क्या मैं आपकी हेल्प कर सकता हूँ? आज ऑटो वालों की हड़ताल है.

अब उसकी आँखों में चमक और होंठों पर स्माइल थी। फिर मैं उसे धीरे-धीरे चोदने लगा और फिर मैंने उसकी टाँगों को अपने कंधे पर रखकर लंड को पूरा बाहर निकाला और जोर से एक ही बार में पूरा लंड चूत में डाल दिया. इस पर बड़ी कातिल अदा के साथ नीना भी पूरी घरेलू चुदक्कड़ औरत की तरह प्रशांत को तड़पाने के मूड में आ गई और पलटकर प्रशांत के खूंटे जैसे लौड़े को अपने दोनों हाथों से जकड़ लिया. एक दिन उस भाभी के पति यानि मेरी बुआ के लड़के ने मुझे बाहर अंडे खाते हुए देख लिया, तो वो मुझसे बोले- तू घर पर ही अंडे क्यों नहीं खाता?तो मैंने बताया- बुआ के घर अंडे नहीं खाते.

xxx वीडियो बीएफ हिंदी

इस पोजीशन में वो बार बार चुदाई करते हुए रूक जाया करता, मुझे गुस्सा आता, चिढ़ भी होती और चुदाई का मन भी बढ़ता.

मैं भी उसकी गाली सुन कर उत्तेजित हो रहा था और ‘चोदो मुझे … और चोदो!’ ऐसा कह कर उसे और तेज़ी से चोदने के लिए उकसा रहा था. कभी विचार आया नहीं या फिर मेरे पास ऐसी कोई अपनी जीवन की कहानी नहीं थी. बैठने के बाद जब मैंने जूस पी लिया तो उसने पूछा कि पानी पूरी लाए हो या नहीं.

कुछ दिन रहने के बाद ननकू शहर चला गया पर मीना के दिल में भय सा बैठ गया. तब मैं उसको अपने मोबाइल पर उस कैमरे से ली गई रेकोर्डिंग दिखाने लगी. बीएफ बीएफ गुजरातीपापा मेरी चूत के रस को अपने हाथों में लेकर दिखाते हुए बोले- तुम में बहुत आग है मेरी परी, आज तुम्हारे पापा उसको शांत करेंगे बेटा, तुम दो मिनट रुको!इतना बोले और पापा रूम से बाहर चले गए।dio तीन मिनट बाद पापा वापस आये और उनके हाथ में दो कंडोम थे.

उसका हमारे ही कॉलोनी के राकेश के साथ अफेयर था और उसके बारे में किसी को कुछ खबर नहीं थी. लेकिन यह सब कुछ जीवन की यादें बनकर रह जाता है और हमारे दिल की इन यादों को कहानियों के रूप में साझा करने का मौका देता है.

वो बोली- दोपहर को मार्किट में मिलना मुझको, मुझे कुछ दिलवाना है आपको. जैसे ही मैंने इसकी सलवार के ऊपर से ही उसकी चूत पर हाथ फिराया तो उसकी आह निकल गयी. अब मैं उसकी चिल्लपों से कतई नहीं डर रहा था और न ही उसके बोलने की आवाज़ आ रही थी.

मैं आपकी इस चूत का मूत पीना चाहता हूं। भाभी मुझे अपना गुलाम बना लो, मैं आपकी रोज सेवा करूंगा. चूत के अन्दर लंड के अलावा सिर्फ मर्द की जीभ जाते ही लड़की का पागलपन झलक जाता है. और दोनों हाथों से उसकी गोल गांड को पकड़ा और लंड को दे दनादन उसकी चूत में पेलने लगा.

मैंने उसको फिर अपनी गोद में बैठने को कहा और हम दोनों नंगे होकर एक-दूसरे की बाहों में लिपट गए.

जब तक तीसरा पैग खत्म हुआ तो कमरे की सारी दीवारें घूमती हुई दिखने लगीं. औऱ उसके बाद तुम्हारी चूत में अपना लंड डालकर तुम्हें जमकर चोदना चाहता हूं.

मेरी बात सुनकर उसके भीतर एक आत्मविश्वास सा जागृत हो गया और वो भीतर से प्रसन्न हो गयी. मैं तो बहुत थक गई हूं।अनन्त जीजू हँसते हुऐ बोले- नहीं जी, तुमने पूरी रात चुदवाने का वादा किया था, अभी तो रात बहुत बाकी है।फिर अनन्त जीजू और विनय जीजू दोनों दीदी से लिपट गये. यह पतली कमर, गहरी नाभि, तेरे कड़क बूब्स … उस पर यह बहुत फूली हुई चुत … ओह गॉड … कोई मर्द ऐसा नहीं होगा कि तुझे देख ले और उसका तुझे चोदने का मन नहीं करे.

मैं इस वक्त भाभी को फुल रफ्तार में चोद रहा था और भाभी आवाजें कर रही थी. फिर बात को संभालते हुए कहा- जीजू, इस बारे में कुसुम दीदी को न बताएं. अब मेरी बिटिया आरज़ू पूरी नंगी थी और मैं विडियो देख कर अपना लंड पकड़कर बैठा सब देख रहा था.

कुमारी लड़की के सेक्सी वीडियो बीएफ उधर उसका यार मेरी चूत का बुरा हाल कर रहा था, अपनी ज़ुबान को मेरी चूत खोल कर जितनी अंदर कर सकता था, करके अपनी ज़ुबान को घुमा रहा था. मीरा- देखो ऋषभ इंटरव्यू के टाइम पर सब ऐसे ही बोलते हैं क्योंकि उनको हायरिंग करनी होती है.

फुल एचडी बीएफ बीएफ

इसी स्थिति में वो धीरे धीरे नीचे हो रही थीं, उनका बांया हाथ मेरे लिंग पर आ गया और दूसरा हाथ मेरी टांगों के बीच से निकलकर मेरे अखरोटों से खेलने लगा था. मिसेज पाटिल डॉली को सुन भी रही थीं और मेरे लंड का मजा भी ले रही थीं. उसकी फिर से चीख निकल गई- ओहहहहह माँआ … मर गई … उह!वो रोने लगी और कहने लगी- तुम लंड बाहर निकाल लो … मैं नहीं ले पा रही हूँ … तुम्हारा लंड बहुत ही लंबा और मोटा है.

फिर एक ही झटके में उसकी गांड पर जोर से थप्पड़ मारते हुए उसके बालों को खींचा और उसकी चुत में पूरा लंड पेल दिया. फिर शर्ट के एक एक बटन खोलना शुरू करती, बटन निकालते वक्त ही स्तनों को हो रहे स्पर्श से ही मेरे निप्पल्स कड़क हो जाते थे. सनीलियोन बीएफमैं बोलने लगी- हां भड़वे कुत्ते और चाट … मस्त चाटता है आशीष तू … बहुत कमीना है … और चाट जोर से ले उंहहह ऊंहहह हां हां हां!मैं गरम आवाज निकाल रही थी.

ऐसा मन करता था कि उसे पकड़कर जी भर के उसकी गांड मारूं … पर डर के कारण कुछ नहीं कर सका.

काफी देर सोच विचार करके उसने मुझसे पहले तो मुझसे सवाल करने शुरू कर दिए. मेरे रूममेट को भी शायद मुझसे ये ही जलन थी कि मेरे पास दोनों एक से बढ़कर एक माल हैं और उसके पास एक ही है, वो भी डेली अलग अलग लंड लेती है.

अरे नीतू बेटा सुनो तो, मुझे एक रिसर्च करना है, इसके लिए मुझे तुमसे एक किस चाहिए. चूंकि मैं उसको बगल में भरे हुए था, तो मेरा हाथ सीधा उसके खुले पेट पर पड़ गया. फिर मैंने अपना एक हाथ से आहना के बालों को पकड़ कर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए.

मेरी सेक्स स्टोरी के पहले भागशौहर के लंड के बाद चूत की नई शुरूआत-1में आपने अब तक पढ़ा कि शौहर से सम्बन्ध खत्म होने के बाद मेरे ऑफिस में मेरे साथ काम करने वाले स्टीव से मेरी हसरतों ने कुछ खेलना शुरू कर दिया था.

फिर भी एक और दबी-घुटी हुई हलकी सी चीख निकल ही गई- ई ई माँ … ऊऊ ऊ आ … आ आ ई ई माँ … आ आ आ … मर र र र गई … ईई ई ईई … सी … सी. फिर इसके बाद मैं कम्बल में मुँह डाल कर घुस गई और वो बाहर सर निकाल कर बैठ गया. इंदु बीच बीच में मेरे लोड़े को पकड़ के दबा देती और मेरे आंड को भी दबा देती जिससे मुझे भी बहुत आनंद आ रहा था.

एक्स एक्स पोर्न वीडियो बीएफवैसे तो मुझे अब्बू और भाई जान के आठ इंच के लंड लेने की आदत थी पर पता नहीं आज इस 6 इंच के लंड का मज़ा अलग आ रहा था. फिर मैंने जरीना की जम कर चुदाई की और उनको जन्नत की सैर कराई और फिर उनके हाथ बांध कर, उसके मुंह में दुपट्टा ठूंस कर मैंने ज़रीना की चूत में उंगलियाँ घुसा कर गीली की और दुल्हन की गाँड में अपनी उंगलियों को घुसा दिया। और फिर चूत में अपना लंड घुसा कर लण्ड को चिकना किया और गांड के ऊपर रख कर हल्का सा धक्का लगा कर सुपारे को ज़रीना की गांड में फंसा दिया.

सनी लियोन का बीएफ एचडी में

उसने कहा- उम्म्ह… अहह… हय… याह… जान, ऐसे तुम तो बड़ी मज़ेदार हो, ऐसी ही उम्मीद थी, बस ऐसे ही … आह येस्स्स बेबी. तो तुमने कहा था कि मैंने कब मना किया तुम्हें, इसका मतलब क्या निकालूं, क्या मेरा चान्स है?मैं मुस्कुराने लगी तो वो और बैचन हो गया और बोला- प्लीज बोलो न कुछ तो?मैं बोली- हो भी सकता है और नहीं भी हो सकता।उसने बोला- चलो मैं ट्राई कर लेता हूँ. वह बोली- आप ही पहना दीजिये!मैंने उसे अंगूठी पहनाई और उसके गोर हाथ को सहलाया और चूम लिया वह सिहरने लगी.

मैं चुत को मुहह हहह मुआहह हहह कर के चाटता जा रहा था और भाभी मेरे मुख में चुत सटाती जा रही थी. तभी मुझको याद आया तो मैंने उससे पूछा- अमीषी तुम्हारे पापा? वो कहां रहेंगे?वो बोली- उनको होश ही नहीं रहता, वे दारू में टुन्न रहते हैं, उनकी कोई दिक्कत नहीं है. अगर अपनी लेडी को खुश नहीं कर पाए, तो फिर समझ लेना न कोई पैसा मिलेगा, न ही आगे से कोई काम.

उसको मेरी बात सही लगी लेकिन वो शंका जताते हुए बोली- अजनबियों से चुदाई में किसी किस्म का मार पिटाई का खतरा तो नहीं रहेगा?मैंने कहा- यार थ्रिल करने के लिए कुछ डिफरेंट करने में थोड़ी रिस्क तो उठानी हो पड़ेगी. आप बताओ न, क्या विषय है आर्टिकल का?उनके चेहरे पर बोलूँ कि नहीं बोलूँ, कुछ ऐसे भाव थे. उसका मूसल जैसा लंड जब दीदी की चूत के अंदर जाता तो दीदी की चूत फैल जाती थी.

उसका एक हाथ मेरी जांघों को सहला रहा था, तो दूसरा मेरे निपल्स को मसल रहा था, मैं आंखें बंद करके दबी आवाज में सिसकारियां भर रही थी. कल्पना- अब मेरे बारे में इतना कुछ जानने के बाद आप मेरे लिए अनजान कहां रहे.

मैंने भी अपने सारे कपड़े उतार दिए और उसके सामने बिल्कुल नंगा हो गया.

जैसे ही दरवाजा खुला, उसका कज़िन शोभन अंदर आ गया और उसने बिना मेरी तराफ़ देखे आरती को गले लगा कर उसके मम्मे खींचने शुरू कर दिए और बोला- बता ना कौन सी नई चूत का इंतज़ाम किया है अपने इस लंड के लिए जो ठुमके मार रहा है जब से तुम्हारी बात सुनी है. आदिवासी नंगी बीएफमैं निकाल कर आ जाती हूँ अभी” मैंने कसमसा कर कहा।निकालो, जो कुछ है एक मिनट में निकाल दो यहीं!” सर ने कहा।मैं एक पल के लिए हिचकिचाई और फिर कुछ सोच कर तिरछी हुई और ऊपर से अपनी स्कर्ट में हाथ डाल लिया. बीएफ चुदाई की सेक्सी वीडियोफिर तू मिल गया और तेरे भैया तो कल ही चोदेंगे ना, तब तक मैं बिना लंड के नहीं रह सकती. अब मुझे लगा कि मैं झड़ने वाला हूँ तो मैंने अपने लंड को उनके मुंह से निकालना चाहा पर उन्होंने सिर हिलाकर मना किया और मेरी कमर के पीछे हाथ रखकर मुझे आगे को खींचा.

मेरे लंड की रगड़ को अपनी गांड के अन्दर महसूस करके, मामी जी भी अब पूरी मदहोश हो चुकी थीं.

मैंने उसे समझाया कि उसका चूत का पानी मेरे लंड को बहुत मीठा और तीखा लगा और इसने तो बहुत एन्जॉय किया. मैं उसकी गर्दन में चुम्बन करने लगी, फिर उसके सीने में जीभ से चाटते हुए मैं उसकी नाभि तक आ पहुंची. इधर मैं भी इंदु की चुत को पूरे करीब से देख रहा था और चुत को जीभ से चाट रहा था.

तब उसने मुझे पूरी नंगी किया और फिर आरती से कहा- तुम इसके मम्मों को चूसो और मैं चूत की सफाई करता हूँ. प्रोफेसर साहब ने कहा कि कमरे के अंदर जो सामान पड़ा है वह वहीं रहेगा और छत के ऊपर हम लोग भी आते-जाते रहेंगे. वैसे सच कहूँ तो मुझे भी बाहर इतनी गर्मी में जाने का मन नहीं हो रहा था.

xxx हिंदी बीएफ

मेरे को काम करने का कोई अनुभव भी नहीं था, तो सभी मेरे ऊपर रौब दिखाते थे. मेरी चुदक्कड़ बीवी की चूत का जायजा लेने के लिए प्रशांत ने अपनी दो मोटी-मोटी उंगलियों को अन्दर डाला, तो वह कसमसाकर कर उसके सीने से चिपक गई. अनन्त जीजू को बगल के रूम में लिटाकर दीदी, जीजू और मैं हमेशा की तरह लेट गये। जीजू दीदी से कुछ बात कर रहे थे।फिर मैं सोने लगी, दीदी ने गौर से मेरी तरफ देखा और उनको ये लगा कि मैं गहरी नींद में सो गई तब वे बेफिक्र होकर बात करने लगे.

उन्होंने कराह कर बोला- आखिर फाड़ ही दी मेरे छोटी सी चुत को!मैंने उनके आंसू पौंछते हुए कहा- जो होना है, सो हो गया … अब तो और मज़ा आने वाला है.

मैंने एक लाइट पिंक लहंगा चुन्नी का जोड़ा खरीदा शादी में पहनने के लिए.

आरती- हेलो शोभन!शोभन- बोलो जान, आज कैसे याद कर लिया? आ जाऊँ क्या चूत को मस्त करने के लिए?आरती- इसीलिए तो तुम्हें फोन किया है. तभी मणि ने कोमल को पीछे से पकड़ कर गांड चौड़ी करके लंड पेल दिया और संजय नीचे से कोमल की चूत में लंड डाले हुआ था. काजल सेक्सी बीएफ वीडियोइस पर डॉली ने कहा- और आपके हब्बी?तो मिसेज पाटिल बोलीं- उनको तो एक बार नींद आई, तो फिर सुबह ही उठते हैं.

वह मुझे देखकर थोड़ी सी मुस्कुराई फिर उसने मेरे लिंग को अपने मुँह में ले लिया और मुझे मुख मैथुन का सुख देने लगी. तब तक मेरा हाथ अपने आप ही मेरी चुत तक चला जाता और चुत को पैंटी के ऊपर से सहलाने लगता. फिर जब कोमल आयी तो मणि कोमल की चुदाई करने लगा और मैं लंड की प्यासी हो गई.

उसकी चूत का फूलापन देखकर मेरे लंड ने मेरी पैंट में तंबू बना दिया था. ये कहानी मेरी और मेरे पड़ोस में रहने वाली भाभी की है। भाभी के बारे में बताऊं तो वो एक काम की देवी है। उसके बूब्स और उठी हुई गांड जो भी देखे, देखता ही रह जाए और भगवान से प्रार्थना करे कि ये सुंदरी अभी मिल जाए और इसके चूचे चूस लूं … गांड में लण्ड डाल दूं।देखने में भाभी का रंग गोरा चिट्टा, बिलकुल चिकनी चमेली है वह.

ज्यादा देर न करते हुए मैंने उसके टॉप में अपना हाथ घुसाकर ब्रा के ऊपर से ही उसके बोबे मसलना चालू कर दिया.

फिर उसने मुझसे पूछा- ये बताओ तुम अभी कहां पर हो?मैंने कहा- मैं तो अभी काम कर रहा हूँ।उसने कहा- तो एक काम करो, कि मेरे घर पर आ आजो, हम साथ में बैठकर कॉफी पीते हैं और इस बहाने मैं तुम्हारा शुक्रिया अदा भी कर दूंगी. वहां भैया ने तो जम कर पी, लेकिन मैं बिल्कुल लिमिट में ही पीता रहा क्योंकि मेरे दिमाग में एक ही बात चल रही थी कि घर जा कर भाभी के साथ होली के बहाने मस्ती करनी है. उसकी घर वाली ने खाना दिया और बोला- ये आप माला का खाना ले जाओ … और आप उधर ही रात को सो लेना, लड़की अकेली है और आप रहेंगे तो घर का भी ख्याल रख जाएगा.

शुद्ध हिंदी में सेक्सी बीएफ तभी पानी की एक बूंद उनके गालों से फिसलकर सीधे उरोजों के बीच में समा गई. वह बोली- दीपक, तुम भी मुझे प्यार करो न प्लीज … मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूँ.

लन्ड झड़ने से जीजू का जोश शान्त पड़ गया और जीजू अलग हट गये, मैं न जाने क्यों चिल्लाते हुये कमर पटकने लगी. फिर हम सिक्स नाइन की पोजीशन में आ गए और एक दूसरे के अंगों से मस्ती करने लगे. तो मैंने वैसे ही करा लिए।अगले दिन हम दोनों सीधे मेरे मामा के घर पहुंचे तो सभी ने हमारा बहुत स्वागत किया.

एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ बीएफ बीएफ

क्या लगाती हो आप अपनी गांड के छेद में मेरी रूपा भाभी?भाभी- चल साले लौड़े, हरामखोर, सबको मेरी गांड ही नजर आती है. मैंने रेड ब्रा पेन्टी स्ट्रिंग वाली और ब्लैक कलर का घुटने तक का सिल्क का गाउन पहन लिया. उन्होंने पूछा- आप कहां सर्विस करते हैं?तो मैंने बता दिया कि मैं तो एक स्टूडेंट हूँ.

मेरी हिम्मत बढ़ गयी और मैंने उसका हाथ अपनी पेंट के ऊपर से ही लंड पर रख दिया. इस प्रोफेशन में चूंकि हमें मसाज भी देना होता है तो मैंने बोला- ओके मैडम … पहले आप अपने गाउन को उतार कर साइड में रख लीजिये.

वैसे तो मम्मी पापा मुझे डिस्टर्ब नहीं करते थे, शायद उनका भी यही कार्यक्रम चलता होगा, पर मैं भी बिना रिस्क लिए सब सोने के बाद ही मेरा कार्यक्रम शुरू करती.

उसके बाद मैंने रीना की चूत में अपनी जीभ पूरी तरह से नुकीली करके अंदर डाल दी और उसकी सिसकारी निकल गई. समय बीतता गया और मैं पढ़ाई के लिए काफी समय से मामा के घर से दूर रहा. सुधा ने बताते हुए कहा- मैंने भी मामी से जोश में आकर कह दिया कि अगर मामी तैयार है तो छेद से चुदाई का सीन दिखाने की बजाय मैं तो उनके सामने ही अपनी चूत को चुदवाकर दिखा दूंगी.

उसको अपने कमरे में बैठा कर मैं उसके लिए पानी लाया और कंप्यूटर पर ट्रिपल एक्स मूवी चला दी. अब मैंने हिम्मत को एकजुट किया और अपने दिल से कहा कि मौका है और दस्तूर भी. उसने फिर मुझसे कहा- आप लगता है नई आयी हो यहां?मैंने कहा- हां अभी कुछ ही दिन हुए यहां आए.

मैंने फिर से मैडम को चूमना शुरू कर दिया और उसके रसीले होंठ को काट लिया.

कुमारी लड़की के सेक्सी वीडियो बीएफ: वो अपना फोन हाथ में लेकर टाइम देखने के लिए दीवार से लग कर खड़ी हो गई. इस उम्र में मज़े नहीं लिए तो कब लोगी? ठीक कह रहा हूँ ना?” उसने बोलते-बोलते दूसरा हाथ मेरी स्कर्ट के नीचे से ले जाकर मेरे घुटनों से थोड़ा ऊपर मेरी जाँघ को कसकर पकड़ लिया.

वैसे तो सेक्स के बारे में मुझे थोड़ा बहुत मालूम था, फ्रेंड्स से सेक्स के बारे में बहुत सुना था, पर कभी देखा नहीं था. फिर दीदी खाना बनाने लगी और हम लोग टीवी देखने लगे। मैंने देखा वे सब मुझसे छुपाकर कुछ बात कर रहे थे. नहाने के बाद कॉल की, तो पता चला कि घर में कुछ जरूरी काम आ गया था, जिसके कारण मुझे तुरन्त घर वापसी जाना था.

आप प्लीज़ मेरी इस पहली स्टोरी को अपना समर्थन दें और अपने कमेंट मुझे ईमेल से जरूर भेजें.

चाची बाथरूम में नहा रही थीं और ज़ोर ज़ोर से गाना गा रही थी ‘कुण्डी मत खटकाओ राजा … सीधा अन्दर आओ राजा … धीरे धीरे राजा …’बाहर बैठ कर मैं भी मज़े से गाना सुन रहा था कि अचानक चाची ने मुझे आवाज़ लगाई- सुन … वो मैं अपनी टॉवेल और कपड़े तो बाहर ही भूल गयी हूँ, ज़रा दे दे. अब ले … और चोद ले अपनी मर्जी से!” कहते हुए प्रशांत के हाथ कभी न आने की धमकी देने लगी. मेरे रूममेट को भी शायद मुझसे ये ही जलन थी कि मेरे पास दोनों एक से बढ़कर एक माल हैं और उसके पास एक ही है, वो भी डेली अलग अलग लंड लेती है.