सेक्सी वीडियो में दिखाइए बीएफ

छवि स्रोत,इंडियन चुदाई दिखाइए

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सेक्सी प्लीज: सेक्सी वीडियो में दिखाइए बीएफ, तुम्म यहां क्या कर रही हो!ममता- नींद नहीं आ रही थी तो सोचा तुम अभी जाग रहे होगे, तो तुमसे थोड़ी देर बात कर लूं.

ब्लू ब्लू दिखाएं

मैं धीरे धीरे भाभी के पास आ गया और उन्हें बिस्तर से उठा कर खड़ा करके अपने सीने से लगा लिया और उनके होंठों पर अपने होंठ मिला कर चूमने चूसने लगा. हिंदी बीएफ सेक्सी कहानीक्या बताऊं दोस्तों वो ब्रा और पैंटी की पिक धीरे धीरे कब ट्रांपेरेन्ट ब्रा और पैंटी में बदल गयी और न जाने कब दीदी के पिक एकदम न्यूड पिक में बदल गए, पता ही नहीं चला.

कॉलेज सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि एजुकेशन ट्रिप में हम एक इंस्टिट्यूट में गए. सेक्सी भोंगळावो पेटीकोट का नाड़ा खोलने लगीं और मैं अपनी मां का परिपक्व बदन देखे जा रहा था.

भाभी- आरुष मैंने तुम्हें कपड़े पहनने को तो नहीं बोला था!मैं- वो तो वापस निकल जाएंगे भाभी.सेक्सी वीडियो में दिखाइए बीएफ: मैंने मां की दोनों टांगों को थोड़ा और खोल दिया, जिसके कारण उनकी चूत पूरी तरह खुल गई थी.

मैंने पूनम को याद दिलाया- नन्नू बराबर कमरे में है और अभी सोया नहीं है.जब उसको बाकी घर वालों के बारे में पता चला कि बाकी सब भी गए हैं तो वो और खुश हो गयी.

बाप बेटी की चुदाई का वीडियो दिखाओ - सेक्सी वीडियो में दिखाइए बीएफ

इसका नतीजा ये हुआ कि जब मैं सामने से पहुंची और वो लड़की पर्चा इकट्ठे करके मुझे देने लगी, तब तक वो ही आदमी जो मुझे घूर रहा था.सुधीर और चित्रा ने आपस में बात की और आनन फानन में बरखा से मेरी शादी करा दी.

अफ़रोज़- आपा आप तो ऐसे कह रही हैं … जैसे लड़कियां मेरे लिए सलवार नीचे और कमीज़ ऊपर किए तैयार हैं कि आओ पेंट खोलकर मेरी ले लो. सेक्सी वीडियो में दिखाइए बीएफ यह देख कर मुझे गुस्सा आ गया और शीना भी समझ गयी कि मैं गुस्सा हो गया हूं.

हमारे बीच प्रेम की बातें होने लगी थीं मगर अब तक हम दोनों ने एक दूसरे के साथ शारीरिक सम्बन्ध नहीं बनाए थे; हालांकि मैं उससे चुदने के लिए मन बना चुकी थी.

सेक्सी वीडियो में दिखाइए बीएफ?

तभी शहज़ाद भी नहा कर निकल आया और मेरे पीछे आकर मेरी तौलिया के ऊपर से मेरी चुचियों को दबाने लगा. मैंने उनको याद दिलाया कि मैंने उनके कमरे को बाहर से बंद कर रखा है और वो यहां नहीं आ सकता. हम दोनों पति पत्नी सेक्स में खुले विचारों के हैं, खुल कर चुदाई का मजा लेते हैं.

अभिनव के लिए नीम्बू का मीठा वाला अचार भी आप भेज देतीं क्योंकि मम्मी आपको पता ही है कि अभिनव को नाश्ते में परांठे और नीबू का मीठा अचार ही पसंद है. मैंने उन दोनों की तरफ देखा, तो पूजा मेरे पीछे से आकर मुझे चूमने चाटने लगी. जैसे ही मैं बाथरूम के पास पहुंचा तो अंदर से पानी गिरने की आवाज आ रही थी.

उसके बाद दीदी ने रमेश से मादक आवाज में कहा- रमेश … अब तुम अपने एक हाथ को मेरे नीचे को लाओ … ताकि मैं अपने मुनिया को छुपा सकूं. कभी कभी अंकल मुझे अपने पैरों में तेल लगवाने के लिए कह देते थे, तो मैं उनकी टांगों को खोल कर उनकी मालिश कर देती थी. भाभी बहुत गर्म हो चुकी थीं और वो ये जान चुकी थीं कि मैं भी उन्हें तड़पाने के लिए जानबूझ कर ऐसा कर रहा हूँ.

मैंने उठने की कोशिश की, पर दूसरे हाथ ने मेरा सर दबाकर मुझे वापस लेटा दिया और अपना मुँह मेरे कान के पास लाकर कहा- ऐसे ही लेटे रहो. मेरे डिस्चार्ज का समय हो रहा था, लण्ड का सुपारा फूलकर मोटा हो गया था तभी मेरे लण्ड से पिचकारी छूटी और जया की बुर लबालब भर गई.

टॉप और जीन्स के बीच जो फासला था उसमें से बहू की गुलाबी चिकनी कमर की झलक, उनके चलने से जांघों के जोड़ पर बनते त्रिभुज से उनकी कचौरी जैसी फूली चूत का सहज ही आभास होता था.

पापा अक्सर रात में मम्मी की नंगी करके चुदाई करते थे, बाद में उनकी गांड चुदाई भी करते थे.

मेरी दीदी के दूध इतने बड़े बड़े थे कि उनमें यदि दूध निकलता, तो तीन-चार बच्चे भी पूरा दूध नहीं पी सकते थे. वो किसी नई नवेली दुल्हन की तरह सजी हुई थी और उसके जिस्म से खुशबू आ रही थी. आज मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे पहली बार ही किसी मर्द से चुदाई करा रही थी.

दीदी कपड़े लेने को गईं तो रमेश ने उनको पकड़ लिया और बोला- क्या मेरी रंडी … ऐसा क्यों कर रही हो तुम … यार फोटो लेने दो ना. मैं अब उसकी बुर में जाना चाहता था इसलिए मैं सीधा हुआ और उसके चूतड़ उचकाकर दो पिल्लो रख दिये. थोड़ी देर बाद उस लड़के ने अपना हाथ उस लड़की की कमर पर डाला और जोर से अपनी ओर खींच लिया.

इस तरह से हम दोनों की खुशनुमा माहौल में बातें हुईं और दो दिन बाद मिलने का तय हो गया.

आप पिछले भागबर्थडे बॉय से चुदकर मैं प्यासी रह गयीमें मुझे डिलीवरी बॉय से चुदाई की कहानी में चुदासा छोड़ आए थे. रात में करीब एक बजे मेरी नींद खुली, तो मैंने देखा मां का पेटीकोट ऊपर को उठा था. उफ्फ पापाजी … ऐसे मत करिए नहीं तो मैं बिना चुदे ही झड़ जाऊंगी; मुझे तो आपके लंड से चुदते हुए झड़ना ही अच्छा लगता है.

दोपहर में जब हम दोनों साथ में खाना खा रहे थे तो उन्होंने बोला- आज घर नहीं जाना … एक मरीज की फ़ाइल देखनी है. मैं बोली- ओह मुकेश … घुसा दो अंदर … मेरी कली को फूल बना दो … डाल दो अपना लंड चूत में … फाड़ दो मेरी चूत को … आह।वो लंड को चूत पर रगड़ रहे थे और मेरे चूचे मसल रहे थे. मुझे उसकी बात सुनकर मायूसी सी हुई कि लंड खड़ा नहीं होता तो क्या गांड मराने के लिए फोन किया.

मैं उस समय बहुत जल्दी भाभी की चूत को चाट रहा था और चूत में अन्दर बाहर उंगली भी कर रहा था.

और अपने पांव ऊपर उठा कर मेरे लंड के सुपारे को अपनी झंटियल चूत के खांचे में चार पांच बार ऊपर से नीचे रगड़ कर लंड को अपनी चूत के प्रवेश द्वार पर दबा दिया और हल्के से अपनी कमर को उचकाया. मैंने उन दोनों की तरफ देखा, तो पूजा मेरे पीछे से आकर मुझे चूमने चाटने लगी.

सेक्सी वीडियो में दिखाइए बीएफ मैं बोला- भाभी सच बताऊं, तो मैं अभी तक वर्जिन हूं और मुझे …इतना कहकर मैं चुप हो गया. कुछ देर बाद मैंने धक्के लगाना चालू किए, तो अब उसकी चीखें सिसकारियों में बदल उठीं और कमरे में गूंजने लगी थीं.

सेक्सी वीडियो में दिखाइए बीएफ अपने लंड पर लगाया और तुरंत उसे चोदने लगा।वो अपनी आवाज दबाते हुए बोली- थोड़ा तो रुक जाते।मैं उसे बिना रुके चोदने लगा और वो मेरी पीठ पर मुक्के मारने लगी. मेरी और मिहिका की ये देसी माल सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी, आप मेल जरूर करना.

थोड़ी देर में मेरा पूरा लंड उसकी चूत में चला गया कुछ रह गया था तो बाहर लटकते दो आंड!जब मेरा लंड उसकी चूत में पूरा चला गया तो मैंने उसकी दोनों टांगें हवा में उठा ली और उसे जोर से चोदने लगा।उसके हाथों में पड़ी चूड़ियां खन खन और उसके पैरों में पड़ी पायल छम छम कर रही।चुदाई का ऐसा मधुर संगीत चल रहा था जैसे किसी बहुत बड़े संगीतकार ने चुदाई राग छेड़ दिया हो।कुछ देर में नीतू को भी मजा आने लगा था.

बीएफ सेक्सी बीएफ हिंदी सेक्सी

अभी सेक्स कहानी लिखनी शुरू ही की है पर मेरे मुन्ना भाई को बुआ की गांड याद आ गई और फुंफकारते हुए तन्नाने लगे हैं. शन्नो के साथ मेरी पिछली चुदाई की कहानीदोस्त की अम्मी की मस्त चुदाईमें आपने पढ़ा था कि मैं अब शन्नो को पूरी रात अपने कमरे में सुला कर चोदना चाहता था. उन्होंने एक हाथ से मेरा लंड पकड़ा और उसे अपनी चुत के मुँह पर रखकर उस पर बैठ गईं.

अब मैंने अच्छे से हाथ देकर उसकी चूत पर हाथ रख दिया और हथेली से सहलाने लगा. अंकल सेक्स कहानी हिंदी में पढ़ें कि मैं एक ऑफिस की सफाई करने जाती थी तो वहां एक अंकल मेरी चूचियों को घूरते थे. वो नहाने चली गयी और उसको भी मालूम चल गया था कि उसकी मां भी उसके प्रेमी के लंड से चुद रही है लेकिन शायद वो भी मेरी मजबूरी समझ कर चुप रही.

गांड के छेद में जीभ रखते ही हुर्रेम मस्ताने लगी और अपनी गांड को मेरे मुँह में लगा कर हिलाने लगी.

उसकी आंखों में नशा देख कर मुझे यकीन हो गया कि शमा पक्के में लंड की प्यासी है. मैंने कहा- साली ले मेरा लौड़ा … तुझे बहुत चुदवाना था … आज चोदता हूं. मैंने घर पर सभी को बोल दिया कि मेरे आज एक दोस्त का बर्थडे है, तो मुझे वहां जाना है.

फार्महाउस के अन्दर एक हॉल में उसने सुम्मी के बर्थडे सेलिब्रेशन की सारी तैयारी कर रखी थी. ये कह कर वो बिस्तर पर लेट गईं और मुझसे बोलीं- अब तू पहले अपना लौड़ा मेरे मुँह में डाल और मेरी चूत को चूस … इस तरह से दोनों को मज़ा मिलेगा. उनकी चूचियों के निप्पल इतने मस्त और मुलायम थे कि मुझे छोड़ने का मन ही नहीं हो रहा था.

मेरी देसी फ्रेश चुत की चुदाई कैसे हुई, वही आप इस कहानी में पढ़ने वाले हैं. हम दोनों का संभोग करीब 15 मिनट तक चला और इस तरह हम दोनों एक दूसरे को संतुष्ट करके झड़ गए.

वो लंड पर बैठ गई और बोली- मेरे सरताज, अपनी इस मुल्ली शन्नो को अपने लंड पर बिठा कर जन्नत की सैर करवा देमैं झटके लगाने लगा, वो भी उछल उछल कर लंड पर कूदने लगी और लंड के घोड़े पर सवार होकर सरपट दौड़ने लगी. मेरी पिछली सेक्स कहानीठरकी मामा ने की सेक्सी भांजी की चुदाईव इससे पूर्व प्रकाशित अन्य कहानियाँ आपने पढ़ीं और उनको सराहा, मुझे ढेर सारा प्यार दिया और जाने कितने प्रशंसकों की ईमेल भी मुझे आईं. वो भी लंड गले तक ले गई और उधर ही रोक कर अपने गले की गर्मी से लंड को पिघलाने की कोशिश करने लगी.

मुझे बस स्टैंड लेकर गए और बोले- गोरी, मैं छोड़ ही आता तुझे लेकिन काम था.

अफ़रोज़- अच्छा आपा, अब वायदे के मुताबिक़ मैं लंड चुत से बाहर निकाल लेता हूँ. मोहल्ले के लड़के जो हरामी किस्म के हैं, अक्सर जब मैं उनके पास से गुजरती हूं, तो वो गंदे और अश्लील कमेंट्स पास करते हैं. मैंने उसकी चूचियों को पकड़ लिया और मसलते हुए लंड चुत में अन्दर बाहर करने लगा.

इसके बाद ये सब चले गए लेकिन मेरी गांड और चूत में एकदम दर्द और जलन हो रही थी. तभी लोलिशा भी आ गई।देव के आने के बाद हमने खाना खाया।वह बहुत थक गया था जाम की वजह से।फिर वो सो गया।उसके बाद उस रात मैंने लोलिशा को तीन बार और चोदा।मैं सुबह पाँच बजे जाकर बाहर वाले कमरे में सो गया।फिर देव ने मुझे सुबह आठ बजे जगाया.

यह सुन कर शीना मेरे पास आई और मेरे होंठों को चूम कर बोली- ओह सॉरी अंकल, मैं तो भूल ही गयी कि आप का भी पानी निकलना है. अपनी बेटी के प्रेमी के लंड से चुदने के बाद मैंने अपने कपड़े पहने और चलने को तैयार हो गई. दो दिन बाद मेरी होने वाली बीवी ने मुझसे कहा- मेरे घर वालों को तुम्हारे आने पर किसी तरह की कोई आपत्ति नहीं है.

बीएफ+हिंदी+न्यूज़+चैनल

मुझे कुछ ठीक नहीं लगा तो मैंने कहा कि आप अकेली रहती हैं, आपको कोई परेशानी तो नहीं होगी?उसने कहा- नहीं मुझे कोई परेशानी नहीं है.

यह नजारा हमारी जिंदगी का बेहतरीन पल था, जिसे हम दोनों कभी नहीं भुला पाए थे. मेरे जीजू या वो डॉक्टर … या मेरे पति के वो दोनों दोस्त या गौतम या वो डिलीवरी बॉय. सितमगढ़ के शाही तालाब के अन्दर बने एक टापू पर छोटा सा महल है, जो एकांत के लिए ही बनाया गया था.

आप मुझे इतना जबरदस्त चोदो कि महीनों के इंतजार की पूरी कीमत वसूल हो जाए. मुझे सिर्फ अपने सुख की पड़ी थी और तुम्हारे दर्द को भूल गया।नीतू ने आगे बढ़कर मेरे होंठ पर अपने होंठ रख कर मुझे चुप करवा दिया. सेक्स वीडियो ट्रिपल एक्सकुछ देर रुकने के बाद मामी हम लोगों से मिलकर जब जाने लगीं, तो मेरी मम्मी ने उन्हें रोका.

उस पूरी रात में भाभी की चार बार चुत चुदाई हुई और नंगे ही लिपट कर सो गए. कल जब आप रोहित जी के साथ केस समझ रही थीं, मतलब उनका लंड मुँह में लेकर चूस रही थीं, तो मैं गेट पर ही था … अब आप देख लो.

कभी मैं उसकी चूचियों को छेड़ रहा था तो कभी वो मेरी पैंट में मेरे लंड को टटोल कर पकड़ लेती थी. ये मॉम बेटा सेक्स सीन देख कर मेरा और मम्मी का दिमाग भी खराब हो चुका था. आंटी ने मुझे चोर निगाह से देखा और बोलीं- लोअर पहन कर नींद नहीं आ रही होगी, इसे उतार दे.

मैंने उसको उस रात 12 बजे तक पढ़ाया, इसके बाद मैं अपने घर आकर सो गया. दीदी ने मस्ती भरी आवाज में कहा- क्यों मैं मूर्ख कैसे हूँ?रमेश- इतने मस्त मम्मों को छुपाकर क्यों रखती हो. मैं चुदाई कि मस्ती में सिसयाने लगी- आहह इस्स आह आह ओह ओह प्लीज आहह ओह धीरे धीरे.

दो तीन बाद चित्रा के घर गया तो पता चला कि बरखा का एक्सीडेंट हो गया था और दाहिना पैर टूट गया था जिस पर तीन महीने का प्लास्टर चढ़ा है, डॉक्टर ने कहा है कि फिजियोथेरेपी कराते रहिये.

वो अपनी मदमस्त वाली चुदाई करवाने लगी और अपनी गांड उठा उठा कर लंड चुत में लेने लगी. वो उस पल कहना तो बहुत कुछ चाहती थीं पर शायद उनको अभी अपनी सांसें काबू में करनी थी.

वो सिसकारते हुए बोले- हए … रंडी … तेरी अदा पागल कर देगी।मैं सामने से सुन्दर के आंड चूस रही थी कि सुरजन ने चूत तेज़ी से चोदनी शुरू कर दी. इस लंबी चली चुदाई में हम तीनों इतना थक गये थे कि हमारे अंदर अब उठने की भी शक्ति भी नहीं बची थी. अगली बार जब पापा के साथ आंटी की चुत गांड चुदाई होगी, तो मैं आपको पूरी सेक्स कहानी का मजा दूंगा.

लेकिन वो झड़ते टाइम इतनी जोर से चिल्लाई थीं कि आस पास के फ्लैटों में भी उनकी आवाज पहुंच गयी होगी- आह यस्स … आई एम कमिंग … ओह्ह ओह्ह आह उऊऊ हम्म्म्म!करीब पांच मिनट तक भाभीजी रुक रुक कर झड़ती रहीं. उस गाड़ी की लाइट में मामी की मोटी मुलायम और दूध जैसी सफेद गांड मुझे साफ दिखाई दे गयी. अभय ने फिर से उसका हाथ पकड़ कर रख दिया, पर इस बार पर इस बार ममता ने हाथ नहीं हटाया और धीरे धीरे उसका लंड सहलाने और भींचने लगी.

सेक्सी वीडियो में दिखाइए बीएफ वो तो ये सोच सोच कर मस्त हो रहा था कि आज की रात उसे दो चूतों को चोदने का मौका मिलने वाला है. मैं एक एक घटना को पूरे विस्तार से लिखूंगा, आप गन्दी भाभी की सेक्स कहानी का मजा लेते रहिए.

हिंदी बीएफ पिक्चर दाई

भाभी भी सिसकारियां और तेज हो गईं- ओह्ह ओह्ह यस्स ओह्ह!वे जोर जोर से चिल्लाने लगी थीं कि पूरे घर में उनकी आवाज गूंज रही थी. कुछ देर बाद मैंने उसे बेड पर सीधा लिटाया और अपना लंड उसकी चुत के मुँह पर रख दिया. उस दिन शाम को मैं एकदम मस्त तैयार हो गई और उन भाभी के साथ उस क्लब में चली गई.

वो मेरे सर पर हाथ रख कर कह रहा था- आह आह शालू … यू आर अमेजिंग डार्लिंग … आह सक माय टूल!मैंने हाथ में उसका लंड पकड़ा और उसे ऊपर करके उसकी गांड के छेद को चाटने लगी. भाभी की गीली हो रही चुत को देखकर लंड महाराज भी अपनी अकड़ में आ गए थे. सविता भाभी के वीडियो सेक्सीमैंने पूछा- ये हॉट हॉट आम खुद बनाए हैं या किसी से बनवाए हैं!वो हंस दी और बोली- तुम आम खाने से मतलब रखो यार … पेड़ गिनने से क्या हासिल होगा.

इसके बाद मैंने जया को लिटा दिया और उसके चूतड़ों के नीचे तकिया रखकर उसकी बुर का मुँह आसमान की तरफ कर दिया.

पापा मम्मी के दूध चूसते रहते थे या उनके होंठों पर किस करते रहते थे. फिर ममता ने नेहा की चूत के अन्दर अपनी जीभ घुसा दी और अन्दर बाहर करने लगी.

नवीन ने अपना लंड उसके मुँह से निकाला और दूसरी के सामने जाकर बोलने लगा- प्लीज़, तुम भी एक बार मेरा लंड चूस दोगी. इससे मुझे चाची के गहरे गले के ब्लाउज में से उनके मम्मों की दूधिया घाटी देखने का मौक़ा मिल जाता था. उसका नाम गुलाब चंद था। घर में बात होती थी कि कश्मीरी है, बहुत ज़बरदस्त कारीगर है.

शीना अब पूरी मस्ती से अपनी बुर चटवा रही थी और मैं भी पूरी शिदत्त से उसकी बुर के हर कोने को चाट रहा था.

मैं भी झटके लगाकर पूरा लंड मिहिका के मुँह में डालने लगा और तभी लंड ने पिचकारी मारनी शुरू कर दी. उसने पूरे जीभ मेरी चूत में डाली और अपने दोनों मेरी चूत के होंठों से लगा लिए. मैं- चाची अगर आप चाहो तो आप मुझे उससे अच्छा मजा दे सकती हो!चाची कुछ नहीं बोलीं, चुप रहीं.

इंडियन सेक्स विडिओ हँडमैं चुपके से एक उत्तेजना बढ़ने वाली गोली ले आई और शाम को रुबिका को जूस में मिला कर दे दी. थोड़ी देर में मेरा पूरा लंड उसकी चूत में चला गया कुछ रह गया था तो बाहर लटकते दो आंड!जब मेरा लंड उसकी चूत में पूरा चला गया तो मैंने उसकी दोनों टांगें हवा में उठा ली और उसे जोर से चोदने लगा।उसके हाथों में पड़ी चूड़ियां खन खन और उसके पैरों में पड़ी पायल छम छम कर रही।चुदाई का ऐसा मधुर संगीत चल रहा था जैसे किसी बहुत बड़े संगीतकार ने चुदाई राग छेड़ दिया हो।कुछ देर में नीतू को भी मजा आने लगा था.

हिंदी बीएफ सेक्सी हिंदी बीएफ बीएफ

वो बोली- बस … विशाल … अब मुझे अपना बना लो … मेरे अंदर डाल कर मुझे पूरी कर दो. अभिनव के लिए नीम्बू का मीठा वाला अचार भी आप भेज देतीं क्योंकि मम्मी आपको पता ही है कि अभिनव को नाश्ते में परांठे और नीबू का मीठा अचार ही पसंद है. चूचियों के निप्पल के चारों तरफ के घेरे में जीभ चलाते हुए जब दूसरे हाथ से मामी जी की चूची को पकड़ कर दबाते हुए मैंने निप्पल को चुटकी में पकड़ कर खींचा तो मस्ती में मामी जी की सिसकारी निकल गयी- आह राहुल … उफ्फ और ज़ोर से मसलो … मेरे चूचियों को ओह्ह्ह उंह अहह अह्ह्ह्ह राहुल मेरे सैंया!मामी जी अपनी कमर को हिलाते हिलाते सिसकारी भर रही थीं … और अपने दोनों हाथों को मेरी कमर पर दबा रही थीं.

फिर भाभी ने मेरे अंडरवियर से मेरा लन्ड निकाला और लंड को मुंह में लेकर जोर जोर से चूसने लगी. कुछ देर बाद कृति के सामान्य होते ही मैंने फिर से लंड चूत में पेल दिया. मैंने कहा- वो क्या?उसने मेरे हाथ को अपने सीने में रख दिया और बोली- राज, तुम मुझे खुश कर दो!मैंने कहा- ये गलत है.

मैंने भी अपनी बनियान चड्डी हटा दी और बिल्कुल नंगा पलंग पर पापा मम्मी के पास लेट गया. उनकी बेटी काफी खूबसूरत हो गयी थी पर अब भी वो मौसी से ज्यादा खूबसूरत नहीं हो सकी थी. बुआ भी तैयार थीं और उन्होंने जवाब में अपनी जीभ मेरे मुँह में देकर एक लम्बी चुम्मी को अंजाम दे दिया.

इसके बाद मैंने बहार को लिटा दिया और उसके चूतड़ों के नीचे तकिया रख दिया. ये सुनकर मीरा खुश हो गयी क्योंकि वो अभी रीमा को रात भर रोकने की तरकीब सोच ही रही थी.

आप मेल करके बताएं कि मेरी ओर सोनिया भाभी की सेक्स कहानी आपको कैसी लगी.

मैंने उसी समय आपने फोन से उनका नम्बर डायल करके उन्हें अपना नम्बर दे दिया. देसी पोर्न वेदिओरमेश ने चार पांच फोटो ले लीं, उसने फोटो खींचने के बाद कहा- अब घूम जाओ. इंग्लिश में बीएफ चोदा चोदीदो दिन बाद हम दोनों मेरे एक दोस्त के कमरे पर आ गए जो फिलहाल खाली पड़ा था. बहुत लड़ाई झगड़ा हुआ दोनों परिवारों में और आखिरकार चुपके से मैंने उससे शादी कर ली.

पापा मम्मी के दूध चूसते रहते थे या उनके होंठों पर किस करते रहते थे.

मन में मैंने सोचा कि आज इसकी मां चोदता हूँ … साली की गर्मी निकालता हूँ. पूनम बुआ- मेरा बस चलता कहां है? और वैसे भी, मैं इस आदमी से परेशान हो चुकी हूँ. वो जल्दी गहरी नींद में सो गई।गुलाब नीचे ही आ चुका था, सब देख रहा था, मुझे इशारा कर रहा था कि दूसरे कमरे में आ जा।सास की हालत उठने लायक नहीं थी.

उसने टाइट जीन्स और ढीला सा टॉप पहन रखा था जिसमे से उनके मम्मों का जानलेवा उभार साफ साफ चुनौती देता सा खड़ा था. वो मादक नजरों से मेरी तरफ देखने लगीं और बोलीं- तो फिर चूम लो … रोका किसने है. आज मैं इस प्यासी गरम औरत की सेक्स कहानी में आपको उन भाभी के बारे में आपको बता रहा हूँ कि कैसे मैंने पुलिस वाले की वाइफ के साथ सेक्स किया.

और बेटे का सेक्सी बीएफ

कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे पड़ोस वाले घर में किराए पर कॉलेज की लड़कियां रहती थी. रात में जब मैरे पास आईं, तो मैंने पूछा- क्या हुआ है मां? आप मुझे कुछ दिनों से परेशान लग रही हो. इससे दीदी का पजामा नीचे गिर गया और उनकी रेड कलर की पैंटी सामने आ गई.

और जैसे ही मैंने टी-शर्ट के अन्दर हाथ डाला, वैसे ही तुरंत उसने मुझे आंखों से ही इशारा करते हुए टी-शर्ट निकालने की अनुमति दे दी.

अफ़रोज़- आपा आप तो ऐसे कह रही हैं … जैसे लड़कियां मेरे लिए सलवार नीचे और कमीज़ ऊपर किए तैयार हैं कि आओ पेंट खोलकर मेरी ले लो.

मैंने शन्नो को बोला, तो वो हंसते हुए बोली- राज तुम बेकार की बातें सोचकर क्यों परेशान हो रहे हो. उसने मुझे बेड के कोने पर बैठा लिया और मेरी आंखों में देखते हुए मेरे कपड़ों को मेरे बदन से अलग करने लगा. देशी विडिओ सेक्सीनगमा तो पहले से एक नम्बर की रंडी थी, पर मुझे अब तक ये मालूम था कि हिना वैसी नहीं थी.

अब आगे फ्री मॉम सेक्स कहानी:मैंने अपनी गर्म हो चुकी मां का हाथ अपने लंड पर रख दिया. वो चुत को चाटने का कहने लगीं, उनके कहे अनुसार मैं उनकी चुत को चाटने लगा. चूंकि मेरा बुरा हाल हो रहा था और अब मुझसे रुका नहीं जा रहा था तो मैं उनके सामने आ गया और उनको जोर से हड़काते हुए बोला- ये सब क्या हो रहा है … यही सब करने कॉलेज आते हो.

मम्मी पापा मेरे सामने सेक्स करते थे तो मैंने अपनी वासना आंटी से बुझायी. कभी अपने हाथ से मेरे लंड की मुठ मारती तो कभी अचानक से फिर मेरे लंड को अपने मुंह में ले के चूसने लग जाती.

मैंने मन में सोचा कि साली मेरा मूसल तो लेकर देख, फिर तुझे और भी मूसलों का स्वाद चखा दूंगा.

आह मम्मी … लग रही है … बस भी करो … कितने निर्दयी हो तुम; मुझे पता होता कि तुम मेरा ये हाल करोगे तो मैं कभी नहीं आती यहां; मुझ पर दया नहीं आती तुमको … कहते थे मुझसे बहुत प्यार करते हो और मुझे कभी कष्ट नहीं दोगे. फिर एक लड़के ने मुझे गद्दे पर धकेल दिया और मेरे कंधों को दबा कर मुझे गद्दे पर लिटा दिया. फ़लक उठ कर चली गई और मेरे दिल में उठ रहे तूफान को अपनी मुस्कुराहट देकर और बढ़ा गई.

फिल्म एक्स एक्स एक्स वीडियो वीरू बोला- साली रंडी, यहां जंगल क्यों उगा रखा है … झांटें क्यों नहीं बनाती … तुझे मालूम है कि मुझे झांटें पसंद नहीं हैं … फ़िर भी!चाची बोलीं- साले भड़वे, चिल्लाता क्यों है … कल बना लूंगी … आज तो तू मेरी प्यास बुझा मां के लौड़े. मैं- बस हो गया प्रभा … माफ करना यार … मेरी वजह से तुमको इतना दर्द सहना पड़ रहा है.

उन्होंने सिसकते हुए मेरे चेहरे को दोनों हाथों में लेकर अपने होंठों को मेरे होंठों से लगा दिया और जोर से चूसने लगीं. दीदी- ठीक है … अब मेरी अधनंगी हालत की फोटो तो खींच ही ली … पूरी नंगी की भी खींच ले … मेरा क्या घिस जाएगा. शीना अब पूरी मस्ती से अपनी बुर चटवा रही थी और मैं भी पूरी शिदत्त से उसकी बुर के हर कोने को चाट रहा था.

भोजपुरी चुदाई का बीएफ

Xxx फॅमिली कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी प्यासी मामी को 4-5 दिन से चोद रहा था. सबने भोजन पूर्ण किया और शयनकक्ष की ओर चल पड़े, हमारा चुदाई का सिलसिला पुनः चलने लगा. फिर मैं शीना की दोनों टांगों के बीच आ गया और पहले मैंने उसकी बुर को बाहर से चाटना शुरू किया.

मैं एक अच्छे गुलाम की तरह ये सब करने लगा, उसके पैर के अंगूठे से लेकर उसकी गर्दन तक आइसक्रीम को लगा दिया. यह कह कर उन्होंने मुझे पहली बार अपने साथ बिठा कर दारू पीना सिखाया था.

इस बार वो बहुत जोर से चिल्लाने को हुई लेकिन मैंने उसे नहीं छोड़ा और गुस्से में आकर दो मिनट तक बहुत जोर जोर से चोदने लगा.

हॉट गर्ल पेनफुल सेक्स स्टोरी के पिछले भागमोटे लंड से चुदाई में हुआ दर्दमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपने दोस्त की बड़ी बहन उर्वशी की चुत चुदाई कर चुका था और हम दोनों चिपक कर निढाल पड़े थे. चूमते चाटते वो नीचे बढ़ीं और मेरी नाभि में अपनी जीभ गोल गोल घुमाने लगीं. भाई बहन की सेक्सी स्टोरी के पहले भागबहन ने छोटे भाई की मुठ मार कर मजा दियामें अब तक आपने पढ़ा था कि अब अफ़रोज़ ने मुझसे रात की बात की और उसने बताया कि उसे मेरे हाथ से अपने लंड की मुठ मरवाने में बहुत मजा आया था.

तो अभय को आज ही पता चला कि उसकी मां की चूचियों का साईज 38″ है और बहन का 32″ है. उसके बाद मैंने मां को कुतिया बना दिया और पीछे से उनकी चूत में लंड पेला कर उनको चोदा. मेरी इसी प्रतिभा के कारण पूरी सोसायटी में मैं भभियों के बीच चर्चा का विषय बन गया हूँ.

थोड़ी देर बाद उसने हुर्रेम को खड़ा किया और उसे टेबल पर टिका कर कुतिया की पोजीशन में कर दिया.

सेक्सी वीडियो में दिखाइए बीएफ: ह्म्म्म … क्या मस्त टाइट चूत है मेरी डार्लिंग की …” मैं अब पूरे जोश में चुदाई करते हुए बोला. मैंने अन्तर्वासना पर परिवार के सदस्यों के साथ सेक्स की बहुत सारी कहानियां पढ़ी थीं.

मैंने मोबाइल उसे दिया, तो वो बोली- देख ली ड्रेस!मैं बोली- हां बहुत पसंद आई, पर स्टॉक में नहीं है. अब जब भी मेरे दोस्त के घर कोई नहीं होता तो मैं उसके घर जाकर उसकी ही बहन को चोद कर आता हूं. नीचे मेरी चूत की मस्त चुसाई चल रही थी जिससे मेरी दोनों टागें विपरीत दिशा में फैली हुई हवा में थीं.

ये तीनों मेरे भरोसे के आदमी हैं और पूरी तरह से संतुष्ट करने की ताकत भी रखते हैं.

मम्मी आशा भरी नजरों से चाची की तरफ देख कर बोलीं- वो कैसे?चाची ने कहा कि एक शर्त पर बताऊंगी?मम्मी ने कहा- मुझे तेरी हर शर्त मंजूर है. अब आगे माउथ सेक्स कहानी:जैसे ही मैंने उसके पैरों को हल्के छुआ तो उसने अपने पैरों को पीछे खींच लिया और वो खुद में और सिमट गई।नीतू ने घूँघट ले रखा था और मैं उसका चेहरा देखने के लिए मरा जा रहा था. मैंने एक पल दीदी के थन देखे और अपने होंठ उनके एक निप्पल से लगा दिए.