मुंबई की बीएफ पिक्चर

छवि स्रोत,सेक्स सेक्स ब्लू सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

बाप बेटी सेक्स: मुंबई की बीएफ पिक्चर, इस दौरान मुझे पता चला कि दो दिन बाद राकेश का बर्थडे है, तो मैंने मन ही मन प्लान बना लिया था.

सेक्सी फिल्म वीडियो में अंग्रेजों की

आज मोहिनी को सच में अपने मम्मों से खेलते हुए अर्णव जैसे मर्द से काफी मजा मिल रहा था. देसी गांव की लड़कियों की सेक्सीरेशमा हम तीनों को देख कर किरण को बड़ी गन्दी गन्दी गालियां दे रही थी और अपना एक हाथ किरण की चूत पर ले जाकर उसको रगड़ रही थी.

मैंने अपनी छाती के, आगे लंड के और गांड के छेद को बाल रहित करके चमका दिया था. देहाती सेक्सी हिंदी भोजपुरीतो जब सिमी की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई तो मैंने फटाफट उसे एक्सेप्ट कर लिया.

रीना का सारा पेशाब पीने के बाद उसके पति ने रीना की चूत मुँह में ले ली और उसके बचे हुए मूत को भी चाटने लगा.मुंबई की बीएफ पिक्चर: उसने कहा- मेरी ये पैंटी तुम्हारे घर में क्या कर रही थी?मैंने कहा- मुझे क्या पता बुआ जी?उसने कहा- ज्यादा बनो मत, तुम मुझे चोदना चाहते हो?मैंने उससे कहा- ऐसा नहीं है.

अब भैया दे दनादन मेरी गांड चोद रहे थे और पूरे कमरे में फट फट की आवाज़ गूंज रही थी.मैंने उसको पलट दिया और उसकी गर्दन, कंधे, पीठ, कमर और गांड को चूसता और चाटता रहा.

चलने वाली ब्लू पिक्चर - मुंबई की बीएफ पिक्चर

मैं भी जोश में आकर अपनी कमर ऊपर उठाते हुए नीचे से रेशमा की चूत चोदने लगा.मुझे तुम्हारा लौड़ा अपने मुँह में चाहिए रोहित!इस तरह मैं बहुत ज्यादा अंडबंड बड़बड़ा रही थी और मजे ले लेकर उंगलियां और खीरा ले रही थी.

मैंने ज्यों ही देखा तो ये तो वही लड़का था, जिसके लिए मैंने दीदी को बोला था. मुंबई की बीएफ पिक्चर वो लंड से उतर कर सीधा मेरे लंड पर आई, उसने लंड को मुँह में ले लिया.

इस वक्त जो अम्मी मेरे साथ रह रही है, वो मेरी नहीं … पर मेरी दो छोटी बहनों की अम्मी है.

मुंबई की बीएफ पिक्चर?

तभी पापा ने मम्मी की गांड के ऊपर से चादर हटाई और उनका पेटीकोट पूरा कमर तक उठा दिया. वो बोलीं- क्या कर रहा है?मैंने कहा- गर्लफ्रेंड किधर से हॉट है, उसे ये बता रहा हूँ. फिलहाल मेरा भाई मेरे दूध अपने मुँह में पूरा भर कर चूस रहा था और ज़ोर से मसल रहा था.

अभी तीन घंटा पहले ही चुदाई की हुई थी और कल की तीन चुदाई के कारण दोनों का स्खलन नहीं हो रहा था. मैं दो दिन श्वेता के पास रहूंगी और सोमवार को चंडीगढ़ कोर्ट का काम खत्म करके शाम तक घर आ जाऊंगी. तभी मेरे दिमाग में एक कीड़ा कुलबुलाने लगा कि मेरे बड़े भाई अंकित का मेरी बड़ी दीदी के साथ कुछ चक्कर तो नहीं है.

मेरी मेल आईडी नीचे लिखी है, आप अपने मेल लिखकर बता सकते है कि आपको पड़ोस की भाभी का सेक्स भरा प्यार कैसा लगा?[emailprotected]. खैर … थोड़ी बहुत मशक्कत के बाद उसने जोर से धक्का लगा कर गेट खोला और ट्यूबवेल चला दिया. किस के दौरान मेरे हाथ कभी सोनी की पीठ सहलाते तो कभी उसके नितंबों को.

और आज जो लच्छो मेरे सामने खड़ी हुई थी, वो गाँव की लड़की पूरी तरह से जवान और गदराई हुई एकदम चुदासी माल थी. जब रात को हम जाने लगे तो उसने मेरे चेहरे को अपने दोनों हाथों से पकड़ा और मेरे होंठों पर अपने होंठ रख कर उन्हें चूम लिया.

उसके बाद हम दोनों एक दूसरे को प्यार करने लगे और वासना के उसी ज्वार में मैंने सोनी की सलवार और पैंटी को उसके घुटनों तक सरका दिया.

रात में कमरे में आने के बाद उत्सुकता के कारण मैंने रागिनी से पूछा- वसुंधरा भाभी मेरी तरफ बार-बार देखकर मुस्कुरा क्यों रही थीं.

अब हमने सेक्स के लिए लगभग सारे आसन कर लिए थे और अपनी सेक्स लाइफ को और अच्छा करने के लिए नए-नए आईडिया सोचने लगे थे. चूचे 32 साइज के, कमर 28 से भी कम और 34 से थोड़ा ऊपर उसकी खतरनाक उठी हुई गांड. शाम के साढ़े सात बजे ट्रैफिक से रास्ता निकालते हुए हम स्टेशन पर पहुंचे.

और पॉल ने भी अपनी जीभ बाहर निकालते हुए ख़ुद के लंड का वीर्य चाटना चालू कर दिया. उस समय मेरे चूचे नींबू के साइज़ के थे लेकिन आज तो मेरे मम्मे अच्छे ख़ासे बड़े हो गए हैं. रिक्की कुछ ढूंढता हुआ उसके बेडरूम में आया तो उसने देखा उसकी मॉम नहाने गयी है.

मैंने जैसे ही भैया के लंड को थामा, उनके लंड की फूली हुई नसें मुझे गड़ने लगीं.

अंकित बोला- अच्छा जी, मजा आया!मैंने उससे झैंपते हुए पूछा- भाई तुम तो ये सब बिल्कुल प्रोफेशनल की तरह कर रहे थे. उसका संगमरमर सा शरीर, उस पर दो 36 इंच के दो बड़े ही सुडौल गोल गुम्बद से तने हुए मस्त स्तन. उधर से एक महंगी परफ़्यूम की शीशी और कुछ चॉकलेट लेकर मैंने अपनी गाड़ी में रखे ताकि कल रेशमा को अच्छे से खुश कर सकूं.

मैं उनकी गोद से उठी, तो सर ने अपना मुँह बढ़ा कर मेरी एक चूची को अपने मुँह में भर लिया. तकरीबन 11 बजे अंकित मुझसे बोला- सोना नहीं है क्या … सो जाओ, मोबाइल सुबह चला लेना. मैं आपको अपनी सेक्स कहानी के पहले भागबीस साल बाद हुई चाहत से मुलाकातमें बता रहा था कि लॉकडाउन में मेरी एक पुरानी चाहत फिर से मेरे लंड के लिए सुलभ हो गई थी और मैंने उसकी चूत में लंड पेल दिया था.

मैंने बड़े ही प्यार से दोनों के चुचों होंठों और जिस्म को मस्ती से चूसा और चूमा.

अपनी ढीली ढाली साड़ी में ऑन्टी अपने चिरपरिचित अंदाज़ में घर के अंदर दाखिल हुईं।ऑन्टी ने थोड़ी देर अपने पति देव से बात करके फोन रख दिया. अगले ही पल मैंने उसकी टांगें फैलाकर अपने एक हाथ में अपना तना हुआ लंड पकड़कर गीता की चूत की दरार में सैट कर दिया और एक जोर का धक्का मार दिया.

मुंबई की बीएफ पिक्चर लेकिन फिर मैंने एक दो बार सुदिति को जॉन के कमरे से पसीने में लथपथ हुए बाहर निकलते देखा तो मुझे कुछ अजीब सा लगा. मैं अपने मुँह से कुछ और थूक लंड पर छोड़ कर तेज गति से लंड नीता की गांड में डालने लगा था.

मुंबई की बीएफ पिक्चर इसमें भी आगे से काफी गहरा गला था, जिसमें से मेरी चूचियों का आकार साफ नजर आ रहा था. पर चौथे आशिक के कारनामों के कारण मैं अब ज्यादा रिस्क नहीं लेती।मुझे किसी के साथ रात बिताए ढाई साल हो चुके हैं, और अब लोड़ा लेने का मन नहीं करता!मैंने घर में तीन बीयर की खाली बोतल जो रखी हैं, उनसे काम बढ़िया चल रहा है, किसी नौसिखिए आशिक से तो ये बोतल बेहतर है, दिल तो नहीं तोड़ती!अब इजाजत लेती हूँ अगली कहानी तक!BDSM लॉन्ग सेक्स की कहानी आपको कुछ अलग तो जरूर लगी होगी.

इसी का फायदा लेकर नीता ने अपना हाथ जांघों पर से सीधा मेरे लंड पर रख दिया.

অন্য সেক্স ভিডিও

फ्रेंड्स, मैं नव्या आपको अपनी सेक्स कहानी में फिर से मजा देने के लिए हाजिर हूँ. नाश्ते के बाद सर ने मुझे कुछ देर किस किया और अब वो किचन में चले गए. सब मुझसे नज़र बचा कर बड़ी अजीब ही नज़रों से मुझे देख रहे थे … खासतौर पर भैया भाभी.

कुछ वक्त बीतने के बाद पता नहीं मुझ पर फिर से कौन सी भूतनी सवार हो चुकी थी कि मैं उन तीनों के लौड़े अपने तीनों छेदों के अन्दर घुसवा कर भी आराम से चुदवा रही थी. उसने अपनी भी टी-शर्ट और अंडरवियर को पूरा निकाल दिया और सीधा मेरे ऊपर चढ़ गया. मोहिनी भी उसके स्पर्श से मदहोश हुई जा रही थी, वो अर्णव की जीभ अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.

मैंने कहा- तुम हो ही इतनी हॉट, तो कोई लड़का सेक्स की बात तो करेगा ही!वो हंस पड़ी और बोली- अच्छा आपको भी हॉट लगती हूँ?मैंने कहा- हां तू हॉट माल है.

हुआ ये कि जब भी मैं अपनी वाइफ के साथ सेक्स करता था, तो मुझे अंदाजा था कि शालिनी छिप छिप कर कई बार हमारी चुदाई देखने आया करती थी. की हवा से सिकुड़ कर तन गए थे जिसकी वजह से राजेश को और मज़ा आ रहा था।चूचों पर लगा थूक ए. दस मिनट बाद रूचिका आंटी ने पापा की पैंट और अंडरवियर निकाल कर एक तरफ फेंक दी.

अब उसके बाद क्या हुआ, यहाँ इस कहानी में पढ़ कर आनन्द लें!65 साल के बुड्ढे ने मुझे चोद कर खुश कर दिया था. नवाज भाई ने उसे पकड़ कर जबरदस्ती उसे औंधा कर दिया व उसके ऊपर चढ़ बैठे. दीदी की पहली चुदाई हुई तो उस रात हम दोनों में चार बारचुदाई का संग्रामहुआ.

मैंने अन्दर जाते हुए देखा तो उनके फ्लैट की हालत बहुत ही ज्यादा खराब थी. होली के दिन मैंने और लच्छो ने घर का सारा काम जल्दी खत्म कर लिया और दोपहर तक दोनों ही फ्री हो गए.

इसी तरह वे लोग मुझे अलग-अलग पोजीशन बदल बदल कर चोद रहे थे और मैं किसी कुतिया रंडी की तरह उनके लोगों के नीचे अपनी जवानी नुचवा रही थी. गे बॉटम एंड टॉप सेक्स कहानी में पढ़ें कि मुझे गांड मरवाए बहुत समय हो गया था. सोनी भी सीधी बैठ गई थी और वो कभी मेरे लंड को देखती, तो कभी अपनी बुर को.

अन्दर आने के बाद मैंने अपनी हुडी निकाल दी और रोहण से छेड़खानी करने लगी.

लेकिन काजल उठने के बाद ठीक से चल नहीं पा रही थी तो मैंने उसको लेटे रहने को ही बोला. तभी मैंने टॉप ऊपर करके उसकी ब्रा खोल दी और देखा कि उसके चूचुक काफी बड़े थे और एकदम खड़े हुए थे. थोड़ी दूर जाने के बाद नीता ने अपने एक हाथ से मेरी कमर को कस लिया और दूसरा हाथ मेरी जांघों पर रख दिया.

मैंने मुँह हटा कर उनसे पूछा- क्या हुआ?वो बोलीं- कुछ नहीं, तू चूस मेरे निप्पल को … मजा आ रहा है. वो मेरे पास आयी और मेरे गाल पर प्यार से एक चपत लगा कर बोली- चलोगे भी या ऐसे ही घूरते रहोगे?मेरा ध्यान भंग हुआ और मैं थोड़ा शर्मिंदा हो गया.

चूत में भरा हुआ पानी भी मेरा हाथ गीला करने लगा तो मुझे लगा कि किरण अब झड़ने के कगार पर है. मुझे लाइव ब्लूफिल्म का मजा मिल रहा था तो मैं अपने लंड पर हाथ भी फेर रहा था. वो मेरे लंड पर जब ऊपर नीचे होने लगी, तो उसके मम्मे हवा में ऊपर नीचे होने लगे.

ब्लू सुहागरात

इतने में गीता के फोन की घंटी बजने लगी, उस वजह से गीता इधर ही आने लगी.

उस दिन के बाद हफ्ते में दो बार या तीन बार अंजलि के घर मेरा आना जाना शुरू हो गया. करिश्मा ने गुस्सा होते हुए जवाब दिया- तुम आदमी हो या अफ्रीकन … जो अभी तक झड़े नहीं. जबकि मैं जानता था कि रात में मम्मी कैसे लंड से खेल रही थीं मानो जन्मों की प्यासी हों … और लंड न मिले तो जी ही नहीं पाएंगी.

कार चालक भी नीचे उतर आया, वो एक खूबसूरत नौजवान था, अच्छी पर्सनालिटी का मालिक था. कमरे में जाते ही मैंने दरवाजा बंद किया और सीधा बिस्तर पर बैठी पत्नी रागिनी के पास बैठ गया. मुस्लिम सेक्सी आंटीमैंने सरसों का तेल लेकर एक उंगली से उसकी गांड के अन्दर लगाना शुरू किया.

बाकी देखने वाले दोनों को यह लग रहा था कि राकेश मुझे नहीं, मैं राकेश को चोद रही हूं. उस रात हम दोनों ने एक बार और चुदाई की क्योंकि हमें दूसरे दिन वापस नागपुर आना था.

मगर मेरा आप सभी दोस्तों से पुन: निवेदन है कि आप मुझे ‘किसी से मिलवा दो या किसी भाभी की या कपल का नंबर दे दो’ जैसे शब्दों का प्रयोग करते हुए कोई ईमेल न करें. उनका शरीर वासना की आग में जल रहा था, उनकी मादक आहें निकल रही थीं- ऊह उन्ह उँहा अई अहह!मैंने भी उनको कई जगह लव बाईट दिए. दोनों स्तनों के ऊपर बहुत ही सुन्दर भूरे रंग के निप्पल और उनके चारों ओर हल्के भूरे रंग का गोल एरोला, उसकी सुंदरता में चार चाँद लगा रहे थे.

अपनी पूरी ताकत लगा कर एक ही धक्के में मैंने समूचा लंड उसकी बुर में घुसा दिया. बीच में मुझे यह अहसास भी हुआ कि खिड़की के पास कोई खड़ा है लेकिन रागिनी की चुदाई के नशे में मैंने उधर ध्यान ही नहीं दिया. फिर कुणाल का पानी निकलने वाला था तो उसने लंड निकाल कर पानी बेड पर ही गिरा दिया पर स्नेहा की गांड अभी भी बज रही थी.

तुम्हें भी मजा लेने का पूरा हक है … पर कैसे लोगी, कोई लड़का है तुम्हारी नजर में?मेरी Xxx वाइफ की बात सही थी.

लेकिन मैं ठहरा फट्टू, बस सोच सोच कर जीवन गुज़ारने वाला सिड़ी लंड टाइप का लौंडा. जैसा कि आपको पता ही है मेरा लंड औसत मर्दों से थोड़ा सा मोटा है, तो शुरू में थोड़ा सा फंस कर अन्दर गया.

उधर पहुँच कर मैंने सुहानी को मैसेज किया कि मैं तुम्हारे घर पर आने वाला हूँ. कल रात से ही मैं पोर्न वीडियो देख रहा हूँ और तुम्हें चोदने के नए नए तरीके सीख रहा था. अगर आप लोग चाहेंगे, तो मैं आगे भी उन दोनों के साथ हुई चुदाई की कहानी आगे भी लिखता रहूँगा.

उसने धक्का लगाया तो चूत गीली होने से उसके लंड का सुपारा मेरी चूत में आसानी से घुस गया. लड़के का नाम पॉल था और लड़की का नाम रीना, दोनों पिछले चार साल से शादीशुदा थे और केरल के एक बड़े शहर के निवासी थे. मगर मेरे भी जिस्म में आग है, अब मैं इसे कैसे बुझाऊं, इसलिए ये सब करती हूँ.

मुंबई की बीएफ पिक्चर कुतिया बन पीटर को वीडियो भेजनी है हमारी जबरदस्त चुदाई की!मैंने हिम्मत की ओर जमीन पर कुतिया बन गई. मैं बोला- बुआ कुछ बोलेंगी तो नहीं?वो बोली- नहीं, मैं उनसे बात कर लूंगी.

सेक्सी ब्लू फिल्म हिंदी में दिखाएं

पिंकू धीरे-धीरे सिसकारियां लेती हुई झड़ गई।यह सब नजारा देख कर मैं धन्य हो गया।पिंकू नहा के बाहर आने वाली थी इसलिए मैं वहां से चला गया. उस समय पापा अलग बिस्तर पर सोते थे और मैं और मम्मी अलग बेड पर सोते थे. ये सब सोच कर मेरे अन्दर एक अजीब सी सिरहन दौड़ गई और मैंने आने वाले कल के लिए खुद को तैयार कर लिया.

कुतिया बन पीटर को वीडियो भेजनी है हमारी जबरदस्त चुदाई की!मैंने हिम्मत की ओर जमीन पर कुतिया बन गई. रूमी- भाई, मैंने पहले कभी सेक्स नहीं किया है … तो प्लीज़ आराम से करना. सेक्सी+सेक्सीतभी मेरी मम्मी ने मुझको पुकारा तो हम दोनों को होश आया और हम दोनों ने जल्दी जल्दी कपड़े ठीक किए.

मैं सहम गया और दूसरी तरफ करवट लेने लगा कि तभी भाभी मेरे ऊपर चढ़ गईं और उन्होंने अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिए.

BDSM लॉन्ग सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मेरे चौथे आशिक ने अपना एक चोदू गुलाम मेरी चूत की धज्जियां उड़ाने के लिए भेजा. इतने दिन में उसके लण्ड को ऊपर से मसलते हुए मुझे यह तो पता चल चुका था कि उसका लण्ड मेरे लण्ड से छोटा है।पहले तो उसने मना किया लेकिन कुछ देर बहस करने के बाद मैंने कहा- या तो मैं उसके लण्ड और गांड को देखूंगा या वह मेरा लण्ड चूस देगा वरना आज उसको घर नहीं जाने दूंगा।वह कुछ देर सोचता रहा, फिर बोला- ठीक है भैया.

मुझे इस बात का थोड़ा सा भी गम हो रहा था कि अब से पहले मैंने इनसे फायदा क्यों नहीं लिया. मैंने ध्यान से देखा तो मनु के पैरों के बीच जींस में से धीरे धीरे पानी झलक रहा था. तेज तेज 5-6 पिचकारियां छोड़ते हुए मैंने अपना वीर्य उसकी चूत में भर दिया और उसके ऊपर ही ढेर हो गया.

अब फ़ज़लू मियां शीरीं के अलावा किसी और की तरफ देखने की इच्छा भी नहीं करता क्योंकि जब घर में गोश्त मिल जाए तो बाहर की दाल सब्जी किसको पसंद आएगी.

ऐसे ही बातों बातों में भाभी ने मेरी शादी की बात को छेड़ दिया और मुझसे पूछने लगीं- राजीव, सच सच बताओ, तुम हर रिश्ते के लिए मना क्यों कर रहे हो? कोई और लड़की पसंद है क्या? अगर कोई पसंद है तो बताओ, उसके घर वालों से बात की जाए. उसने कहा- मेरी ये पैंटी तुम्हारे घर में क्या कर रही थी?मैंने कहा- मुझे क्या पता बुआ जी?उसने कहा- ज्यादा बनो मत, तुम मुझे चोदना चाहते हो?मैंने उससे कहा- ऐसा नहीं है. मेरे घर वालों ने मुझे काफ़ी बार समझाया कि मैं वर्णिका के साथ ना रहूँ, पर मुझे किसी की कोई बात समझ नहीं आती थी.

सेक्सी वीडियो भेजिए सरउस समय मेरे चूचे नींबू के साइज़ के थे लेकिन आज तो मेरे मम्मे अच्छे ख़ासे बड़े हो गए हैं. उनके घर में इन्द्रेश अंकल, रूचिका आंटी के अलावा उनकी बहू रुखसार भी थी.

सेक्सी वीडियो देहाती चोदा चोदी

भाभी से सहन नहीं हुआ और वह रोने लगी, मुझसे लंड बाहर निकालने को बोलने लगी. ऐसा कहकर नीता ने अपनी गांड मेरे लंड पर दबाए रखी और उस दौरान मैं उसके स्तन मसलता रहा था. वो एक हाथ से मेरे सिर को पकड़ कर किस कर रहा था और अपना कमर वाला हाथ धीरे धीरे टी-शर्ट के अन्दर ऊपर उठाने लगा था.

मैं भी अपने आप पर क़ाबू ना रखते हुए रीना का मुँह मेरे लौड़े से जोर जोर से चोदने लगा. कुछ ही समय बाद उनका पानी निकलने को हुआ तो उन्होंने अपने हाथ में वीर्य लेकर थोड़ा मेरे होंठों में लगा दिया और बाकी बचा मेरी सीलपैक बुर के बाहर मल दिया. कभी उसकी चूत में अपनी पूरी जीभ अन्दर तक डाल कर घुमाता, तो कभी उसकी चूत की फांकों को मुँह में लेकर चूसता.

उसका लंड एकदम से हाथी की सूंड की तरह ऊपर नीचे झूलते हुए मेरे सामने खड़ा था. वैसे तू बुरा मत मानना, एक दिन चिंटू के लंड पर मेरी नज़र पड़ गयी थी, बाप रे बाप कितना लंबा मोटा और टाइट है. लाल रंग की ब्रा पैंटी में वो क्या मस्त कांटा माल लग रही थी, मेरा लंड हिनहिनाने लगा था.

अब आगे Xxx फर्स्ट ऐनल सेक्स कहानी:तीसरे दिन भी मैं देर तक सोता रहा. उससे रहा नहीं गया तो उसने अपने एक हाथ से नाईटी के ऊपर से ही अपनी चूत को रगड़ना शुरू कर दिया.

बातों बातों में मैंने उनकी और उन दोनों ने मेरी सारी जानकारी ले ली क्यूंकि ऐसे मिलन में कई बार जोख़िम भी उठानी पड़ सकती है और इसी लिए हमारी तरफ से बड़ी सावधानी रखी गयी.

मैंने पीछे से उसके बाल पकड़े और उसकी चूत में लंड घुसा कर उसे चोदने लगा. sakila செக்ஸ்और अगर तुम कुछ ज्यादा नाटक करना चाहती हो तो हम तीनों के पास तुम्हारी अभी के कार्यक्रम की वीडियो तो है ही. देसी हिंदी सेक्सी भाभीमैं किसी नशे में उन्मत्त सांड की तरह अपने लंड को मां की गांड में पेलता रहा. दोस्तो, मैं शाश्वत सिंह आप सभी का अपनी सेक्स कहानी में स्वागत करता हूं.

वो मेरा मोटा लंड देख कर घबरा गई और बोली- ये इतना बड़ा … मेरे अन्दर कैसे जाएगा.

मैंने मुस्कुरा कर उसे आंख मारी और उसके लंड को एक बार अच्छे से मुँह में अन्दर भर लिया. नौकरी ढूंढते हुए मुझे करीब 15-20 दिन हो गए थे पर अभी तक मुझे कोई नौकरी मिल ही नहीं रही थी. मूवी शुरू हुयी और जैसे ही अंधेरा हुआ, मैंने रीमा को पकड़ कर उसके गालों को किस कर लिया.

कुछ देर तक चोदने के बाद पिंकू और गर्म हो गई और मुझे नीचे करके खुद ऊपर आ गई।अब पिंकू अपनी गदराई गांड जोर-जोर से उठा उठा कर पटकने में लगी, पिंकू धीरे धीरे आहें भर रही थी।मेरे दोनों हाथ पिंकू की मखमली पीठ और गांड पर घुमने लगे. फिर अमित मेरे बदन के ऊपर बैठ गया और तब जाकर राकेश ने अपनी अपने लौड़े को एक ही झटके में मेरी चूत के अन्दर इस तरह घुसाया कि मैं उन दोनों के लंड को लेकर फिर से एक बार बेहोश हो गई. मैंने झट से कहा- अरे आप रहने दीजिए, मैं खुद जाकर उनको बुला ले आता हूँ.

मालकिन और नौकर का सेक्सी वीडियो

मैंने कहा- आज कहां मेरी याद आ गई?वो हंस कर बोली- क्यों, तेरी याद क्या मुझे रोज आनी चाहिए!मैंने कहा- क्यों रोज याद कर लेगी तो तेरा कुछ घिस जाएगा. अपनी ढीली ढाली साड़ी में ऑन्टी अपने चिरपरिचित अंदाज़ में घर के अंदर दाखिल हुईं।ऑन्टी ने थोड़ी देर अपने पति देव से बात करके फोन रख दिया. रीना को जब इस बात का पता चला, तब वो घबरा गयी थी पर घरवालों के मान-सम्मान के बारे में सोचते हुए उसने पॉल के साथ समझौता कर लिया था.

मैं वो सब नजरअंदाज करते हुए लगा रहा, धीरे-धीरे मैं उसकी गांड मारता रहा.

कुछ देर में मैं झड़ गयी, मेरी चूत का सारा पानी सर ने पी लिया और चाट कर चूत साफ़ कर दी.

भाभी- क्यों मैंने ऐसे क्या देख लिया?मैंने लंड से हाथ हटाया और कहा- क्या देख रही थी, तुम ही बताओ भौजी?उसने कहा- मैंने तो आपकी बॉडी को देखा था. मैंने हंस दिया और कहा- क्या हरामीपन देख लिया भौजी?वो हंसी और उसने अपनी चूचियां हिला कर मुझे इशारा दिया कि कल क्या ताड़ रहे थे देवर जी?मैंने कहा- अब ताड़ने वाली चीज को ही न ताड़ूंगा भौजी तो किस काम की मर्दानगी?भाभी हंस दी और बोली- बड़े मर्द बने फिरते हो … कैसे मानूँ कि असली मर्द हो?मैंने कहा- मर्द को समझने के लिए तो औरत को ही खुलना पड़ता है भौजी. मेहरारू चाही सुंदरवैसे तू बुरा मत मानना, एक दिन चिंटू के लंड पर मेरी नज़र पड़ गयी थी, बाप रे बाप कितना लंबा मोटा और टाइट है.

वह एकदम मस्त जवान और मस्त मस्त चूचियों वाली है। मैंने उसे रात भर चोदा। फिर मैं उसके साथ नंगे नंगे ही सो गया. मैंने वापिस बताया कि मैं कभी किसी एक का होकर नहीं रहा, वैसे भी मुझे नई नई लड़कियां पंसद हैं. GF BF Xxx कहानी में पढ़ें कि एक बार कुंवारी चूत चुद गयी, उसने लंड का मजा ले लिया तो हम अकसर 8-10 दिन में जुगाड़ करके चुदाई कर लेते.

बुआ चिल्लाने लगी- उईईई ऊई ईईई ऊईईई मर गई राज … निकाल मुझे दर्द हो रहा है. मैं तो वैसे ही मादरजात नंगी खड़ी थी, तो मुझे अब कुछ शर्म नाम की चीज ही नहीं बची थी.

मैं थोड़ी देर में उसके कमरे में गया और उससे कहा- तुम मैं और अंकित हम तीनों लोग मिलकर सेक्स करेंगे.

उसने एक रेस्टोरेंट के आगे उतारा और कहा कि सर यह अच्छा है और दाम भी ठीक हैं. पर ऐसी हालत में उसका लंड अन्दर घुसा था कि मेरे मुँह से पूरी तरह से चीख निकल गई थी. मैंने कहा- रुको विपिन, हमें यहीं रुक जाना चाहिए, मत भूलो मैं तुम्हारी बहन हूँ.

हिंदी सेक्सी जीजा साली की मैंने उस मिडी पर बेडशीट को उठाकर ठीक से ओढ़ लिया और बोली- चलो शुक्र है, ऐसे मैं घर जा सकती हूं. भाभी- फिर क्यों हर रिश्ते को मना कर रहे हो?मैं- सच कहूं भाभी? आप किसी से कहोगी तो नहीं ना?मैं थोड़ा गंभीर होते हुए बोला.

रूमी बोली- रुको यार, तुमने मुझको पूरी नंगी कर दिया, अब मैं भी तो तुमको नंगा करूंगी. इस Xxx हिंदी में चुदाई कहानी में एक चालू औरत, जिसे हर रोज लंड चाहिए, की बेटियाँ जवान हुई तो उसने अपनी बेटियों को भी लंड का मजा दिलाया. ऐसा कहकर नीता ने अपनी गांड मेरे लंड पर दबाए रखी और उस दौरान मैं उसके स्तन मसलता रहा था.

सनी लियोन एचडी पोर्न वीडियो

मैंने भी अपनी कमर हिलाना शुरू कर दिया, पहले धीरे धीरे … फिर स्पीड बढ़ा दिया. उसने अपनी एक उंगली मेरी चूत के ऊपर रख दी और उसे चूत के दोनों होंठों के बीच घुमाने लगा. मेरे बॉस ने मुझे कुछ दिन दिए और कहा- दो चार दिन में सोच कर बता देना.

मैंने अपनी एक उंगली उसकी चूत में डाल दी तो वो थोड़ी उचक गई और कहने लगी- मैं वर्जिन हूँ, थोड़ा आराम से करो जानू!थोड़ी देर उंगली करने के बाद उसका पानी निकल गया क्योंकि वो काफ़ी गर्म हो रही थी. उनके जाने के दो दिन बाद मेरे घर का पाइप टूट गया, मेरे पूरे बाथरूम से पानी बाहर निकलने लगा.

दस पन्द्रह मिनट के बाद मेरा भी वीर्य निकलने वाला था और मैंने आखिरी झटके के सतह ही लंड चूत से बाहर निकाल लिया और सारा वीर्य उसकी चूत के ऊपर खाली कर दिया.

कुछ देर किस करने के बाद मैं उसे बेड पर सीधा लिटा कर सीधे उसकी चूत चाटने लगा।पिंकू की प्यारी चूत एक फूल की तरह थी जिसमें गुलाबी पंखुड़ियां दिखाई दे रही थी, अब पिंकू भी गर्म होने लगी और अपने हाथों से मेरे सर को दबाने लगी।मुझे उसकी चूत चाटने में बहुत मजा आ रहा था. उसी समय उसने मेरी आधी लटकी ब्रा को उतार दिया और मेरे मम्मों को जोर जोर से दबाने लगा. जिसे देख कर मैं बोली- पापा, आपका तो खड़ा हो गया है?पापा बोले- हां बेटी, तेरी गांड बहुत मस्त है न, इसलिए.

धीरे धीरे मुझे समझ आ गया कि विपिन कभी कभी मुझे देखता रहता था और जब वापस उसे देखती, तो नजर इधर उधर कर लेता था. जब भी मैं ज्यादा चुद लेती या ग्रुप सेक्स करती, तो मैं बाथटब में ही रिलेक्स करती थी. चाची को बच्चे होने के बाद वो सिर्फ मुझे अपना दूध पिलाती हैं, चुदाई नहीं करने देतीं.

एक हाथ से मैंने उसका चूचा पकड़ लिया और दूसरे हाथ की उंगलियों से जोर जोर से उसकी चूत चोदने लगा.

मुंबई की बीएफ पिक्चर: अब आप देसी माल लड़की Xxx कहानी में आगे पढ़िए कि किस तरह से मुझे एक मौका मिल गया, जिससे लच्छो को मैंने चोद लिया और वो मुझे हर तरह का सुख देने लगी. जैसे ही उनका मुँह मेरी बुर के कुछ करीब पहुंचा और उनके मुँह की गर्म भाप मेरी बुर पर पड़ी, मेरी बुर ने एक धारदार पानी की पिचकारी निकाल दी.

किरण- जी मालिक, चोदो मुझे मेरी बेटी के सामने … मेरी रंडी बेटी की तरह अब मुझे भी चोद दो … घुसा दो अपना लौड़ा मेरी भोसड़ी में. शाम को मैंने अपने भाई से कहा- मैं अपने दोस्त के गांव उसे मिलने जा रहा हूँ. लेकिन मेरी आवाजें बंद नहीं हुईं- आ आह अह पूरा चला गया बाबू पूरा चला गया बस छोड़ो … अब रहने दो.

चूंकि उसने अपने लंड में तेल लगाया था इसलिए गांड में आसानी से लंड चला गया.

मेरा लौड़ा समझ गया था कि अब ज्योति पूरी तरह से चरम सुख में डूब गई है. फिर थोड़ी देर बाद सब सामान्य हुआ तो विपिन ने बोला- कोई बात नहीं, आप चारपाई पर बैठो. अंकल जो कुछ भी मेरे साथ कर रहे थे, वह मेरे अन्दर की लड़की को शायद जगाता जा रहा था.